दुबई से अपने परिवार को छोड़कर भागी महिला को यूरोपीय देश ने नहीं दी शरण मदद के लिए लगाई गुहार

2019-02-12T06:20:55+05:30

दुबई से अपने परिवार को छोड़कर भागी एक महिला को यूरोपीय देश मेसेडोनिया में शरण नहीं मिली। अब उसने मदद के लिए गुहार लगाई है।

स्कोपजे (आइएएनएस)। दुबई में अपने परिवार से बचकर भागी 42 वर्षीय महिला 'हिंद मुहम्मद अलबोलूकी' को यूरोपीय देश मेसेडोनिया की सरकार ने शरण देने से मना कर दिया है। मेसेडोनिया में शरण के उनके अनुरोध को चार फरवरी को देश के गृह मंत्रालय ने यह कहते हुए खारिज कर दिया कि उनके साथ नस्ल, धर्म, देश या राजनीतिक विचारधारा के आधार पर हुई किसी प्रकार की हिंसा का सबूत नहीं है। चार बच्चों की मां अलबोलूकी ने अब लोगों से मदद की गुहार लगाई है। सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट कर अलबोलूकी ने बताया है कि पति से तलाक मांगने पर घरवालों ने उन्हें धमकाया, जिसके चलते वो घर छोड़कर भाग गईं। अलबोलूकी को डर है कि उन्हें वापस संयुक्त अरब अमीरात भेज दिया जाएगा। वह इस वक्त आव्रजन विभाग की हिरासत में हैं।

उनके दोस्त ने बताई आपबीती

मेसेडोनिया में रहने वाले अलबोलूकी के दोस्त नेनाद देमोत्रेव ने सीएनएन को बताया कि वह उनसे एक क्रूज जहाज पर मिले थे और तब से उनके साथ संपर्क में हैं। उन्होंने कहा कि अलबोलूकी 2 अक्टूबर को शौचालय जाने के बहाने अपने परिवार को छोड़कर भागी थी। भागने के वक्त उन्होंने चप्पल तक नहीं पहनी थी। दुबई से वह बहरीन, तुर्की और सर्बिया होते हुए यहां पहुंचीं। उन्होंने दो हफ्ते बाद यूरोपीय देश मेसेडोनिया में शरण के लिए आवेदन दिया। बता दें कि इससे पहले दुबई के शासक शेख मुहम्मद बिन राशिद अल मकतूम की बेटी शेख लतीफा भी अपने परिवार से बचकर भागने की कोशिश कर चुकी हैं।

नाबालिग माॅडल से छेड़छाड़ पर मीका हुए थे गिरफ्तार, अब अदालत में हो सकते हैं पेश


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.