कुंभ सत्यापन में जुटा रहे हर बाहरी की कुंडली

2019-02-07T06:01:43+05:30

कुंभ मेला के मद्देनजर सत्यापन कार्य के लिए लगाई गई आठ टीमें, यमुनापार के नैनी से शुरू हुआ प्रथम चरण में सत्यापन का कार्य

mukesh.chaturvedi@inext.co.in

ALLAHABAD: जिले में संदिग्ध व्यक्तियों की खोज पुलिस ने शुरू कर दी है। चरणबद्ध शुरू किए गए इस काम में कुल आठ टीमें लगाई गई हैं। प्रथम चरण की शुरुआत यमुनापार नैनी से की है। नैनी ने में घर- घर पुलिस ने दस्तक देना शुरू कर दिया है। टीम यहां किराए पर रहने वालों का बायोडाटा कलेक्ट कर रही है। उनके आधार कार्ड भी लिए जा रहे हैं। ऐसा कुंभ मेला में सुरक्षा के मद्देनजर किया जा रहा है। शायद यही वजह है कि विभाग ने इस अभियान का नाम कुंभ सत्यापन रखा है.

मेला के पहले पूरा होगा काम

अभियान में लगाई गई टीमें रिपोर्ट थाने पर देंगी। पूरी सूचना कलेक्ट करने के बाद थानेदार सूची शीर्ष अफसरों को भेजेंगे। इस सूची में संदिग्ध मिले लोगों का ब्योरा और संदिग्धता की वजह भी अंकित होगी। इसके आधार पर अधिकारी संबंधित व्यक्ति के जनपद में उसके थाने को वेरीफिकेशन के लिए पत्र भेजेंगे। वहां से संबंधित व्यक्ति का आपराधिक रिकार्ड मिला तो सबसे पहले क्षेत्र में उसी से पुलिस पूछताछ भी करेगी। यहां किराए पर रहने की वजह और काम के बारे में भी लोगों को टीम से बताना होगा।

बाक्स

मकान मालिक पर भी कसेगा शिकंजा

किराएदार का इतिहास भूगोल जाने बगैर मुंहमांगी रकम पर अपने यहां रखने वाले मकान मालिकों की भी अब खैर नहीं हैं। कुंभ मेला के मद्देनजर सुरक्षा का चक्रव्यूह तैयार करने में जुटी पुलिस की नजर ऐसे मकान मालिकों पर भी है। अफसरों का कहना है कि किराएदारों के बारे में मकान मालिक से भी सवाल जवाब किए जाएंगे। किराएदार का पूरा पता और उनके काम धंधे की जानकारी नहीं होगी उन मकान मालिकों पर भी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस का मानना है कि बगैर जाने समझे किराए लोगों को अपने यहां किराए पर रखने वाले लोग कुंभ में खतरा बन सकते हैं.

बाक्स

सत्यापन की पूरी प्रक्रिया

सत्यापन के लिए बनाई गई आठ टीम का नेतृत्व इंस्पेक्टर कर रहे हैं

हर टीम में एनजीओ के पांच- पांच सदस्य लगाए गए हैं। जो घर- घर जाएंगे

प्रत्येक टीम में दो महिलाएं भी शामिल की गई हैं ताकि वे महिला से बात कर सकें.

सामाजिक कार्यकर्ताओं और निर्विवाद व्यक्तियों का भी सहयोग लिया जा रहा है.

पहले चरण में नैनी में यह अभियान शुरू हो गया है। टीमें घर- घर जा कर लोगों के बारे में पता लगा रही हैं। अभी तक कोई संदिग्ध व्यक्ति नहीं मिला है। फिर भी कुंभ मेला के मद्देनजर इस अभियान में पूरी सतर्कता बरती जा रही है.

दीपेंद्र नाथ चौधरी

अपर पुलिस अधीक्षक यमुनापार

inextlive from Allahabad News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.