बिजली चोरों की बत्ती गुल करेगा विद्युत विभाग

2019-05-14T06:00:55+05:30

10 केवीए से अधिक के कम खपत वाले उपभोक्ता होंगे चिंहित

MEERUT। पीवीवीएनएल ने बिजली चोरों पर लगाम कसने के लिए अब 10 किलोवाट से अधिक के कनेक्शन के बावजूद कम खपत करने वाले उपभोक्ताओं को चिंहित कर चेकिंग करना शुरू कर दिया है। इस अभियान में 25 किलोवाट से अधिक वाले उपभोक्ताओं की मीटर की एमआरआई कर बिजली चोरी रोकने के लिए एचवी ऑडिट सेल को अलर्ट कर दिया है। टीम ने मीटर गुणांक, डबल मीटरिंग, टैंपर रिपोर्ट और लोड फैक्टर के आधार पर कार्यवाही शुरू की है।

फैक्ट्स

डिस्कॉम के तहत 1 अप्रैल से 13 मई तक 14 से अधिक जनपदों में प्रवर्तन दल का ताबडतोड़ छापेमारी अभियान जारी।

पीवीवीएनएल के तहत विभागीय प्रवर्तन दल ने कुल 87152 कनेक्शन किए चेक।

चेकिंग में 57046 प्रकरणों में मिली बिजली चोरी।

21088 प्रकरणों में एफआईआर दर्ज कर करीब 6109.40 लाख रूपये की हुई राजस्व वसूली।

अभियान के तहत मेरठ क्षेत्र में 11852 छापे डाले गए।

छापेमारी में 7335 प्रकरणों में पकड़ी बिजली चोरी।

बिजली चोरी के 3820 मामलों में एफआईआर दर्ज कर करीब 812.59 लाख रूपये की हुई राजस्व वसूली।

बिजली के अनाधिकृत प्रयोग पर विभाग द्वारा छापेमारी का अभियान चलाया जा रहा है इसलिए बिजली के अनाधिकृत उपयोग से बचना जरुरी है। जो उपभोक्ता स्वीकृत लोड से अधिक बिजली का चोरी-छिपे उपयोग कर रहे हैं, उन पर जल्द एक्शन लिया जाएगा।

आशुतोष निरंजन, एमडी पावर

inextlive from Meerut News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.