करप्शन का अंधेरा कायम है!

2019-05-20T06:00:56+05:30

- करंट ट्रांसफार्मर फटने के बाद अब एबी केबल जलना हुई शुरू, छह महीने भी नहीं चल पा रही केबल

-खरीद में भ्रष्टाचार से दो महीने में ही इंसुलेशन हो रहा डैमेज, सीपीआरआई से होगी मामले की जांच

KANPUR: गर्मी शुरू होते ही कानपुराइट्स को जबरदस्त गर्मी का सामना करना पड़ रहा है। हालत ये है कि केवल दिन में ही लोगों को बिजली संकट से नहीं जूझना पड़ रहा है। बल्कि रात भी अंधेरे में काटनी पड़ रही है। इसकी एक वजह बिजली के सामानों की खरीद में करप्शन का शामिल होना है। शायद यही वजह है कि लाइट जलने की बजाय केस्को की हाईटेंशन एबीसी जलती जा रही है। पांच डिवीजनों में अभी तक एक किलोमीटर से ज्यादा केबल जल चुकी है। वहीं केबल बॉक्स भी फटने का सिलसिला जारी है। जिसकी वजह से घंटों लोगों को पॉवर क्राइसिस का सामना करना पड़ रहा है।

खुद ऑफिसर लगा रहे सवालिया निशान

सेंट्रल गवर्नमेंट की इंटीग्रेटेड पॉवर डेवलपमेंट स्कीम के अंतर्गत केस्को का 468 करोड़ का प्रोजेक्ट भी पास हुआ था। ये प्रोजेक्ट कागजों पर तो पूरा हो चुका है पर सच्चाई ये है कि अभी भी इसपर काम किया जा रहा है। इसके गवाह हर रोज लिए जा रहे पॉवर शटडाउन हैं। इस प्रोजेक्ट के तहत लगभग 100 किलोमीटर एरियल बंच केबल भी बिछाई गई है। जो जयपुर की एक कम्पनी से खरीदी गई थी। पर इसमें 3 इनटू 95 एमएम एचटी एबीसी 6 महीने भी नहीं चल पाई। 2 महीने में एबीसी का इंसुलेशन उतरने लगता है। 6 महीने बीतते-बीतते जाजमऊ, विकास नगर, दादा नगर, सर्वोदय नगर, कल्याणपुर आदि डिवीजनों में एक किलोमीटर से अि1धक एचटी एबीसी जल गई।

जांच में खुला राज

छह महीने के भीतर एबीसी जलने से केस्को मुख्यालय ऑफिसर्स में अफरातफरी मची हुई है। उन्होंने केबल पर पॉवर सप्लाई लोड चेक कराया। जाजमऊ डिवीजन में केबल पर अधिक लोड 50 एम्पियर निकला। केस्को ऑफिसर्स के मुताबिक ये मानक से काफी कम है। वहीं विकास नगर, कल्याणपुर, सर्वोदय नगर डिवीजन में तो लोड केवल 25 एम्पियर ही निकला। वहीं डैमेज हुई दादा नगर डिवीजन में तो इससे भी कम केवल 20 एम्पियर लोड निकला। इससे केस्को ऑफिसर्स भी मानने लगे हैं कि केबल में गड़बड़ी है। केस्को ऑफिसर मनीष गुप्ता ने डैमेज रेट अधिक होने की वजह से केबल की क्वालिटी खराब होने की आशंका जताई है। उन्होंने एक्सईएन स्टोर सीएसबी अंबेडकर को केबल की जांच सेंट्रल पॉवर रिसर्च इंस्टीट्यूट लैब से कराने को कहा है।

केबल बिछाने के छह महीने में ही जली

डिवीजन-- केबल जली

जाजमऊ- 800 मीटर

सर्वोदय नगर- 70 मीटर

दादा नगर- 70 मीटर

विकास नगर- 80 मीटर

कल्याणपुर-- 70 मीटर

बॉक्स

करंट ट्रांसफॉर्मर डैमेज

इंटीग्रेटेड पॉवर डेवलप स्कीम के अंतर्गत एबीसी से पहले विभिन्न सबस्टेशंस में लगे 16 करंट ट्रांसफॉर्मर भी डैमेज हो चुके हैं। इनमें एक साल पहले ही चालू हुआ परमपुरवा सबस्टेशन भी शामिल है। जिसमें 4 करंट ट्रांसफॉर्मर डैमेज हो चुके हैं। इनकी वजह से कानपुराइट्स को जबरदस्त पॉवर क्राइसिस से जूझना पड़ा था। दैनिक जागरण आई नेक्स्ट के खुलासे के बाद अब करंट ट्रांसफॉर्मर बदलकर नए लगाए जा रहे हैं।

फट रहे केबल बॉक्स

-किदवई नगर डिवीजन के हॉर्समैन बाग सबस्टेशन का केबल बॉक्स फटा, 4 घंटे ठप रहा सबस्टेशन

--

inextlive from Kanpur News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.