इलेक्शन ट्रेनिंग में टीचर्स से ज्यादा एक्टिव बैंक एंप्लॉयज

2019-04-07T06:00:34+05:30

- लोकसभा चुनाव के प्रथम चरण के प्रशिक्षण में आखिरी दिन बैंक और बीएसएनएल एंप्लॉयज ने ली ट्रेनिंग

- निरीक्षण के लिए पहुंचे अफसरों के सभी सवालों का दिया जवाब

बरेली : डीएवी इंटर कॉलेज में सेटरडे को लोकसभा चुनाव के फ‌र्स्ट फेज की ट्रेनिंग खत्म हो गई। इलेक्शन में पीठासीन व मतदान अधिकारी प्रथम की जिम्मेदारी मिलने पर ज्यादातर बैंक व बीएसएनएल के कर्मचारी ट्रेनिंग के लिए पहुंचे। उन्होंने ट्रेनर की बातों को ध्यान से सुना, जिससे इलेक्शन के टाइम किसी भी तरह की गलती न हो। साथ ही निरीक्षण को पहुंचे अफसरों के सवालों का फटाफट जबाव दिया, जिस पर अफसरों ने उनकी हौसला अफजाई की। वहीं फ्राइडे को भी अफसरों ने निरीक्षण किया था, जिसमें टीचर्स अधिकारियों के सवालों के जवाब नहीं दे पाए थे।

ट्रेनिंग की हकीकत का लिया जायजा

सेटरडे को प्रशिक्षण की गुणवत्ता परखने के लिए प्रभारी उप निदेशक युवा कल्याण विवेक श्रीवास्तव व पीडी नेडा संजय सिंह कक्षों में पहुंचे। प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे बैंक और बीएसएन कर्मचारियों से चैलेंज, टेंडर वोट के बारे पूछा, जिसका संतोषजनक जवाब मिला। अफसराें ने पूछा कि यदि बैलेट लेकर मतदाता बिना वोट दिए वापस आएगा तो उस स्थिति में क्या करेंगे, जिस पर जवाब मिला कि उसके नाम के आगे मतदान से इंकार करने की बात लिखी जाएगी और दूसरे मतदाता को वोटिंग के लिए भेजा जाएगा। यह जवाब सुनकर अफसरों ने प्रसन्नता जताई। कहा कि शुक्रवार को अधिकांश शिक्षक व अन्य कर्मचारी पूछे गए सवालों का सही जवाब नहीं दे सके थे, लेकिन शनिवार को स्थिति उलट हैं। इसके लिए यह कर्मचारी बधाई के पात्र है। वहीं, सफाईकर्मियों की मनमानी भी प्रशिक्षण में देखी गई। अंतिम दिन मिली जिम्मेदारी उठाने से जी चुराते नजर आए, जिस पर एडीएम एफआर ने नाराजगी जताई। साथ ही उच्चाधिकारियों से शिकायत की बात भी कही है।

inextlive from Bareilly News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.