केवल वोट देने जाइए बाकी सब मोबाइल पर

2019-04-22T12:19:18+05:30

i special

-आधा दर्जन से अधिक एप्स चुनाव में कर रहे हैं वोटर्स की मदद

-वोटर लिस्ट में नाम सर्च करने से लेकर शिकायत करने और बूथ ढूंढने तक की मिल रही फैसिलिटी

vineet.tiwari@inext.co.in

PRAYAGRAJ: अब वह जमाना गया जब चुनाव में किसी भी काम के लिए तहसील या निर्वाचन कार्यालय के चक्कर काटने पड़ते थे। अब वोटिंग छोड़कर बाकी सुविधाएं ऑनलाइन अवेलेबल है्रं। बस मोबाइल फोन पर एप्स डाउनलोड करना है और इसके बाद एक क्लिक में पूरी जानकारी मुट्ठी में कैद हो जाती है। चुनाव आयोग की इस पहल से वोटर्स घर बैठे चुनाव आयोग की सभी सुविधाओं का फायदा उठा सकते हैं। आइए जानते हैं कि कौन सी ऐप दे रहा कौन सी फैसिलिटी

1. वोटर हेल्प लाइन

12 मई को मतदान है। अगर आप अपना नाम वोटर लिस्ट में सर्च करना चाहते हैं तो इस एप के जरिए आसानी से कर सकते हैं। मोबाइल में एप डाउनलोड करने के बाद स्टेप बाई स्टेप नाम सर्च करना है। एप में वोटर लिस्ट से जुड़ी अन्य बेसिक जानकारियां भी उपलब्ध हैं।

2. सी विजिल

प्रयागराज में नामांकन प्रक्रिया पूरी होने जा रही है। उम्मीदवार आमने-सामने आ चुके हैं। ऐसे में चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन के मामले भी होने के चांस हैं। आप घर बैठे चुनाव आयोग से इन शिकायतों को दर्ज करा सकते हैं। अगर कोई उम्मीदवार जबरन आपको परेशान कर रहा है या संहिता का उल्लंघन कर रहा है तो उसकी पिक या वीडियो बनाकर इस एप के जरिए भेज सकते हैं।

3. सुविधा कैंडिडेट

आयोग की ओर से सुविधा कैंडिडेट एप बनाया गया है। यह खासतौर पर प्रत्याशियों के लिए बनाया गया है। इसके जरिए कैंडिडेट ऑनलाइन व्हीकल परमिट या जुलूस की परमिशन ले सकेगा। उसे प्रशासन ऑफिस के चक्कर नहीं लगाने होंगे। इसे कैंडिडेट को मोबाइल में डाउनलोड करना होगा।

4.

पीडब्ल्यूडी एप

दिव्यांगों को इस चुनाव में सुविधा प्रदान करने के लिए चुनाव आयोग ने इस एप का निर्माण किया है। इसमें वोटर रजिस्ट्रेशन कराकर वोटिंग वाले दिन व्हीलचेयर आदि की सुविधा ले सकते हैं। अगर रिस्पांस नहीं मिल रहा तो कम्प्लेंट्स भी दर्ज कराई जा सकती हैं। इसके अलावा एप में तमाम सुविधाएं दी गई हैं।

5. एनकोर

यह मतदाताओं के लिहाज बेहतर एप साबित हो सकती है। यह रियल टाइम एप है। आप इसके जरिए चुनाव में चलाई जा रही तमाम एक्टिविटीज की जानकारी ले सकते हैं। अवेयरनेस से लेकर सीईओ डेस्क इंफॉर्मेशन तक एक क्लिक में सामने होगी। इसे भी गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है।

6. एम एक्स डेमोक्रेसी

एक आम वोटर को वोटिंग प्रॉसेस की जानकारी इस एप में उपलब्ध हो जाएगी। किस प्रकार वोट करना है और पहचान पत्र के रूप में कौन से डाक्यूमेंट मान्य हैं जैसी छोटी-छोटी जानकारी इस एप में मनोरंजक तरीके से उपलब्ध हैं। पारदर्शी वोटिंग प्रक्रिया को बढ़ावा देने के तरीके भी एप में मौजूद हैं।

7. वोटर टर्नआउट

आम नागरिक की सुविधा के लिए आयोग ने इस एप को लांच किया है। इसमें देश के किसी भी हिस्से में रियल टाइम वोटर्स की संख्या जान सकते हैं। इसके साथ ही मतदान के पहले और मतदान के बाद की स्थिति को इस एप के जरिए पता किया जा सकता है। यह जान जाएंगे कि कितने वोट पड़े।

आयोग के अलावा भी बनाई गई एप

इस चुनाव में केवल पब्लिक के लिए नहीं बल्कि ऑब्जर्वर्स और कैंडीडेट्स के लिए भी तमाम एप उपलब्ध हैं। इलेक्शन कमीशन ऑफ इंडिया के अलावा कई निजी क्षेत्र की संस्थाओं द्वारा कई एप बनाए गए हैं। इनके जरिए भी तमाम जानकारी हासिल की जा सकती है। इनकी डिमांड बहुत अधिक है। यूजर्स इनको मोबाइल पर डाउनलोड कर सुविधा का लाभ ले रहे हैं।

वर्जन

अधिक से अधिक लोगों को आसानी से चुनाव प्रक्रिया से रूबरू कराने के लिए आयोग ने तमाम एप लांच की हैं। इनसे केवल पब्लिक नहीं बल्कि प्रत्याशी और चुनाव अधिकारी भी लाभ ले सकते हैं। बशर्ते लोगों को इंटरनेट यूज को लेकर जागरुक होना होगा।

-केके बाजपेई, सहायक निर्वाचन अधिकारी प्रयागराज

inextlive from Allahabad News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.