फागुन का उन्माद बढ़ गई छेड़छाड़

2019-03-19T06:00:03+05:30

एडीजी जोन ने दिया सुरक्षा के व्यापक इंतजाम के निर्देश

24 घंटे अलर्ट मोड पर पुलिस, हर सूचना पर करेंगे अमल

GORAKHPUR: फागुन के उन्माद में छेड़छाड़ की घटनाएं बढ़ गई हैं। होली के बहाने एक दूसरे से हंसी- ठिठोल की आड़ में बदसलूकी की घटनाओं को पुलिस गंभीरता से लेगी। त्योहार की मौज- मस्ती के नाम पर किसी तरह की फूहड़ता भारी पड़ सकती है। होली के दौरान होने वाले विवादों से निपटने के लिए एडीजी दावा शेरपा ने पुलिस को 24 घंटे अलर्ट मोड में रहने के निर्देश दिए हैं। शांति सुरक्षा के लिए थानों और पुलिस चौकियों पर पीस कमेटी की मीटिंग की जा रही है। सोमवार को गोरखनाथ मंदिर के आसपास एरिया में पुलिस बल ने पैरामिलेट्री के साथ पेट्रोलिंग कर सुरक्षा का भरोसा दिलाया। ड्रोन कैमरों से हुड़दंगियों पर नजर रखने के लिए मॉक ड्रिल भी किया गया।

केस एक:

रास्ते में रोककर छेड़छाड़ किया, विरोध्ा पर पीटा

गुलरिहा एरिया के नाहरपुर में बाइक सवारों ने महिलाओं को देखकर अश्लील हरकतें की, जिसका विरोध करने पर मनबढ़ों ने एक दुकानदार को पीट दिया। घटना की सूचना पर पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी है। शनिवार रात महिलाएं धार्मिक कार्यक्रम में शामिल होने जा रही थीं। तभी रास्ते में मिले युवकों ने उनके साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी।

केस दो: रास्ता रोककर छत पर ले गए, रेप की कोशिश

पिपराइच एरिया में रविवार शाम दवा लेकर घर लौट रही किशोरी से मनबढ़ों ने अश्लील हरकतें की। किशोरी ने विरोध जताया तो युवकों ने उसे पीट दिया। आरोप है कि उसे छत से फेंककर जान लेने की कोशिश की। आरोपित युवकों की तलाश में पुलिस टीम जुटी है।

केस तीन: घर में सोई थी किशोरी, युवक ने की रेप की कोशिश

खजनी एरिया के एक मोहल्ले की किशोरी घर में अकेली सो रही थी। शनिवार रात उसके घुसे युवक ने अश्लील हरकत की। किशोरी के परिजनों के शोर मचाने पर वह फरार हो गया। कार्रवाई के लिए परिजनों ने एसएसपी से मिलकर घटना की जानकारी दी।

होली के बहाने, मचाते हुड़दंग

रंगों का त्योहार करीब आने पर हुड़दंगी सक्रिय हो जाते हैं। होली के बहाने कुछ लोग गलत हरकतें भी करने लगते हैं। हुड़दंगियों पर नजर रखने के लिए पुलिस की गश्त बढ़ाने को कहा गया है। होलिका दहन से लेकर होली खत्म होने तक बीट सिपाही अपने- अपने क्षेत्र में पुलिस मित्रों का सहयोग लेंगे। किसी तरह की सूचना मिलने पर तत्काल पहुंचकर घटना को अटेंड करेंगे। होलिका दहन के दौरान भी कुछ मनबढ़ किस्म के लोग अश्लील हरकते हैं। असामाजिक तत्वों द्वारा अश्लील गाना बजाकर फूहड़ता फैलाई जाती है। ऐसे लोगों को काबू करने के लिए पुलिस सख्ती से पेश आएगी। किसी को जबरन रंग लगाने की शिकायत पर पुलिस एक्शन ले सकती है।

फ्लैग मार्च निकालकर दिला रहे सुरक्षा का भरोसा

होली के त्योहार में कोई खलल न पहुंचे। इसके पहले से तैयारी कर ली गई है। दो कंपनी पैरामिलेट्री फोर्स के साथ थानों की पुलिस अपने- अपने क्षेत्र में गश्त कर रही है। विभिन्न मोहल्लों में फ्लैग मार्च निकालकर पुलिस अधिकारी लोगों से मिलकर सौहार्द बनाए रखने की अपील कर रहे हैं। सोमवार को गोरखनाथ मंदिर से सीओ प्रवीण सिंह के नेतृत्व में फ्लैग मार्च निकाला गया। ड्रोन कैमरों के जरिए विभिन्न मोहल्लों का जायजा पुलिस ने लिया। छत पर ईट जमा कर रखने की संभावना में पुलिस ने छतों का हाल जाना। गोरखनाथ मंदिर गेट के सामने लेबर तिराहा, बद्री आरा मशीन होते हुए रामनगर चौराहा, निबिअहवा टोला, जनप्रिय विहार कालोनी, जगेसर पासी चौक और रसूलपुर मोहल्ले सहित पूरे गोरखनाथ क्षेत्र में फ्लैग मार्च किया गया.

नेपाल बार्डर पर बढ़ाई गई सुरक्षा

होली को देखते हुए बार्डर पर पुलिस की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। एसएसबी के साथ मिलकर पुलिस बार्डर की निगरानी कर रही है। आतंकी संगठनों की धमकियों को देखते हुए सुरक्षा एजेंसियां मुस्तैद हो गई हैं। एडीजी ने बताया कि इस बार होली इसलिए खास है क्योंकि चुनाव की आचार संहिता लागू हो गई है। इसको देखते हुए हर तरह की गतिविधि पर नजर रखी जा रही है।

कोट्स

इस समय बसंत ऋतु चरम सीमा होता है। सूर्य की किरणों से बढ़ती हुई ऊर्जा भी इसका एक कारण होती है। इसी ऊर्जा की वजह से लोगों में उन्माद बढ़ता है। इसे सेल्फ मोटीवेशनल पॉवर से कंट्रोल करना चाहिए.

पंडित नरेंद्र उपाध्याय, ज्योर्तिविद़

होली के बहाने हुड़दंग मचाने वाले लोगों से पुलिस सख्ती से निपटेगी। माहौल खराब करने वालों को कतई बख्शा नहीं जाएगा। सभी लोग सौहार्दपूर्ण त्योहार मनाएं। जबरन किसी को रंग न लगाएं। त्योहार को देखते हुए नेपाल बार्डर पर भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

दावा शेरपा, एडीजी गोरखपुर जोन

inextlive from Gorakhpur News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.