शार्ट सर्किट से दुकान में आग लाखों का नुकसान

2018-09-22T11:54:31+05:30

- माया सिनेमा के बगल में हुई घटना

- शार्ट सर्किट से घटना की जताई आशंका

GORAKHPUR: राजघाट एरिया के गीता प्रेस रोड स्थित हनुमान साड़ी सेंटर में आग से लाखों रुपए के नुकसान का अनुमान है। शुक्रवार सुबह करीब साढ़े छह बजे दुकान से धुआं निकलने पर लोगों ने शोर मचाया। करीब चार घंटे की मशक्कत के बाद फायर ब्रिगेड की आधा दर्जन गाडि़यों ने आग को काबू कर सकी। शॉप ऑनर ने पुलिस को बताया कि दुकान के भीतर 50 रुपए का स्टॉक था। जबकि, करीब 40 लाख रुपए के फर्नीचर के नुकसान का अंदेशा जताया है। घटना के लिए व्यापारियों ने बिजली विभाग को जिम्मेदार ठहराया। आरोप लगाया कि शिकायत के बावजूद जर्जर पोल ठीक नहीं किए जा रहे हैं। बिजली के ढीले तारों को टाइट करने में लापरवाही की जाती है। इस एरिया में दुकानों के भीतर आग लगने की आधा दर्जन से अधिक घटनाएं पहले भी हो चुकी हैं।

तीन घंटे के बाद बुझ्ा सके आग

शाहपुर, एचएन सिंह चौराहा निवासी बैजनाथ अग्रवाल कपड़ों का थोक कारोबार करते हैं। उनकी फर्म माया सिने प्लेक्स के बगल में है। सामने ही एक अनय फर्म है। शुक्रवार करीब साढ़े छह बजे दुकान के भीतर धुआं उठने पर लोगों ने शोर मचाना शुरू कर दिया। किसी ने दुकान मालिक बैजनाथ अग्रवाल को मामले की जानकारी दी। दुकान में आग लगने की बात सुनकर ऑनर सहित कई लोग पहुंच गए। पुलिस और दमकल की गाडि़यां पहुंची। आग बुझाने के लिए कोई जगह न होने से काफी देर तक पानी का फौव्वारा नहीं भीतर नहीं पहुंच सका। शीशा तोड़कर पाइप को भीतर पहुंचाया गया। जेसीबी की मदद से आग बुझाने की प्रक्रिया शुरू हो सकी। करीब साढ़े तीन घंटे की मशक्त के बाद दमकल की गाडि़यां आग बुझा सकीं। इससे साढ़े 10 बजे तक अफरा- तफरी का माहौल बना रहा। पआशंका है कि शार्ट सर्किट से दुकान में आग लगी थी। उधर, घटना से व्यापारी काफी गुस्से में नजर आए। लोगों ने आरोप लगाया कि बिजली के बेतरतीब तारों की वजह से आए शार्ट सर्किट की घटनाएं होती हैं।

वर्जन

घटना की सूचना पर पुलिस पहुंची थी। दुकान के भीतर आग लगने से लाखों रुपए का नुकसान का अनुमान है। आग को काबू करके बड़ी घटना को टाल लिया गया। करीब साढ़े तीन घंटे में आग बुझाई जा सकी।

अनिल उपाध्याय, एसओ राजघाट

inextlive from Gorakhpur News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.