बीएड इंट्रेंस में किसान के बेटे की यूपी 10वीं रैंक

2019-05-30T10:01:22+05:30

टाॅपर बच्चे ने कहा शिक्षक बनकर बच्चों का भविष्य बेहतर बनाना है

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: सपना सच होता है तो इंसान की खुशी का ठिकाना नही होता। मूल रूप से सुल्तानपुर के रहने वाले कुलदीप वर्मा की यही कहानी है। जब उन्होंने प्रयागराज के गोविंदपुर में किराए पर कमरा लिया था तो सोचा भी नही था कि सफलता बड़े पैमाने पर हासिल होगी। कड़ी मेहनत और लगन का फल बुधवार को मिला जब यूपी बीएड इंट्रेंस का रिजल्ट घोषित किया गया। उन्होंने जनरल कैटेगिरी में प्रदेश में 10वीं रैंक हासिल की है।

बचपन से देखा था सपना
सुल्तानपुर के नारा मधईपुर के रहने वाले कुलदीप वर्मा के पिता ओम प्रकाश वर्मा किसान हैं। परिवार में पिता और माता सुनीता देवी के अलावा छोटी बहन भी है। सभी का सहारा कुलदीप ने बचपन से टीचर बनने का सपना देखा था। उनका कहना है कि देश का भविष्य तैयार करने का जिम्मा टीचर के कंधे पर होता है। यह सिर्फ नौकरी नहीं करता, वह मिशन पर काम करता है। उसकी सबसे बड़ी उपलब्धि यही है कि उसके पढ़ाए कितने बच्चे बड़ा मुकाम हासिल करते हैं।

दिक्कतों के सामने नहीं टेके घुटने
कुलदीप कहते हैं कि बढ़ती महंगाई का असर पढाई पर भी पड़ रहा है। जब तक आपके पास मोटी रकम नही है, किसी भी परीक्षा की तैयारी करना आसान नही होता। बुक्स से लेकर तमाम इंतजाम करने में पैसा लगता है। बावजूद इसके अगर कोई अपना नाम रौशन करता है तो इससे दूसरों को इंस्पायर होना चाहिए। मैंने भी किसी को देखकर सीखा है। सुविधाएं नही इंसान की लगन उसे सफल बनाती हैं।

नाम- कुलदीप वर्मा

पिता- ओमप्रकाश वर्मा

माता- सुनीता देवी

पता- नारा मधईपुर गांव सुल्तानपुर

स्नातक- सत्यनारायण द्विवेदी स्मारक महाविद्यालय सुल्तानपुर


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.