गजटेड ऑफिसर हैं छोड़ दीजिए

2019-04-10T06:00:42+05:30

i reality check

चेकिंग के दौरान हेलमेट न पहनने को लेकर पब्लिक ने बताया एक से बढ़कर एक अजब-गजब बहाना

dhruva.shankar@inext.co.in

PRAYAGRAJ:

समय दोपहर 12 बजे

स्थान लोक सेवा आयोग चौराहा

सोमवार को हुई जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में तय किया गया था कि नौ अप्रैल को सीट बेल्ट और हेलमेट की चेकिंग के लिए अभियान चलेगा। मिटिंग में लिए गए फैसले की हकीकत जानने के लिए दैनिक जागरण आई नेक्स्ट रिपोर्टर यहां पहुंचा था। यहां एआरटीओ प्रवर्तन रविकांत शुक्ला की अगुवाई में टीम के चार सिपाही बिना हेलमेट के उधर से गुजरने वालों को रोक रहे थे।

हम मदद करते हैं आप भी करें

टीम के सदस्यों ने बाइक पर सवार एक शख्स को रुकने का इशारा किया। चालक ने हेलमेट नहीं पहन रखा था। हेलमेट न पहनने पर चालान काटने की बारी आयी तो वह सज्जन बोल पड़े, भाई साहब हम गजटेड ऑफिसर हैं। हॉस्पिटल में बहुत मदद करते हैं आप लोगों की। छोड़ दीजिए हास्पिटल जाने में देर हो रही है। टीम ने इस तर्क को अनसुना कर दिया और सौ रुपए का चालान काट दिया गया। इस बीच चेकिंग देखकर तीन-तीन बाइक सवार अपनी गाड़ी मोड़कर भाग निकले।

देर हो रही इसलिए हेलमेट नहीं लगाया

आधा घंटे की चेकिंग के दौरान ऐसा-ऐसा बहाना पब्लिक ने बताया कि अधिकारी भी अपनी हंसी नहीं रोक पाए। रोके जाने पर एक शख्स ने कहा कि अरे मैं रेलवे कर्मचारी हूं। हावड़ा जोधपुर एक्सप्रेस लेकर जाना है। देर हो रही है इसलिए हेलमेट लगाना भूल गया हूं। दूसरे शख्स ने बताया कि कमांडेंट साहब के यहां खाना लेकर जा रहा हूं। इस पर सिपाहियों ने पूछा कि कौन कमांडेंट साहब तो उसने कहा कि ठीक है जो फाइन बन रहा है उसे लगा दीजिए।

दरोगा जी को लेने जा रहा हूं चौराहे पर वेट कर रहे हैं

ऐसे ही सिपाहियों ने एक और शख्स को रोका। बिना कुछ बोले ही उसने कहना शुरू कर दिया। स्टाफ का हूं। दरोगा साहब को आगे के चौराहे से लेना है वे मेरा इंतजार कर रहे हैं। एक शख्स रहा जिसे बिना हेलमेट दूसरी बार पकड़ा गया। एआरटीओ प्रवर्तन श्री शुक्ला ने उससे कहा कि तुम्हारा एक बार चालान कट गया है फिर भी हेलमेट नहीं लगाए हो। इस पर उस शख्स ने बताया कि बुआ को जल्दी घर छोड़ना था इसलिए हेलमेट लगाना भूल गया हूं।

महत्वपूर्ण तथ्य

एआरटीओ प्रवर्तन रविकांत शुक्ला, एआरटीओ सेकंड भूपेश गुप्ता व एआरटीओ थ र्ड सुरेश कुमार मौर्या की अलग-अलग टीमों ने सुबह दस बजे से लेकर दोपहर एक बजे तक सीट बेल्ट और हेलमेट की चेकिंग का अभियान चलाया।

232

लोगों का चालान हेलमेट न पहनने काटा गया

100

रुपये हेलमेट न लगाने वाले से जुर्माना वसूल किया गया

34

का चालान सीट बेल्ट बांधे बिना कार ड्राइव करने पर किया गया, इनसे भी 100 रुपये ही जुर्माना वसूला गया

26

ऐसे लोगों को भी पकड़ा गया जिनका हेलमेट ना पहनने पर पहले भी चालान काटा गया था।

225

रुपये दोबारा पकड़े जाने वालों से चालान शुल्क वसूल किया गया

सीट बेल्ट और हेलमेट न पहनने के खिलाफ चेकिंग के दौरान लोगों ने ऐसे-ऐसे बहाने बनाए कि हमें लगा कि उनको अपनी जिंदगी से प्यार नहीं है। इसलिए चालान काटते समय ऐसे लोगों को हेलमेट पहनने के लिए चेतावनी देने के साथ ही जागरूक भी किया गया।

रविकांत शुक्ला,

एआरटीओ प्रवर्तन

inextlive from Allahabad News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.