शोभायात्रा के साथ गणपति का विसर्जन

2018-09-20T06:00:16+05:30

- शहर में गणपति विसर्जन की धूम, समितियों ने देर शाम रामगंगा में किया प्रतिमा का विसर्जन

- मटकी फोड़ प्रतियोगिताओं में श्रद्धालुओं ने लिया बढ़चढ़ कर हिस्सा, हुए सम्मानित

>BAREILLY :

गणपति बप्पा मोरया, जय गणेश देवा, अगली बरस तू जल्दी आना व मंगल मूर्ति मोरिया के जयकारों से वेडनसडे को शहर गूंज उठा। मौका था, गणेश चतुर्थी पर पांडालों में स्थापित गणेश प्रतिमा विसर्जन का। श्रद्धालुओं में जमकर आस्था का संगम दिखाई दिया। मराठा बुलियन व अन्य गणेशोत्सव समितियों ने शोभायात्रा निकालकर देर रात रामगंगा पहुंचकर गणेश प्रतिमा का विसर्जन किया.

नाचते गाते झूमते िकया विसर्जन

मराठा बुलियन श्री गणेश महोत्सव समिति की शोभायात्रा में शहर के श्रद्धालुओं के साथ महाराष्ट्र से आए कलाकारों ने हिस्सा लिया। शोभायात्रा शुरू होने से पहले गणपति बप्पा की 11 बजे शुरू हुई महाआरती से पहले हवन हुआ, जिसके बाद महाआरती हुई। शोभायात्रा का शुभारंभ मुख्य अतिथि दिनेश दुबे, विशिष्ट अतिथि बिथरी विधायक पप्पू भरतौल ने रथ पर सवार गणपति बप्पा की आरती कर शोभायात्रा का शुभारंभ किया। जिस शुरुआत घी मंडी से होकर, शिवाजी मार्ग, कुतुबखाना, बड़ा बाजार, साहूकारा होते हुए किला फाटक से होते हुए रामगंगा रवाना हुई। इसमें शामिल सैकड़ों लोगों ने महाराष्ट्र से आए कलाकारों की परफॉर्मेस देखी। मराठी धुनों पर लोग झूमते नाचते रहे। विसर्जन के रास्ते में करीब सौ से ज्यादा जगहों पर मटकी फोड़ प्रतियोगिता हुई। जिसमें युवाओं ने बढ़चढ़ कर भागेदारी की। गणेश की विशाल प्रतिमाओं के साथ ही घरों से विसर्जन के लिए रामगंगा जाती हुई छोटी प्रतिमाएं आकर्षण का केंद्र बनी रहीं.

मराठा बैंड और कलाकारों की परफॉर्मेस

मराठा बुलियन एसोसिएशन के अध्यक्ष अनिल पाटिल और गणेश सावंत ने बताया कि गणेश विसर्जन के शुभ मौके पर महाराष्ट्र के सांगली से जय महाराष्ट्र लोकनृत्य पार्टी बुलाई थी। जिसमें 60 गोविन्दाओं और 20 कलाकारों ने शोभायात्रा में अपना हुनर दिखाया। मुख्य आकर्षण केन्द्र महाराष्ट्रीयन झांझ पदक ढोल, डीजे की धुन पर कलाकारों ने पारंपरिक नृत्य और पुष्पवर्षा से समां बांध दिया। इसके अलावा गणपति बप्पा मोरिया, अगले बरस तू जल्दी आना सरीखे गीतों पर कई झांकियां निकाली। जिसमें श्री गणेश परिवार, राधा कृष्ण व अन्य देवी देवताओं की झांकियां शामिल थीं। शोभायात्रा के दौरान दौरान विनर रही टीमों को सम्मानित भी किया गया। विसर्जन में गणेश महोत्सव समिति शाहदाना खंडेलवाल मंदिर, नया टोला श्री गणेश सेवा समिति बांसमंडी, श्री गणेश महोत्सव आयोजन समिति सुभाषनगर, श्री शिव शक्ति दुर्गाजी धाम मंदिर और कटरा चांद खां समेत करीब 14 समितियों ने विसर्जन किया।

inextlive from Bareilly News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.