एमफिल के लिए होगा कड़ा मुकाबला

2019-05-21T06:00:02+05:30

एमएड व एलएलएम की डिग्री के लिए अधिक रूचि दिखा रहे छात्र

सीसीएसयू व संबंधित कॉलेजों में एडमिशन के लिए हो रहा है एंट्रेंस।

MEERUT । सीसीएसयू व संबंधित कॉलेजों में एमफिल एवं एलएलएम सहित विभिन्न कोर्स में ऑनलाइन आवेदनों के बाद एंट्रेंस की तैयारी शुरु हो गई है। मास्टर इन फिजिकल एंड स्पो‌र्ट्स एमपीईएस में मात्र चार ही स्टूडेंट्स ने आवेदन किए हैं। जबकि कैम्पस में एमफिल में मात्र एक ही सीट पर 23 गुना स्टूडेंट्स के दावेदारी रहे है। वहीं बॉटनी, एलएलएम व एमएड कोर्स में भी एडमिशन की कड़ा मुकाबला होगा। क्योंकि इसबार इन कोर्स में ज्यादा क्रेज देखने को मिल रहा है। ऐसे में एमएड व एलएलएम में रुचि अधिक है ये संभावना जताई जा रही है।

ऑनलाइन आवेदनों की फीस जमा

हालांकि, ऑनलाइन आवेदनों के सापेक्ष फीस जमा करने वाले स्टूडेंट की संख्या लगभग आधी है। 46 फीसदी स्टूडेंट ने ऑनलाइन आवेदन तो किए, लेकिन फीस जमा नहीं की। यूनिवर्सिटी के अनुसार एमफिल, एलएलएम, बीएससी नर्सिग और एमएड सहित विभिन्न कोर्स 14 हजार 614 स्टूडेंट ले ऑनलाइन आवेदन किए है। इसमें से 8020 ने ही फीस जमा की है। इन स्टूडेंट्स को 20 मई तक कैम्पस में डीएसडब्ल्यू को स्पीड पोस्ट के जरिए भेजना है। यह संख्या सीटों की सापेक्ष बहुत ही कम है, एडेड व राजकीय सेल्फ फाइनेंस कॉलेजों में एमएड की करीब दो हजार सीटों के लिए 2186 आवेदन हुए है। कैम्पस में एमएड की 30 सीट पर 469 व बीएससी में 754 ने फीस जमा करते हुए प्रक्रिया पूरी की है। जबकि इस कोर्स में 1447 के रजिस्ट्रेशन कराए है। विवि के अनुसार रजिस्ट्रेशन व फीस जमा करते हुए अंतिम आवेदनों से ज्यादा अंतर होने में छात्रों की फीस जमा करने का मौका दिया जा सकता है।

कोर्सवार आवेदन

कोर्स आवेदन

एमएड कॉलेज 2185

एलएलएम 1970

बीपीएड 0833

बीएससी नर्सिग 0754

एमएड 469

एमपीएड 290

एमफिल एजुकेशन 237

बीपीईएस 240

एमफिल इंग्लिश 124

बीएससी फि। एजु हेल्थ 98

एमफिल गणित 94

एमफिल केमिस्ट्री 85

एमफिल जूलोजी 66

एमफिल हिंदी 62

एमफिल इतिहास 60

एमफिल समाजशास्त्र 55

एमफिल बॉटनी 47

एमफिल इकोनामिक्स 49

एमफिल फिजक्स 46

एमफिल जेनेटिक्स 32

एमफिल फिजिकल एजुकेशन 26

एमफिल जर्नलिज्म 18

एमफिल उर्दू 11

एमपीईएस 4

काफी आवेदन आए है, जून में इसका एग्जाम होगा, डेट भी जल्द ही तय हो जाएगी, जून के फ‌र्स्ट वीक में चांस है।

प्रो। वाई विमला, प्रोवीसी, सीसीएसयू

inextlive from Meerut News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.