हीट वेब का कहर घर से निकलें संभल कर

2019-05-11T06:01:11+05:30

रांची: राजधानी में हीट वेब का कहर जारी है। गर्म हवाओं के कारण सिटी में टेम्प्रेचर काफी बढ़ गया है। शुक्रवार को अधिकतर तापमान 42 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। इतना ही नहीं यूवी लेवल भी डेंजर जोन में जा पहुंचा है। इससे लोगों को सनबर्न होने का खतरा बढ़ गया है। इसे लेकर मौसम विभाग ने हीट वेब का अलर्ट भी जारी कर दिया है कि घर से निकलें तो संभलकर। हालांकि 14 मई को बारिश होने के भी संभावना जताई गई है।

सुबह से ही जला रहा सूरज

सुबह सात बजे से ही सूरज आसमान से आग बरसा रहा है। गर्मी के कारण जैसे-जैसे सूरज चढ़ रहा है वैसे ही गर्मी भी अपने रंग दिखा रही है। दोपहर बाद तो बाजारों में सन्नाटा पसर जा रहा है। वहीं इससे बचने के लिए लोग घरों में ही दुबके रह रहे हैं। देर शाम में घरों से बाहर निकलकर अपने दैनिक काम निपटा रहे हैं।

एक्सट्रीम लेवल पर पहुंचा यूवी

गर्म हवा के थपेड़े और झुलसाने वाली गर्मी के बीच सिटी का यूवी लेवल भी एक्सट्रीम लेवल पर पहुंच गया है। शुक्रवार को सिटी में यूवी का लेवल 12 रिकॉर्ड किया गया। वहीं अगले दो दिनों तक यूवी का लेवल 12 ही रहने की संभावना जताई गई है। ऐसे में ज्यादा देर तक सूर्य की रोशनी में रहना खतरनाक बीमारियों को दावत दे सकता है।

ओपीडी में 30 परसेंट बढ़े मरीज

लू और गर्मी की वजह से रिम्स में मरीजों की अचानक से बाढ़ आ गई है। डिहाइड्रेशन और लू की चपेट में आये मरीजों की संख्या ओपीडी में बढ़ गई है। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि आम दिनों की तुलना में इन दिनों 30 परसेंट तक मरीज बढ़ गए हैं। इनडोर में भी मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है। जहां मरीजों को स्लाइन और दवाएं दी जा रही हैं।

स्किन प्रॉब्लम का बढ़ा खतरा

चिलचिलाती गर्मी में धूप का असर भी लोगों की स्किन पर पड़ रहा है। 42 डिग्री टेंपरेचर से स्किन प्रॉब्लम होने का भी खतरा बढ़ गया है। यूवी के कहर को देखते हुए डॉक्टर लोगों को घरों में रहने की सलाह दे रहे हैं। इनका कहना है कि ज्यादा देर तक धूप में रहने से खतरनाक बीमारी भी अपनी चपेट में ले सकती है। इस समय जो लोग सनबर्न के शिकार हो रहे हैं उनका स्किन भी ब्लैक हो जा रहा है।

सनबर्न के ये हैं लक्षण

-सिर-पैर-हाथ की स्किन ड्राई

-ओपन स्किन का कलर चेंज

-स्किन पर लाल रंग के दाने

-स्किन पर तेज जलन का एहसास

inextlive from Ranchi News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.