आइआइटी और आइआइएम की तरह मिले एजुकेशन

2019-02-16T01:48:44+05:30

- आइएटीई के वार्षिकोत्सव पर आयोजित शिक्षक सम्मेलन में वक्ताओं ने रखे विचार

- पुरानी भारतीय शिक्षा प्रणाली को बताया बेहतर

- आइएटीई के वार्षिकोत्सव पर आयोजित शिक्षक सम्मेलन में वक्ताओं ने रखे विचार

- पुरानी भारतीय शिक्षा प्रणाली को बताया बेहतर

BAREILLYBAREILLY :

आरयू में इंडियन एसोसिएशन ऑफ टीचर एजुकेटर्स (आइएटीई) के वार्षिक सम्मेलन का फ्राइडे को शुभारंभ हुआ, जिसमें भारत में शिक्षक शिक्षा : एतिहासिक परिप्रेक्ष्य एवं माध्यमिक तथा प्राथमिक स्तर पर शिक्षक शिक्षा की समस्याएं विषय पर वक्ताओं ने विचार रखे। सीआइईटी दिल्ली के प्रो। डीआर गोयल ने आइआइटी एवं आइआइएम की तर्ज पर आइआइई (इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ एजुकेशन)स्थापित करने पर जोर दिया। मुख्य अतिथि कोटा मुक्त विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो। अशोक शर्मा ने मूल्य आधारित प्राचीन भारतीय शिक्षा को बेहतर बताया।

हुनर सिखाने वाली हो शिक्षा

आरयू वीसी प्रो.अनिल शुक्ल ने शिक्षा को प्रतिद्वंदी न होकर सहयोगी बनाने पर जोर दिया। शिक्षक व छात्रों में दूरी को समाप्त करने की बात कही। आइएटीई अध्यक्ष प्रो। रमेश ने शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रमों को शिक्षक प्रशिक्षण संस्थानों की बजाय दूसरे स्थानों पर कार्यान्वित करने पर प्रश्न उठाया.

पुस्तक का किया विमोचन

प्रो। आरएन मेहरोत्रा पर आधारित पुस्तक का विमोचन किया गया। पुस्तक के जरिए आइआइई, सरकारी व निजी स्कूलों में अंतर समाप्त करने, जन शिक्षा, सामान्य शिक्षा को सुदृढ़ बनने पर प्रकाश डाला.

ब्रेन बेस्ड लनिंर्ग पर जोर

प्रो। टीकेएन स्मृति पर इलाहाबाद विश्वविद्यालय के शिक्षा विभाग के अध्यक्ष प्रो। पीके साहू व मुख्या वक्ता प्रो। संजीव ने विचार व्यक्त किए। ज्ञान के आधारभूत प्रबंधन पर जोर देते हुए प्रदूषण मुक्त शिक्षा, सुक्ष्म शिक्षण, अधिगम परिवर्तन, ब्रेन बेस्ड लर्निंग निर्णयकारी शिक्षा की बात कही.

म्0 शोध पत्र प्रस्तुत किए

प्रो। एसके बावा, प्रो। मुठुमनिकम, प्रो। संजीव सोनवाने को शिक्षा क्षेत्र में योगदान पर सम्मानित किया। शोधार्थियों ने म्0 शोध पत्र प्रस्तुत किए। देशभर के क्ख् विश्वविद्यालय, ख्0 राज्यों से करीब ख्भ्0 प्रतिभागी सम्मेलन में शामिल हुए। निदेशक प्रो। एन एन पांडेय, संयोजक प्रो। बीआर कुकरेती, प्रो। नलिनी श्रीवास्तव, प्रो। काव्य दुबे, डॉ। सुमित्रा कुकरेती, प्रो। संतोष अरोरा, प्रो। संध्या गिहार, प्रो। केके चौधरी आदि रहे.

inextlive from Bareilly News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.