तड़तड़ा रहे इलिगल आ‌र्म्स पब्लिक की जा रही जान

2019-05-10T06:00:19+05:30

RANCHI:राजधानी रांची में अवैध हथियार आसानी से अवेलेबल हो रहा है। नतीजन, यूथ छोटी-छोटी बात में भी मर्डर जैसे जघन्य अपराध करने से जरा भी संकोच नहीं कर रहे। इसका ताजा उदाहरण बुधवार की रात हरमू के वीर कुंवर सिंह चौक पर देखने को मिला, जहां धमर्ेंद्र नामक युवक ने आपसी वाद-विवाद में बीच बचाव करने आए मो। अहबाब की गोली मार कर हत्या कर दी। शहर में इलीगल आम्स का आसानी से मिलना युवाओं को क्राइम की ओर भी उसी तेजी के साथ धकेल रहा है। वहीं, पुलिस की लाख कोशिशों के बाद भी अवैध हथियारों की तस्करी का कारोबार नहीं रुक रहा है।

छोटी-छोटी बात पर तान रहे गन

कोई सिगरेट देने में देर होने पर दुकानदार पर गोली चला रहा है तो कोई गर्लफ्रेंड को लेकर हुए विवाद में दोस्त पर ही पिस्टल तान दे रहा है। ऐसे में लोगों के बीच अब काफी ज्यादा भय का माहौल है। क्योंकि हथियार के बल पर लूट, डकैती व मर्डर जैसी वारदातें आए दिन बढ़ती जा रही हैं।

कम कीमत पर बेच रहे हथियार

सूत्रों की मानें, तो बस से या निजी कार से दूसरे राज्यों से हथियार रांची पहुंचाए जा रहे हैं। अवैध हथियार का कारोबार करने वाले लोग काफी कम दाम पर ही पिस्टल और देसी कट्टा जैसे हथियार लोगों को उपलब्ध करा देते हैं।

बिहार के मुंगेर से आ रहे आ‌र्म्स

राजधानी रांची में सबसे ज्यादा हथियार बिहार के मुंगेर जिले से लाया जाता है। पहले यह हथियार सीधे रांची आता था, लेकिन पुलिस की कार्रवाई के डर से हथियार तस्कर अब हथियारों को सीधे रांची नहीं लाकर पहले खूंटी लाते हैं। उसके बाद वहीं से राजधानी रांची में हथियारों की सप्लाई की जाती है। वहीं राजधानी रांची में भी चोरी-छिपे अवैध हथियार बनाने का काम किया जा रहा है।

सिटी आसपास में एक्टिव हैं तस्कर

हथियारों के इस अवैध कारोबार की जानकारी ना तो पुलिस को सही तरीके से मिल पाती है, ना ही कोई खुफिया एजेंसी ही इसपर सक्रिय नजर आती है। हथियार तस्कर शहर के बाहरी इलाकों समेत धुर्वा, डोरंडा, जगन्नाथपुर, तुपुदाना, अरगोड़ा और रातू क्षेत्र में सक्रिय हैं। कुछ ही मामले में पुलिस को सही जानकारी मिलती है जिसके आधार पर पुलिस कार्रवाई करती है।

आ‌र्म्स एक्ट के मामले

साल मामले दर्ज

2015 63

2016 85

2017 72

2018 107

मार्च 2019 31

हाल के दिनों में अरेस्ट हुए आ‌र्म्स सप्लायर

-4 जनवरी 2019: रांची ट्रैफिक पुलिस ने आ‌र्म्स सप्लाई करने आए मो। जेग व शकील अख्तर को बिरसा चौक के पास अरेस्ट किया। इनके पास से एक अमेरिकन पिस्टल व दो गोलियां बरामद हुई।

-7 फरवरी 2019: तुपुदाना ओपी क्षेत्र के हजाम में पीएलएफआई के पूर्व एरिया कमांडर अजीम उर्फ हिमांशु समेत पांच अपराधी अरेस्ट किए गए। इनके पास से नाइन एमएम पिस्टल, रिवॉल्वर, एयर गन व दो गोलियां बरामद हुई।

-20 मार्च 2019: धुर्वा थाना क्षेत्र में पुलिस ने मिनी गन फैक्टरी का खुलासा किया। गिरफ्तार विजय कुमार शर्मा, मो साकिद, मनोज कुमार मंडल की निशानदेही पर विजय कुमार शर्मा के घर में रेड हुई, जहां भारी मात्रा में हथियार बनाने के उपकरण, अ‌र्द्धनिर्मित पिस्टल व कट्टा बरामद किए गए।

अवैध हथियारों से हुई वारदात

8 मई : अरगोड़ा थाना क्षेत्र के हरमू स्थित वीर कुमार सिंह चौक के पास मो। अहबाब की गोली मारकर हत्या

30 अप्रैल: धुर्वा थाना क्षेत्र के धुर्वा डैम के पास अज्ञात लड़की की गोली मारकर हत्या कर दी गई। आरोपी अब तक पुलिस गिरफ्त में नहीं आया।

27 अप्रैल: सरना समिति के सदस्य प्रदीप तिर्की को अपराधियों ने गोली मारकर घायल कर दिया।

24 अप्रैल 2019: हटिया स्टेशन के पास संतोष कुमार नामक युवक को गोली मारकर जख्मी कर दिया।

19 अप्रैल 2019 : नगड़ी थाना क्षेत्र में पूर्व उप मुखिया प्रकाश तिग्गा की गोली मारकर हत्या।

inextlive from Ranchi News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.