जब एक गेंद पर दो भारतीय बल्लेबाज हुए आउट मेलबर्न में खेले गए ये 10 मैच हमेशा किए जाते हैं याद

2018-12-27T08:30:25+05:30

भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया के बीच तीसरा टेस्ट मैच मेलबर्न के एमसीजी में खेला जा रहा। मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड का इतिहास काफी पुराना है। इस मैदान पर कई चर्चित मैच खेले गए। आइए नजर डालें उन 10 मैचों पर जो हमेशा किए जाते हैं याद

कानपुर। मेलबर्न क्रिकेट ग्रांउड ऑस्ट्रेलिया का सबसे बड़ा खेल मैदान माना जाता है। यहां कई यादगार मैच खेले गए। इसमें कुछ विवादित भी रहे। भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया पर नजर डालें तो सुनील गावस्कर से लेकर विराट कोहली तक सभी का इस मैदान से खास जुड़ाव है।
यहीं हुआ था टेस्ट क्रिकेट का जन्म
क्रिकेट इतिहास का पहला टेस्ट मैच 1877 में एमसीजी मैदान पर खेला गया था। ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच हुए इस टेस्ट में मेजबान कंगारुओं को 45 रन से जीत मिली थी। ऑस्ट्रेलियाई ओपनर बल्लेबाज चार्ल्स बैनरमैन के बल्ले से शानदार शतक निकला था। इसी के साथ चार्ल्स एमसीजी पर टेस्ट शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज बन गए थे। एमसीजी में अभी तक कुल 111 टेस्ट मैच खेले गए, जिसमें कि 1,11,376 रन और 3689 विकेट गिरे।
जब टेस्ट मैच में पूरा स्टेडियम भरा खचाखच
मेलबर्न क्रिकेट ग्रांउड कई यादगार मैचों का गवाह रहा है। इस स्टेडियम में करीब 90 हजार से ज्यादा दर्शक बैठकर मैच का मजा ले सकते हैं। एमसीजी में अभी तक सबसे ज्यादा दर्शक संख्या 2013 में ऑस्ट्रेलिया बनाम इंग्लैंड के बीच खेले गए टेस्ट में रिकाॅर्ड की गई थी। यह एशेज सीरीज का चौथा टेस्ट था जिसमें अफिशल 91,112 लोग मैच देखने आए थे।
100 साल बाद दोहराया गया इतिहास
एमसीजी पर पहला टेस्ट मैच 1877 में ऑस्ट्रेलिया बनाम इंग्लैंड के बीच खेला गया था। मगर इसके 100 साल बाद इतिहास फिर दोहराया गया, यही दोनों टीमें फिर से 1977 में इसी मैदान पर टकराईं और आपको जानकर हैरानी होगी कि, इस बार भी इंग्लैंड को 45 रनों से हार मिली जोकि उन्हें पहले टेस्ट में मिली थी।
एक गेंद पर दो भारतीय बल्लेबाज हुए 'आउट'
मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया के बीच भी कई चर्चित मैच खेले गए। ऐसा ही एक टेस्ट 1981 में खेला गया जब दूसरी पारी में डेनिस लिली की गेंद पर अंपायर ने भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर को आउट दे दिया। इसके बाद नाराज गावस्कर दूसरे छोर पर खड़े बल्लेबाज चेतन चौहान को लेकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद टीम इंडिया ने बल्लेबाजी करने से मना कर दिया। उस वक्त भारतीय टीम के मैनेजर शाहिद दुर्रानी थी, उन्होंने किसी तरह गावस्कर को मनाया तब जाकर मैच पूरा हो पाया। हालांकि इस मैच में भारत को 59 रन से जीत मिली थी।

शेन वार्न ने यहीं ली थी एकमात्र टेस्ट हैट्रिक

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर शेन वार्न के लिए एमसीजी मैदान काफी यादगार है। यहीं पर वार्न ने अपने टेस्ट क्रिकेट की पहली और इकलौती हैट्रिक ली थी। साल 1994 में एशेज टेस्ट मैच में इंग्लैंड के खिलाफ वार्न पहली पारी में एक भी विकेट नहीं ले पाए थे। इसके बाद जब दूसरी इनिंग में वह गेंदगाजी करने उतरे तो दुनिया को वो करिश्मा दिखाया जिसे देख सब हैरान रह गए। सेकेंड इनिंग में वार्न ने हैट्रिक लेकर इंग्लिश बल्लेबाजों को बैकफुट पर ला दिया जिसके चलते ऑस्ट्रेलिया यह मैच 295 रनों से जीत गया।
मुरलीधरन के एक्शन पर उठे सवाल
साल 1995 में ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका के बीच ऐसा ही एक विवादित टेस्ट एमसीजी पर खेला गया था। वैसे तो इस मैच में मेजबान कंगारुओं को जीत मिली मगर यह टेस्ट जीत-हार से ज्यादा अंपायर के गलत रवैये को लेकर चर्चा में रहा। मैच के दौरान श्रीलंकाई स्पिनर मुथैया मुरलीधरन की सात गेंदों को सही होने के बावजूद नो बाॅल करार दिया गया। अंपायर डेरेल हेयर के इस फैसले पर सभी हैरान हुए। खासतौर से तब जब मुरली इस मैच से पहले 22 टेस्ट खेल चुके थे। इतने मैच खेलने के बाद हेयर को मुरली का गेंदबाजी एक्शन गलत लगा। बाद में आईसीसी ने जब इसकी जांच-पड़ताल की तो अंपायर को दोषी पाया गया।
ब्रेट ली ने डेब्यू टेस्ट में तोड़ी टीम इंडिया की दीवार
ऑस्ट्रेलिया के सबसे तेज गेंदबाजों में शुमार पूर्व क्रिकेटर ब्रेट ली ने एमसीजी पर ही टेस्ट डेब्यू किया था। 1999 में भारत के खिलाफ टेस्ट में ब्रेट ली को पहला टेस्ट खेलने का मौका मिला। मैच की पहली इनिंग में ब्रेट ली ने भारत के पांच बल्लेबाजों को पवेलियन भेज दिया। इसमें टीम इंडिया की दीवार राहुल द्रविड़ का विकेट भी शामिल था। युवा गेंदबाज ब्रेट ली की इस शानदार गेंदबाजी की बदौलत कंगारुओं ने यह टेस्ट 180 रन से जीत लिया।
सहवाग ने खेली विस्फोटक पारी
मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में किसी भारतीय बल्लेबाज द्वारा बनाया गया सर्वश्रेष्ठ टेस्ट स्कोर 195 रन है। यह रिकाॅर्ड पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग के नाम है। वीरू ने 2003 में कंगारुओं के खिलाफ शानदार शतकीय पारी खेली थी। हालांकि सहवाग की इस पारी पर पोंटिंग का दोहरा शतक भारी पड़ गया और भारत यह मैच 9 विकेट से हार गया।
शेन वार्न ने जब लिए 700 टेस्ट विकेट
पूर्व ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज शेन वार्न ने अपने टेस्ट करियर का 700वां विकेट एमसीजी पर ही लिया था। साल 2006 में इंग्लैंड के खिलाफ मैच खेलते हुए यह रिकाॅर्ड अपने नाम किया। वार्न ने 144 टेस्ट खेलकर यह मुकाम हासिल किया था।
कोहली और जाॅनसन की टक्कर
साल 2014 दौरे पर मेलबर्न मैदान पर भारतीय कप्तान विराट कोहली और ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज मिचेल जाॅनसन के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली थी। बीच मैच में जाॅनसन ने विराट को रन आउट करने के लिए एक थ्रो मारा जो सीधे विराट को जा लगा और वह जमीन पर गिर गए थे। इस मैच में विराट ने 169 और 54 रन की पारी खेली, हालांकि मैच ड्राॅ रहा था।
73 हजार लोग देख रहे IndvsAus बाॅक्सिंग डे टेस्ट, भारत का एक टेस्ट मैच जिसमें आए थे 1 लाख दर्शक
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट डेब्यू करने वाला पहला भारतीय कौन था, मयंक अग्रवाल बने 43वें क्रिकेटर


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.