इंग्लैंड को सस्ते में समेटने के बाद भारत ने दोहराई ये गलती तो हार जाएंगे मैच

2018-08-31T03:39:26+05:30

साउथैम्पटन टेस्ट में इंग्लैंड को पहली पारी में जल्द समेटने के बाद अब भारतीय बल्लेबाजों के इम्तहान की बारी है। भारत ने अगर शुरुआती दो टेस्ट की गलती नहीं दोहराई तो यह टेस्ट विराट सेना अपने नाम कर सकती है।

कानपुर। भारत और इंग्लैंड के बीच पांच टेस्ट मैचों की सीरीज का चौथा टेस्ट साउथैम्पटन में खेला जा रहा है। भारत इस सीरीज में 1-2 से पीछे है। ऐसे में विराट सेना चौथा टेस्ट जीतकर सीरीज में 2-2 से बराबर आना चाहेगी। इसकी शुरुआत भारतीय गेंदबाजों ने कर दी है। इंग्लिश कप्तान जो रूट ने साउथैम्पटन टेस्ट में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज का निर्णय लिया और मेहमान गेंदबाजों ने उसे फैसले को गलत साबित किया। इंग्लैंड की पूरी टीम पहले ही दिन 246 रन पर सिमट गई। वो तो शुक्र है, 8वें नंबर के बल्लेबाज सैम करन ने 78 रन की पारी खेली वरना इंग्लैंड का स्कोर और कम होता।
नहीं दोहरानी होगी ये गलती
हार-जीत की इस जंग में भारतीय गेंदबाजों ने अपनी बाजीगरी साबित कर दी, अब बारी है भारतीय बल्लेबाजों की। भारत को पहली पारी में बड़ा स्कोर बनाना होगा। विराट एंड टीम अगर बड़ा स्कोर खड़ा कर लेती है तो मेजबान दबाव में आ जाएंगे और भारत के मैच जीतने के चांस बढ़ जाएंगे। हालांकि यह सब इतना आसान नहीं रहने वाला, तीसरा टेस्ट छोड़ दिया जाए तो शुरुआती दो टेस्ट मैचों में भारतीय बल्लेबाज पूरी तरह से फ्लॉप रहे थे अगर वहीं गलती फिर से दोहराई गई तो इंग्लिश गेंदबाज आसानी से विकेट निकाल ले जाएंगे और भारत चौथा मैच हार जाएगा।
कोहली के ऊपर है पूरी जिम्मेदारी
टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के लिए तीसरा टेस्ट मैच करो या मरो वाला था। भारत सीरीज में पहले ही 0-2 से पीछे था ऐसे में अगर नॉटिंघम मैच भारत नहीं जीतता तो सीरीज भी हाथ से निकल जाती। विराट ने इस चैलेंज को सिर्फ स्वीकारा ही नहीं मैदान में टीम को जीत की ओर अग्रसर भी किया। पहली पारी में विराट ने 97 रन बनाए, हालांकि वह 3 रन से शतक से चूक गए मगर भारत को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया था। इसके बाद सेकेंड इनिंग में कोहली नहीं चूके और अपने टेस्ट करियर का 23वां शतक जड़ा। इस मैच में वह सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बने। अब साउथैम्पटन टेस्ट में टीम इंडिया को फिर से कोहली से 'विराट' पारी की उम्मीद होगी।
6 रन से बन सकते हैं 6 हजारी
ईएसपीएन क्रिकइन्फो के डेटा के मुताबिक, विराट कोहली ने अभी तक 69 टेस्ट मैचों में 5994 रन बनाए हैं। यानी कि वह टेस्ट में 6 हजारी बनने से सिर्फ 6 कदम दूर हैं। साउथैम्पटन टेस्ट में बैटिंग में उतरते ही कोहली यह मुकाम भी हासिल कर लेंगे। टेस्ट क्रिकेट में 6000 रन पूरे करते ही वो ऐसा करने वाले 10वें भारतीय बल्लेबाज बन जाएंगे। कोहली से पहले ये कमाल नौ भारतीय खिलाडी कर चुके हैं। जिन भारतीय बल्लेबाज़ों ने ये उपलब्धि हासिल की है उनमें सचिन तेंदुलकर (15921 रन), राहुल द्रविड़ (13625), सुनील गावस्कर (10122), वीवीएस लक्ष्मण (8781), वीरेंद्र सहवाग (8503), सौरव गांगुली (7212), दिलीप वेंगसरकर (6868), मो. अजहरुद्दीन (6215) और गुंडप्पा विश्वनाथ (6080) शामिल हैं।
भारत-इंग्लैंड चौथे टेस्ट में कोहली ये दो रिकॉर्ड बनाकर बन जाएंगे 'विराट'

Ind vs Eng : भारत के खिलाफ इन 7 बल्लेबाजों से ज्यादा रन अकेले इस गेंदबाज ने बना दिए


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.