Ind Vs Nz ऐसा न होता तो जीत जाती इंडिया ये हैं भारत की हार के 4 बड़े कारण

2019-02-11T10:40:17+05:30

भारत बनाम न्यूजीलैंड के बीच तीन मैचों की टी20 सीरीज भारत के हाथ से निकल गई। भारत की इस बड़ी हार की कई वजहें रही। आइए जानते हैं

कानपुर। भारत बनाम न्यूजीलैंड के बीच तीन मैचों की टी-20 सीरीज का तीसरा और अाखिरी मैच रविवार को हैमिल्टन में खेला गया। इस मैच में भारत को चार रन से करारी हार झेलनी पड़ी। इसी के साथ रोहित एंड टीम ये सीरीज 1-2 से हार गई। तीसरे मैच में भारत को जीत के लिए 213 रन बनाने थे मगर टीम इंडिया 208 रन तक ही पहुंच पाई। भारत की इस सीरीज हार के ये पांच कारण रहे...

दिनेश कार्तिक का आखिरी ओवर में रन नहीं लेना

तीसरे टी-20 मैच भारत सिर्फ चार रन से हारा है। एक वक्त लग रहा था कि टीम इंडिया इस लक्ष्य को हासिल कर लेगी मगर दिनेश कार्तिक की एक गलती ने मैच का परिणाम बदल दिया। ये सबकुछ हुआ आखिरी ओवर की तीसरी गेंद पर जब भारत को जीत के लिए 14 रन चाहिए थे।उस समय क्रीज पर क्रुणाल पांड्या और दिनेश कार्तिक मौजूद थे। कीवी कप्तान ने गेंद सबसे अनुभवी गेंदबाज टिम साउदी के हाथों में थमाई। वहीं भारत की तरफ से स्ट्राइक पर दिनेश कार्तिक थे। ओवर की तीसरी गेंद पर कार्तिक ने लांग ऑन की तरफ एक शाॅट मारा, क्रुणाल एक रन लेने के लिए भागे मगर कार्तिक ने उन्हें मना कर दिया। इसके बाद अगली गेंद डाॅट रही। मैच हारने के बाद कहा जा रहा कार्तिक अगर वो रन ले लेते तो शायद मैच भारत जीत सकता था।

रोहित शर्मा ने खेली सबसे धीमी पारी

हिटमैन के नाम से मशहूर भारतीय ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा से फैंस को एक विस्फोटक पारी की उम्मीद रहती है। मगर रविवार को हैमिल्टन में जब भारत एक बड़े लक्ष्य का पीछा करने उतरी तो रोहित ने अपने टी-20 करियर की सबसे धीमी पारी खेली। रोहित ने 32 गेंदों पर सिर्फ 38 रन बनाए। इस दौरान उनके बल्ले से मात्र 3 चौके निकले और छक्का एक भी नहीं। आपको जानकर हैरानी होगी कि टी-२० में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट में रोहित दूसरे नंबर पर हैं।
युजवेंद्र चहल की कमी खली
सीरीज के तीसरे और निर्णायक मैच में भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने युजवेंद्र चहल को टीम से बाहर रखा। आखिरी मैच में भारत की हार की बड़ी वजह गेंदबाजों की पिटाई भी रही। कीवी बल्लेबाजों ने भारतीय तेज गेंदबाजों के खिलाफ जमकर रन लूटे। भुवनेश्वर कुमार को छोड़ दें तो खलील अहमद और हार्दिक पांड्या ने खूब रन लुटाए। इन दोनों ने मिलकर कुल 91 रन दिए। रही सही कसर, क्रुणाल पांड्या ने पूरी कर दी जिन्होंने चार ओवर में 54 रन दे डाले। चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप सबसे सस्ते गेंदबाज रहे जिन्होंने सिर्फ 26 रन दिए। ऐसे में अगर चहल भी टीम में होते तो वह कुलदीप का अच्छा साथ निभा सकते थे।
शिखर धवन का फ्लाॅप शो
भारत की इस सीरीज हार की बड़ी वजह शिखर धवन का फ्लाॅप शो भी रहा। एक तरफ जहां न्यूजीलैंड के ओपनर ने टीम को हर मैच में अच्छी शुरुआत दिलवाई। वहीं भारत ने धवन के रूप में पहला विकेट जल्दी गंवा दिया। धवन से भारत को काफी उम्मीदें थीं। इस सीरीज में शिखर ने तीन मैचों में 21.33 की औसत से मात्र 64 रन बनाए।

Ind vs Nz : धोनी ने बचाई तिरंगे की लाज, झंडा जमीन पर रखकर फैन पोछने जा रहा था जूता

Ind vs Nz : एक रन के लिए धोनी ने ऐसा शाॅट मारा, जो 140 साल से किसी क्रिकेटर ने नहीं खेला


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.