कैलिफोर्निया में भारतीय मूल की इस महिला में है यूएस प्रेसिडेंट बनने की पूरी क्षमता

2016-11-13T13:22:01+05:30

यूएस प्रेसिडेंशियल इलेक्‍शन के दौरान इतिहास रचने के करीब पहुंचकर चूक गईं हिलेरी क्‍लिंटन। ऐसा होने के बाद एक मीडिया रिपोर्ट सामने आई। इसमें कहा गया कि कैलिफोर्निया की भारतीय मूल की अटॉर्नी जनरल कमला हैरिस में पूरी क्षमता है अमेरिका की पहली महिला राष्‍ट्रपति बनने की। आइए जानें इनके बारे में और भी कुछ खास बातें।

ये हैं कमला हैरिस
इस मंगलवार को 51 साल की कमला कैलिफोर्निया से अमेरिका सीनेट के लिए निर्वाचित हुईं। बता दें कि सीनेट के लिए चुनी जाने वाली ये पहली महिला अश्‍वेत एवं एशियाई मेंबर है। यहां ये जानना बेहद रोचक होगा कि कमला हैरिस की मां चेन्‍नई से हैं और इनके पिता जमैका के रहने वाले हैं। यहां चुनाव जीतने के साथ इन्‍होंने एक और बड़ा काम किया। वो था कि इन्‍होंने ट्रम्‍प की नीतियों और बड़े पैमाने पर निर्वासन की नीति के खिलाफ अपना राष्‍ट्रव्‍यापी अभियान शुरू कर दिया। बताया गया है कि कमला ऐसे लोगों को बड़ी संख्‍या में देश से बाहर निकालने का विरोध कर रही हैं।

इनमें है राष्‍ट्रपति बनने की क्षमता
कमला हैरिस को लेकर 'द हफिंग्‍टन पोस्‍ट' में साफ लिखा गया है कि भारतीय मूल की कमला हैरिस में यूएस की राष्‍ट्रपति बनने की पूरी क्षमता है। यहां लिखा है कि कमला हेरिस अमेरिका की पहली महिला राष्‍ट्रपति बन सकती हैं। वह कैलिफोर्निया की सबसे लोकप्रिय अटॉर्नी जनरल कैपिटल हिल में एंटर हो चुकी हैं। इसके बाद अब अगली बार वह व्‍हाइट हाउस में भी दाखिल हो सकती हैं।
हासिल है इनका समर्थन
इस बारे में आगे बताया गया है कि इनको बराक ओबामा और उपराष्‍ट्रपति जो बिडेन के साथ डेमोक्रेट के कई बड़े नेताओं का समर्थन हासिल है। इनके बारे में ये भी बताया गया है कि 2020 में राष्‍ट्रपति पद का चुनाव लड़ने के लिए यह गठजोड़ उनके बहुत काम आ सकता है। वहीं इस बार राष्‍ट्रपति चुनाव का रिजल्‍ट सामने आने के बाद हिलेरी क्‍लिंटन ने कहा था कि उम्‍मींद से पहले कोई भी महिला देश के ऐसे शीर्ष पद का काबिज हो सकती है।
Interesting Newsinextlive fromInteresting News Desk



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.