कुंभ स्नान के दौरान 24 दिन बंद रहेंगे कानपुर के उद्योग

2018-12-21T10:46:00+05:30

kanpur@inext.co.in
KANPUR : 15 जनवरी से प्रयागराज में शुरू होने वाले कुंभ की वजह से कानपुर के उद्योगों को बड़ा नुकसान झेलना पड़ सकता है। कुंभ में स्नान के लिए श्रद्धालुओं को निर्मल गंगाजल मिले, इसके लिए उ.प्र। पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड ने शहर के सभी उद्योगों और टेनरीज के बंदी का रोस्टर जारी किया है। कुंभ में होने वाले 6 प्रमुख स्नानों में 4- 4 दिन तक कानपुर की सभी टेनरीज और जल प्रदूषण के लिए जिम्मेदार उद्योग पूरी तरह बंद रहेंगे। इससे लगभग 4,000 करोड़ के नुकसान का अनुमान लगाया जा रहा है। मुख्य पर्यावरण अधिकारी कुलदीप मिश्रा ने विभिन्न इंडस्ट्रियल एरिया की एसोसिएशन के अध्यक्षों को इस रोस्टर से अवगत करा दिया है। बंदी के इस फैसले से उद्योगों में भी खलबली मच गई है.

इसलिए बंद हाेंगे उद्योग
कुंभ में स्नान के लिए कानपुर काफी अहम पड़ाव है। कानपुर के उद्योगों से बड़ी मात्रा में केमिकल और अन्य इंडस्ट्रियल वेस्ट नहरों, नालों और पांडु नदी में चोरी- छिपे बहाया जाता है। इनके वेस्ट के शोधन के लिए फिलहाल कोई व्यवस्था भी मौजूद नहीं है। पांडु नदी भी आगे गंगा में ही मिल जाती है। इन सभी स्थितियों को ध्यान में रखते हुए उ.प्र। पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड ने टेनरी के साथ- साथ कानपुर के उद्योगों को भी कुंभ के प्रमुख स्नानों के दौरान 4- 4 दिन बंद रखने का फैसला लिया गया है। बंदी के दौरान कानपुर में 18,644 रजिस्टर्ड इंडस्ट्रियल यूनिट्स बंद रहेंगी, इसके अलावा 112 मीडियम एंड लार्ज इंडस्ट्री पर भी ताले लटके रहेंगे.

हर स्नान से पहले 4 दिन क्यों बंद रहेंगे?
गंगा बैराज से कुंभ स्नान के लिए लगातार 7,000 क्यूसेक पानी छोड़ा जाएगा। कानपुर से प्रयागराज तक पानी पहुंचने में 3 दिन का वक्त लगता है। तय स्नान से 3 दिन पहले उद्योगों और टेनरीज को बंद कर दिया जाएगा। जिससे स्नान वाले दिन कानपुर से पहुंचने वाला पानी स्नान के लिए साफ मिले। पिछले कुंभ में स्नान के लिए आए संतों ने गंगाजल को लेकर शिकायत की थी, इस बार ऐसी शिकायत न हो, इसका खास ख्याल रखा जा रहा है.

पंपिंग स्टेशनों पर लगे कैमरे
जल निगम जीएम आरके अग्रवाल ने बताया कि भैरव घाट, परमट, नवाबगंज और गुप्तारघाट पंपिंग स्टेशन के साथ ही जाजमऊ सीईटीपी में मॉनिटरिंग के लिए वेब कैमरे लगा दिए गए हैं। इनकी फीडिंग सीधे उ.प्र। पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड, लखनऊ से की जा रही है। इसके साथ ही टेनरी वेस्ट वाले नालों डबका नाला, शीतला बाजार नाला, वाजिदपुर नाला और बुढि़याघाट नाला पर भी सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे.

इस दिन बंद रहेंगे उद्योग व टेनरी

प्रमुख स्नान बंदी की अवधि

मकर संक्रांति (15 जनवरी) 12 से 15 जनवरी तक

पौष पूर्णिमा (21 जनवरी) 18 से 21 जनवरी तक

मौनी अमावस्या (4 फरवरी) 1 से 4 फरवरी तक

बसंत पंचमी (10 फरवरी) 7 से 10 फरवरी तक

माघी पूर्णिमा (19 फरवरी) 16 से 19 फरवरी तक

महा शिवरात्रि (4 मार्च) 1 मार्च से 4 मार्च तक

आंकड़ों में इंडस्ट्री

- 18,644 कानपुर में रजिस्टर्ड इंडस्ट्रियल यूनिट्स.

- 112 मीडियम एंड लार्ज यूनिट्स रजिस्टर्ड.

- 90,608 वर्कर स्मॉल इंडस्ट्रीज में कार्यरत.

- 26,483 इंप्लॉयमेंट लार्ज एंड मीडियम इंडस्ट्री में.

- 10 इंडस्ट्रियल एरिया कानपुर में.

- 896.71 करोड़ स्मॉल इंडस्ट्रिज का कुल टर्नओवर.

- 2516.35 करोड़ मीडियम एंड लार्ज इंडस्ट्री का सलाना टर्नओवर.

(नोट- जिला उद्योग केंद्र के आंकड़ों के मुताबिक.<द्गठ्ठद्द>)

कानपुर में उद्योगों की स्थिति

जगह रजिस्टर्ड उद्योगों की संख्या

कालपी रोड 109

पट्रॉन इस्टेट पनकी 31

यूपीएसआईडीसी इंडस्ट्रियल एरिया

पनकी साइट- 1 262

पनकी साइट- 2 190

पनकी साइट- 3 364

नकी साइट- 4 131

पनकी साइट- 5 450

मल्टी होसरी इंडस्ट्री

दादा नगर 268

रूमा इंडस्ट्रियल एरिया

रूमा 208

चकेरी 18

- - - - - - - - - - - - - - - -

बंदी के दौरान अगर एक भी इंडस्ट्री व टेनरी चलती हुई पाई गई तो जुर्माना लगाने के साथ ही उन्हें पूरे 3 महीने के लिए बंद कर दिया जाएगा। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरती जाएगी.

- कुलदीप मिश्रा, मुख्य पर्यावरण अधिकारी, उ.प्र। पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड.

- - - - - - - - - - - - - - - -

मेरी जानकारी में जल प्रदूषण जनित उद्योगों को बंद करने का नोटिस जारी किया गया है। अगर सभी उद्योगों को बंद किया जाएगा तो इससे भारी नुकसान होगा। ऐसा नहीं किया जाना चाहिए.

- आलोक अग्रवाल, प्रेसीडेंट, आईआईए कानपुर सेक्टर.

inextlive from Kanpur News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.