आपके करियर को बेहतर शेप देने में इंटर्नशिप्स का है इंपॉर्टेंट रोल तो फिर ऐसे करो तैयारी

2018-11-19T10:01:23+05:30

टेक्निकल फील्ड होने के चलते इंजीनियरिंग में ट्रेनिंग खासी अहमियत रखती है। इंटर्नशिप करने से एस्पिरेंट्स अपने अंदर जरूरी स्किल सेट्स को आसानी से डेवलप कर सकते हैं। ऐसे में कैंडीडेट्स को इंटर्नशिप प्रोसेस को हमेशा गंभीरता से लेना चाहिए।

कानपुर। इंटर्नशिप सिर्फ इंजीनियरिंग ही नहीं, बल्कि सभी प्रोफेशनल कोर्सेज का एक इंपॉर्टेंट पार्ट है। आप कोर्स के दौरान अपनी इंटर्नशिप जितनी अच्छी कंपनी से करेंगे, आपको अपनी इंडस्ट्री के वर्क कल्चर को समझने में उतनी ही आसानी होगी और आप उतने ही बेहतर तरीके से उसे अपना पाएंगे। इंजीनियरिंग की फील्ड में इंटर्नशिप न सिर्फ आपके करियर को एक शेप देती है, बल्कि फाउंडेशन को भी स्ट्रॉन्ग बनाती है। इससे आपको बेहतर जॉब हासिल करने में बड़ी आसानी भी होती है।

प्रैक्टिस से आसान होती है राह
आपने अपने कॉलेज में जो पढ़ा है, उसे इंडस्ट्री में प्रैक्टिकली अप्लाई करना एक टफ और चैलेंजिंग टास्क होता है। पढ़ाई कंप्लीट करने के बाद जॉब करते समय आपकी वर्क प्रोफाइल सेट होती है, लिहाजा उसमें कुछ नया करने की गुंजाइश भी कम होती है। ऐसे में इंटर्नशिप आपको कुछ नया करने की आजादी देती हैं।

वर्क कल्चर की होती है समझ
एक स्टूडेंट के तौर पर इंडस्ट्री के काम करने के तरीके का अंदाजा लगाना और असल में काम करना दो अलग बातें हैं। इंटर्नशिप स्टूडेंट्स को प्रॉब्लम डिफाइन करने, उन्हें सॉल्व करने के तरीकों को समझने का मौका देती हैं, जिसका फायदा आगे जॉब करने के दौरान मिलता है।

पता चलता है टीमवर्क का महत्व
ज्यादातर इंडस्ट्रीज में टीम्स में एसाइनमेंट्स बांट दिए जाते हैं, जिसे निर्धारित समय में कंप्लीट करना होता है और इसी आधार पर पूरी टीम की एनालिसिस की जाती है। इंटर्नशिप करते समय एस्पिरेंट्स को टीम वर्क की इंपॉर्टेंस का पता चलता है, जिससे उनकी इंटरपर्सनल स्किल्स में इंप्रूवमेंट होता है।

जरूरी स्किल्स को सीखने का मिलता है मौका
हर इंडस्ट्री के अपने कुछ रिक्वायर्ड स्किल सेट्स होते हैं, जिनका एस्पिरेंट्स में होना जरूरी होता है। ऐसे में इंटर्नशिप्स उन स्किल सेट्स को आइडेंटिफाई कर उन्हें डेवलप करने में हेल्प करती हैं। यही नहीं कैंडीडेट्स को वर्किंग प्रोफेशनल्‍स संग काम करने के चलते लगातार कुछ नया सीखने और एक्सपेरिमेंट करने का मौका भी मिलता है।

बनता है स्ट्रॉन्ग प्रोफेशनल नेटवर्क
इंटर्नशिप करने के दौरान एस्पिरेंट्स को प्रोफेशनल्स के साथ काम करने का मौका मिलता है। इससे उनका नेटवर्क स्ट्रॉन्ग होता है, जो करियर बिल्डिंग के लिए इंपॉर्टेंट है।

ये हैं ऐसे सेक्टर्स जिनमें ब्राइट होगा इंजीनियरिंग स्‍टूडेंट्स का फ्यूचर

इंजीनियरिंग फील्‍ड में चमकाना है करियर तो इन एंट्रेंस एग्जाम्स में जरूर करें अप्लाई


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.