IPL 2019 के नाॅकआउट में आसानी से पहुंच सकती है ये टीम वजह है हैरान करने वाली

2019-03-18T01:31:22+05:30

इंडियन प्रीमियर लीग के 12वें सीजन की शुरुआत होने में बस पांच दिन बाकी हैं। इस बार काेलकाता नाइट राइडर्स के फैंस काे अपनी टीम से काफी उम्मीद होंगी।

newsroom@inext.co.in
KANPUR : आईपीएल के इतिहास की सबसे सबसे सफल टीमों में से एक कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) हमेशा की तरह 12वें एडिशन में भी बेहद मजबूत टीम के रूप में चुनौती पेश करेगी। केकेआर ने 2012 और 2014 में आईपीएल खिताब अपने नाम किए हैं। 2019 में उसकी नजर तीसरे खिताब पर रहेगी। 23 मार्च से शुरू हो रहे आईपीएल के नए सीजन में केकेआर अपने अभियान की शुरुआत सनराइजर्स हैदराबाद टीम के खिलाफ 24 मार्च को अपने घर ईडन गार्डंस से करेगी।
दिनेश कार्तिक (कैप्टन)
दिनेश कार्तिक आईपीएल के पिछले सीजन में केकेआर की ओर से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज थे। उन्होंने 16 मैचों में दो हाफसेंचुरीज के साथ 49.80 की एवरेज से कुल 498 रन बनाए थे, जिसमें 52 रन उनका बेस्ट स्कोर था। इस दौरान उन्होंने 49 चौके और 16 छक्के जड़े। हालांकि वो कप्तानी में वो इम्पैक्ट नहीं ला सके, जो बल्लेबाजी में रहा। इस बार वो इसकी कमी पूरा करना चाहेंगे।

जैक्स कैलिस (कोच)

साउथ अफ्रीका के फॉर्मर आलराउंडर जैक्स कैलिस को 2015 में केकेआर का कोच बनाया गया था। उन्होंने इंग्लैंड के पूर्व कोच ट्रेवर बेलिस की जगह ली थी। वर्ष 2011 से केकेआर के मेंबर और 2014 में मेंटर व बैटिंग एडवाइजर की भूमिका निभाने वाले कैलिस ने आईपीएल के दो खिताब जिताने में केकेआर के लिए अहम योगदान दिया था।
टीम
दिनेश कार्तिक (कैप्टन), कार्लोस ब्रेथवेट, पीयूष चावला, जो डेनली, लोकी फग्र्युसन, हैरी गर्नी, कुलदीप यादव, क्रिस लिन, श्रीकांत मुंडे, कमलेश नागरकोटि, निखिल नायक, सुनील नरेन, एनरिक नोत्र्जे, प्रसिद्ध कृष्णा, पृथ्वी राज, नितीश राणा, आंद्रे रसेल, शिवम मावी, शुभमन गिल, रिंकू सिंह और रॉबिन उथप्पा।
ऐसा रहा आईपीएल का सफर
-केकेआर टीम 2012 और 2014 में चैंपियन बनी।
-टूर्नामेंट के पहले एडिशन यानी 2008 में टीम लीग लेवल पर आठ टीमों के बीच 6ठे स्थान पर रही।
-केकेआर के लिए 2009 बेहद खराब रहा जब टीम को लीग लेवल पर प्वॉइंट्स टेबल में सबसे निचले यानी आठवें स्थान पर रहना पड़ा था।
-वर्ष 2010 में केकेआर की टीम लीग लेवल पर आठ टीमों में छठे, जबकि 2011 में इस टीम का प्रदर्शन पहले से काफी सुधरा और वह चौथे स्थान पर रही।
-2012 में गौतम गंभीर के नेतृत्व में टीम ने पहली बार आईपीएल का खिताब जीता।
-2013 में टीम का प्रदर्शन फिर बिगड़ा और वह छठे स्थान पर रही।
-2014 में टीम एकजुट नजर आई और खिताब जीता।
-2015 में केकेआर पांचवें स्थान पर रही।
-2016 में चौथे और 2017 और 2018 में वह तीसरे स्थान पर रही।
पिछले साल का प्रदर्शन
पिछले वर्ष (2018) केकेआर ने लीग लेवल पर कुल 14 मैचों में से 8 में जीत दर्ज की थी, जबकि 6 मुकाबलों में उसे हार का सामना करना पड़ा था। 16 प्वॉइंट्स लेकर केकेआर ने प्वॉइंटस टेबल में तीसरे स्थान पर रहते हुए प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई किया था। कप्तान कार्तिक के शानदार प्रदर्शन के दम पर केकेआर क्वालीफायर-2 में जगह बनाने में सफल रही, लेकिन वहां उसे सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था।

नए खिलाड़ी

कार्लोस ब्रेथवेट, लोकी फग्र्युसन, जो डेनली, निखिल नायक, हैरी गर्नी, पृथ्वी राज, एनरिक नोत्र्जे, श्रीकांत मुंडे।
अहम खिलाड़ी
-केकेआर के पास दिनेश कार्तिक के अलावा कार्लोस ब्रेथवेट, क्रिस लिन, आंद्रे रसेल, रॉबिन उथप्पा और नीतीश राणा जैसे बेहतरीन बल्लेबाज हैं जो अकेले अपने दम पर मैच का पासा पलटने का माद्दा रखते हैं।
-टीम में पेसर लोकी फग्र्युसन, रसेल और ब्रेथवेट जैसे अनुभवी गेंदबाजों के बीच कमलेश नागरकोटि, प्रसिद्ध कृष्णा, शिवम मावी जैसे युवा प्रतिभा भी है जो शानदार प्रदर्शन करने को आतुर हैं।
-स्पिन डिपार्टमेंट में चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव, पीयूष चावला और विंडीज के सुनील नारायण की तिकड़ी है जो काफी अनुभवी है।

2019 की प्रेडिक्शन

हर बार की तरह इस बार भी केकेआर से बेहतरीन प्रदर्शन की उम्मीद है। कागज पर बेहद मजबूत दिख रही इस टीम को नॉकआउट तक पहुंचने में कोई कठिनाई नहीं होनी चाहिए। टीम में अनुभव और युवा जोश का मिश्रण है। बेहतरीन बल्लेबाजों, आलराउंडर्स और गेंदबाजों से सजी दिनेश कार्तिक की अगुवाई वाली टीम में वो सब कुछ है जो एक बैलेंस टीम में होना चाहिए।

IPL मैचों में गायब हो सकते हैं भारतीय खिलाड़ी, कोहली ने दिया ये बड़ा बयान


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.