IPL मैचों में गायब हो सकते हैं भारतीय खिलाड़ी कोहली ने दिया ये बड़ा बयान

2019-03-18T12:36:01+05:30

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने वर्ल्ड कप से पहले आईपीएल में पड़ने वाले वर्कलोड पर अहम बयान दिया है। कोहली का कहना है कि फ्रेंचाइजी टीमों के लिए कोई गाइडलाइन नहीं है मगर प्लेयर्स बुद्धिमानी से वर्कलोड मैनेज कर सकते हैं।

बेंगलुरु (एजेंसी): इंडियन क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि वर्ल्ड कप खेलने वाले खिलाड़ियों के वर्कलोड को लेकर आईपीएल टीम फ्रेंचाइजी को कोई गाइडलाइन नहीं दी गई है और किसी भी चीज पर बंदिश नहीं लगाई जा सकती। हालांकि इंडियन कैप्टन ने उम्मीद जताई कि उनके साथी खिलाड़ी 30 मई से शुरू हो रहे वर्ल्ड कप से पहले अपने वर्कलोड का मैनेजमेंट चालाकी से करेंगे। बीसीसीआई ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के पहले दो हफ्ते (23 मार्च-19 अप्रैल) का शेड्यूल जारी कर दिया है। 23 मार्च को टूर्नामेंट का पहला मैच कोहली की रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और पिछले सीजन की विनर चेन्नई सुपर किंग्स के बीच चेन्नई में खेला जाएगा।
लेना होगा दिमाग से काम
रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के कक्तान कोहली ने कहा, यदि मैं 10, 12 या 15 मैच खेल सकता हूं तो इसके मायने यह नहीं है कि दूसरा भी उतने ही खेलेगा। मेरा शरीर कहता है कि मैं इतने ही मैच खेलूं और चतुराई से चयन कर आराम भी करूं। उन्होंने कहा, हो सकता है कि किसी और का शरीर इससे ज्यादा या कम मैच खेलने की अनुमति देता हो। हर कोई वर्ल्ड कप खेलना चाहता है तो उन्हें बुद्धिमानी से काम लेना होगा।

फिट रहना प्लेयर की जिम्मेदारी

कोहली ने कहा कि फिटनेस का मसला खिलाड़ियों पर निर्भर करता है। उन्होंने कहा, सभी इंडियन प्लेयर्स पर जिम्मेदारी होगी कि वे आईपीएल के दौरान अपनी फिटनेस और वर्कलोड का ख्याल रखें। हमें हर रोज अपने प्रदर्शन में सुधार करना है। हर खिलाड़ी इस टूर्नामेंट को वर्ल्ड कप से पहले लय में आने का जरिया मानकर खेलेगा। टीम इंडिया में हमने जिस तरह की मानसिकता तैयार की है, उसी की ओर बढना होगा।
आईपीएल का मिलेगा फायदा
वर्ल्ड कप चैैंपियन इंडिया के फाॅर्मर कोच गैरी क्रिसटेन का मानना है कि आईपीएल से वर्ल्ड कप में इंडियन प्लेयर्स की तैयारी पुख्ता होगी। उन्होंने कहा, हमें पता है कि सभी इंटरनेशनल प्लेयर आईपीएल के दौरान ही अपनी टीमों के लिए खेलने लौट जाएंगे। इसमें कुछ नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा, आईपीएल के दौरान आप मैच फिट रहते हैं तो वर्ल्ड कप में इसका फायदा मिलेगा।

तैयारियों में मिलेगी मदद

फाॅर्मर इंडियन पेसर आशीष नेहरा का मानना है कि आईपीएल में खेलने से इंडियन प्लेयर्स को आगामी वर्ल्ड कप की तैयारी करने में मदद मिलेगा। आरसीबी के बॉलिंग कोच नेहरा ने कहा, आईपीएल प्रेशर वाला टूर्नामेंट है। यह इंटरनेशनल प्लेयर्स के लिए भी अच्छा है, इसलिए हर कोई इसमें खेलना चाहता है। आप इस प्रेशर से होकर वर्ल्ड कप में जा रहे हैं। अगर कोई विराट कोहली को आईपीएल नहीं खेलने के लिए कहता है और वह वर्ल्ड कप के लिए नए सिरे से आते हैं तो मुझे नहीं लगता कि यह ठीक है। 39 वर्षीय नेहरा ने कहा, आईपीएल का फाइनल (मई के बीच में) और वर्ल्ड कप में इंडिया के पहले मैच (पांच जून) के बीच में तीन हफ्ते का अंतर है।

आईपीएल का वर्कलोड

02 बार प्रत्येक टीम को एक टीम के खिलाफ खेलना होगा
14 मैच खेलने होंगे एक टीम को पूरे टूर्नामेंट के दौरान
03 मैच और खेलने पड़ सकक्ते हैैं फाइनलिस्ट टीमों को
02 महीने तक चल सकक्ता है आईपीएल का 12वां सीजन

विराट-बुमराह नंबर-1 पर बरकरार, केदार ने लगाई बड़ी छलांग

आतंकी हमले में बचे बांग्लादेशी क्रिकेटर्स घर लौटे


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.