IAS इलेवन को हराकर मैदान के सिकंदर बने IPS!

2017-12-17T08:31:30+05:30

आईएएस वीक के तहत आईएएस और आईपीएस इलेवन का क्रिकेट मैच इकाना इंटरनेशनल स्टेडियम में दोनों कैडर के बीच रिश्तों पर जमी बर्फ पिघली आईपीएस से फिर हारे आईएएस कमेंट्रेटर बने आईएएस अफसरों ने बांधा समां

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW(16 Dec): इकाना इंटरनेशनल स्टेडियम में आईएएस इलेवन के गोरांग राठी ने अपने बल्ले का कमाल दिखाना शुरू किया तो कमेंट्रेटर की भूमिका निभा रहे आईएएस अखिलेश मिश्रा के मुंह से निकला कि 'आईएएस कुर्सी से चिपके रहते हैं, यही तो उनकी अदा हैÓ. प्रलोभन दिया कि जो आईपीएस कैच छोडग़ा, उसे अलग से प्रमोशन दिया जाएगा. थोड़ी ही देर में मैच ने पलटा मारा तो कमेंट्रेटर की भूमिका निभा रहे आईएएस अफसर अपने ही टीम को खरी-खरी सुनाने लगे. कहा कि दर्शकों को पहले ही मैच का नतीजा पता है. यहां एक ऐसी टीम है जो कभी हारी नहीं और दूसरी कभी जीती नहीं. कुछ देर बाद मैदान में ऐलान हुआ कि अगली बार आईएएस एसोसिएशन के बजाय आईएएस वाइव्स एसोसिएशन मैच खेलेगी क्योंकि ये तो कभी आईपीएस से जीत नहीं पाते हैं. मैच का नतीजा भी कुछ ऐसा ही रहा और हर बार की तरह आईपीएस इलेवन ने आईएएस इलेवन को नौ विकेट से मात दे दी.

 

खूब हुआ मनोरंजन

शनिवार को आईएएस वीक के तहत खेले गये आईएएस और आईपीएस इलेवन क्रिकेट मैच ने स्टेडियम में मौजूद लोगों का खूब मनोरंजन किया. एक ओर जहां चौके-छक्कों की बारिश हो रही थी तो वहीं दूसरी ओर प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एसपी गोयल, वरिष्ठ आईएएस नवनीत सहगल और अखिलेेश मिश्रा अपनी कमेंट्री से लोगों को लोटपोट कर रहे थे. आईएएस और आईपीएस इलेवन के खिलाडिय़ों के प्रदर्शन को लेकर उनके द्वारा किये जा रहे तंज लोगों को गुदगुदा रहे थे. मैच की शुरुआत आईपीएस इलेवन द्वारा टॉस जीतने के बाद पहले बॉलिंग चुनने से हुई. करीब आधे घंटे का खेल हुआ था कि स्टेडियम में एसपी गोयल आ गये. उन्हें देखते ही नवनीत सहगल ने दो माइक मंगाकर उनके साथ कमेंट्री करनी शुरू कर दी तो वहां का नजारा बदल गया. लोगों का ध्यान मैच से ज्यादा उनकी कमेंट्री की तरफ आकर्षित होने लगा. नवनीत सहगल ने अंतरराष्ट्रीय मैचों के कमेंट्रेटर सुशील दोषी की शानदार तरीके से मिमिक्री की. कुछ ही देर मे उनका साथ देने आईएएस अनुराग यादव की पत्नी प्रीति आ गयीं तो स्टेडियम में ठहाके गूंजने लगे.

 

आईएएस का दिल बड़ा होता है

मैच शुरू होने के कुछ देर बाद मैदान में तमाम आईएएस और आईपीएस अफसर अपने परिवार के साथ आने लगे. डीजीपी सुलखान सिंह अपनी पत्नी के साथ मैच देखने पहुंचे तो आईएएस अफसरों ने उनका बड़ी गर्मजोशी के साथ स्वागत किया. आईएएस एसोसिएशन के पूर्व सचिव भुवनेश कुमार ने स्टेडियम में कदम रखा तो आईपीएस एसोसिएशन के सचिव असीम अरुण आगे बढ़कर उनके गले लग गये. मुख्य सचिव राजीव कुमार के आते ही आईपीएस इलेवन की टीम ने चौके और छक्के लगाने की रफ्तार तेज कर दी तो कमेंट्री कर रहे आईएएस अफसरों ने उन्हें मजाकिया अंदाज मे खूब सुनाई. मैच आईपीएस के पाले में जाता देख उन्हें कहना पड़ गया कि आईएएस का दिल बड़ा होता है, इसलिए हम जानबूझकर फिर मैच हार गये हैं. बेहतरीन बैटिंग कर रहे आईपीएस डीएस चौहान ने दर्शकों की ओर चौका मारा तो बोले कि इस शॉट पर तो धारा 307 का केस बनता है. इसका मुकदमा दर्ज कर जांच होनी चाहिए.

 

 

आईएएस के युवराज 'नवनीत सहगल'

जिस तरह भारतीय क्रिकेट टीम के सदस्य युवराज सिंह ने अपनी बीमारी को मात देकर दोबारा क्रिकेट की दुनिया में जोरदार इंट्री की, उसी अंदाज में आज आईएएस नवनीत सहगल भी मैदान पर नजर आए. मैच की शुरुआत से पहले वह बैटिंग के लिए तैयार होने लगे. करीब साल भर पहले भीषण एक्सीडेंट का सामना करने वाले सहगल को फिट देखकर सबके चेहरे पर मुस्कान तैर गयी. उन्होंने जमकर नेट प्रैक्टिस की और कई अच्छे शॉट भी लगाए. हालांकि जब बैटिंग करने का मौका आया तो वे अपने बल्ले का करिश्मा नहीं दिखा सके और श्लोक कुमार की एक शानदार इन स्विंग ने उन्हें क्लीन बोल्ड कर दिया.

 

नहीं मिलेगा टीए-डीए

आईएएस वीक में हिस्सा लेने खासतौर पर लंदन से आए आईएएस अनुराग यादव का भी कुछ ऐसा ही हाल हुआ. आईएएस इलेवन के रेगुलर खिलाड़ी अनुराग का मैच में न उनका बल्ला चल पाया और ना ही बॉलिंग में वह कोई कमाल दिखा सके. यह देखकर एसपी गोयल ने कहा कि अब इन्हें लंदन आने-जाने का टीए-डीए नहीं दिया जाएगा. इनकी चार बजे वापसी की फ्लाइट है इसलिए हार कर जल्दी मैच खत्म कराना चाहते हैं.

 

मैं तो आईपीएस के साथ

आईपीएस इलेवन के कैप्टन डीएस चौहान महंगे बॉलर साबित होने लगे उनकी पत्नी राधा चौहान (आईएएस) कुछ देर के लिए मैदान से बाहर चली गयीं. इसे देख नवनीत सहगल बोले कि राधा को पता था कि आज डीएस बहुत पिटने वाले हैं. वहीं जब उन्होंने आतिशी बल्लेबाजी की तो कमेंट्रेटर ने राधा चौहान से पूछा कि आप किसकी तरफ हैं. उन्होंने भी गर्मजोशी के साथ हाथ उठाकर कहा कि मैं तो आईपीएस की टीम के साथ ही हूं.

 

गौरांग ने बचाई इज्जत

आईएएस इलेवन की ओर से गौरांग राठी ने शानदार बैटिंग की. उन्होंने 47 गेंदों में 58 रन बनाए. उन्हें डीएस चौहान ने अपनी फिरकी में फंसाकर बोल्ड कर दिया. गौरांग बहराइच में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट के पद पर तैनात हैं. इसके अलावा अजय यादव ने भी 42 रन बनाए. आईएएस इलेवन बीस ओवर में आठ विकेट के नुकसान पर 144 रन बना सकी जिसे आईपीएस इलेवन ने महज 14 ओवर में बनाकर मैच जीत लिया. आईपीएस इलेवन ने यह मैच नौ विकेट से जीता.

 

आईएएस टीम

नवनीत सहगल (कैप्टन), गौरांग राठी, रवींद्र, अजय सिंह, पंकज, अनुराग यादव, पार्थसारथी सेन शर्मा, राजकमल यादव, विजय किरन आनंद, जोगिंदर, अविनाश, भूपेंद्र.

 

आईपीएस टीम

डीएस चौहान(कैप्टन), संजीव सुमन, अखिल कुमार, आलोक सिंह, ए.सतीश गणेश, नितिन तिवारी, संजीव त्यागी, संजीव कुमार, अभिषेक यादव, रोहन, श्लोक कुमार, अमित पाठक.

 

फैक्ट फाइल

58 रन बनाए आईएएस इलेवन के गौरांग राठी बेस्ट बैट्समैन 68 रन बनाए आईपीएस इलेवन के संजीव सुमन बेस्ट बैट्समैन 46 रन बनाए आईपीएस इलेवन के डीएस चौहान ने 03 विकेट लिए आईपीएस इलेवन के श्लोक कुमार ने 01 विकेट ही हासिल हुआ आईएएस इलेवन के अनुराग यादव को श्लोक कुमार और अनुराग यादव बने बेस्ट बॉलर डीएस चौहान और विजय किरन आनंद बने बेस्ट फील्डर

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.