ISRO की नई उड़ान PSLVC 43 अंतरिक्ष में साथ ले गया 31 सेटेलाइट HySIS रखेगा धरती के कोनेकोने पर नजर

2018-11-29T12:14:42+05:30

इंडियन स्पेस एंड रिसर्च ऑर्गनाइजेशन ने आज सुबह पोलर सैटलाइट लॉन्च वीइकल सी43 द्वारा 31 सेटेलाइट को लॉन्च किया है। आंध्रप्रदेश के श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष केंद्र में यह लाॅचिंग सफलता पूर्ण रही।

कानपुर। इंडियन स्पेस एंड रिसर्च ऑर्गनाइजेशन (ISRO) ने पोलर सेटेलाइट लॉन्च व्हीकल (पीएसएलवी) सी-43 द्वारा 31 सेटेलाइट को लाॅन्च किया है। आंध्रप्रदेश के श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से सुबह 9:58 बजे लॉन्चिंग की गई। पीएसएलवी ने इस साल अंतरिक्ष में यह छठी उड़ान भरी है। आज हाईपर स्पेक्ट्रल इमेजिंग सेटेलाइट  (HySIS)  का प्रक्षेण हुआ है।
धरती के चप्पे-चप्पे पर नजर रखना आसान हो जाएगा
एचवाईएसआईएस इस अभियान का यह प्राथमिक उपग्रह धरती का अध्ययन करने वाला है।  इसरो द्वारा विकसित करीब 380 वजनी इस सेटेलाइट से धरती के चप्पे-चप्पे पर नजर रखना आसान हो जाएगा। एचवाईएसआईएस से धरती से लगभग 630 किमी दूर अंतरिक्ष से पृथ्वी पर मौजूद चीजों के 55 विभिन्न रंगों की पहचान की जा सकती है। इसकी आयु करीब 5 साल हाेगी।
एक महीने के अंदर किया जा रहा यह दूसरा परीक्षण
एचवाईएसआईएस की खासियत यह है कि डिजिटल इमेजिंग और स्पेक्ट्रोस्कोपी की शक्ति को जोड़ने में सक्षम है। इसरो का कहना है कि एचवाईएसआईएस को सूर्य की कक्षा में 97.957 डिग्री के झुकाव के साथ आसानी से स्थापित किया जा सकेगा। करीब चार चरण वाले पीएसएलवी की यह 45वीं उड़ान है। बता दें कि इसरो द्वारा एक महीने के अंदर किया जा रहा यह दूसरा परीक्षण है।

भारत ने किया जीसैट-29 सैटेलाइट का सफल प्रक्षेपण, कश्मीर और नार्थईस्‍ट में संचार नेटवर्क होगा मजबूत

हर दो हफ्ते में एक मिशन लाॅन्च करेगा इसरो

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.