कैश दो सस्ता सोना लो

2018-10-28T06:00:01+05:30

ज्वैलर्स कर रहे टैक्स चोरी, ब्लैक मनी गोल्ड में धड़ल्ले हो रही व्हाइट

manish.kumar@inext.co.in

PATNA : सरकार नोटबंदी और जीएसटी जैसे हथकंडों से ब्लैक मनी को रोकने में लगी है, वहीं त्योहार का सीजन आते ही ज्वैलर्स ब्लैक मनी को व्हाइट गोल्ड में बदलने में लगे हुए है। ब्लैक-व्हाइट के इस मामले ने और स्पीड पकड़ ली है। ज्वैलर्स खुलेआम कैश की डिमांड कर रहे हैं और कच्चे बिल पर सोना देने को तैयार हैं। आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने सोने पर 3 फीसदी जीएसटी चार्ज तय कर रखा है। यानी ज्वैलर्स एक तरफ तो सरकार का लाखों रुपए टैक्स गबन करने के साथ ही कैश ब्लैक मनी को सोने में बदलने का काम कर रहे हैं। दैनिक जागरण आई नेक्स्ट ने शहर के कुछ नामी ज्वैलर्स के यहां स्टिंग ऑपरेशन किया। स्टिंग में ज्वैलर्स ने साफ कहा कि आप कैश पैसा दीजिए, कहां टैक्स के चक्कर में लगे हुए हैं।

हर दिन लाखों की टैक्स चोरी

त्योहार के सीजन में हर दिन सोने की 50 करोड़ रुपए से अधिक की बिक्री होती है। ऐसे में अगर आधे ज्वैलर्स भी टैक्स चोरी का खेल कर रहे हैं तो हर दिन सरकार को 75 लाख रुपए की टैक्स चोरी की जा रही है।

ऐसे चलता है खेल

सोने में टैक्स चोरी का खेल बहुत पुराना है। जीएसटी आने के बाद एक साल तक यह न के बराबर हो गया था लेकिन एक बार फिर ज्वैलर्स ने इसका नया रास्ता निकाल लिया है। इसमें

ज्वैलर्स आपको अपने यहां का कच्चा बिल देते हैं। जिसमें केवल सोने की कीमत और मेकिंग चार्ज लिखा होता है। बाकी किसी तरह का कोई टैक्स दर्ज नहीं होता है। ज्वैलर्स यह भी दावा करते हैं कि इसी बिल पर आप जब चाहे ज्वेलरी बेच सकते हैं।

गलती से भी न ले टैक्स चोरी का सोना

अगर आप भी ज्वेलरी लेने जा रहे हैं तो सावधान हो जाइए। अगर ज्वैलर्स चंद रुपए बचाने का लालच देकर आपको टैक्स चोरी का सोना दे तो भूलकर भी न लें। अगर आप ऐसा करते हैं तो आपको यह नुकसान झेलना पड़ सकता है।

आप जीएसटी चोरी के सहभागी बनते हैं। ऐसे में आप पर कानून कार्रवाई हो सकती है।

बिना जीएसटी के बिल का सोना अगर नकली निकलता है तो आप कहीं भी इसे चैलेंज नहीं कर पाएंगे।

जीएसटी बिल का सोना कहीं भी उसी कीमत पर बदला जा सकता है लेकिन बिना टैक्स का सोना सिर्फ उसी दुकान पर बदला जाएगा, जहां से आपने खरीदा है।

जल्द कार्रवाई की जाएगी

जब इस संबंध में जीएसटी विभाग के संबंधित अधिकारियों से बातचीत की गई तो उनका कहना था कि अभी मामला जानकारी में आया है। हम लोग गोपनीय तरीके से इसकी जांच करेंगे और विधि अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

आप ाी कर सकते हैं शिकायत

अगर कोई टैक्स चोरी करता है तो आप anti_profiteering.gov.in पर मेल कर सकते हैं। इसके अलावा 011-23741542 पर भी शिकायत दर्ज कर सकते हैं। शिकायत करने वाले की पहचान हमेशा गोपनीय रखी जाती है।

स्टिंग ऑपरेशन में हुआ खुलासा

दैनिक जागरण आई नेक्स्ट की टीम जब हरिनिवास कॉम्पलेक्स स्थित श्याम ज्वेलर्स के यहां पहुंची तो ऑनर कुशल ने साफ ऑफर किया कि आप बिना टैक्स का सोना लें। आप भी देखिए बातचीत के अंश

रिपोर्टर- सोने की 4 चूड़ी चाहिए।

कुशल- आप रेंज बताइए।

रिपोर्टर- एक से सवा लाख रुपए तक।

कुशल- पसंद करिए। फिर कीमत पर बात करते हैं।

रिपोर्टर- (4 चूड़ी पसंद करने के बाद) इसकी कितनी कीमत होगी।

कुशल- अगर आप कार्ड या चेक पैमेंट करते हैं तो 1 लाख 3 हजार रुपए लगेंगे।

रिपोर्टर- अगर कैश देते हैं?

कुशल- आप कैश पैमेंट करते हैं तो एक लाख रुपए में ही हो जाएगा।

रिपोर्टर- कैसे?

कुशल- सोने पर 3 फीसदी जीएसटी है। अगर आप कैश पैमेंट देंगे तो 3000 रुपए का टैक्स बच जाएगा।

रिपोर्टर- बिल कौन सा देंगे।

कुशल- अपने दुकान का बिल देंगे। उसमें हॉलमार्क और दुकान की मुहर होगी, लेकिन टैक्स नहीं लगा होगा।

रिपोर्टर-इस बिल पर बाद में कोई समस्या तो नहीं होगी।

कुशल- इस बिल की लाइफ टाइम गारंटी रहेगी। जब भी बिल लेकर आइएगा तो सोना बदल दिया जाएगा।

inextlive from Patna News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.