अब दो मिनट में रेडिएशन थेरेपी

2016-11-23T07:40:09+05:30

सोनिया गांधी ने किया लीनियर एक्सीलेटर मशीन का शिलान्यास

बेटी प्रियंका संग पहुंची सोनिया ने जाना मरीजों का हाल

ALLAHABAD: अब कैंसर के मरीजों को फटाफट रेडिएशन थेरेपी के लिए मुंबई या दिल्ली नहीं जाना होगा। शहर में ही उनका इलाज संभव हो सकेगा। कमला नेहरू मेमोरियल हॉस्पिटल में अगले छह महीनों में हाई प्रोफाइल लीनियर एक्सीलेटर मशीन लग जाएगी। इसके जरिए मरीजों का दो मिनट से कम समय रेडिएशन के जरिए इलाज संभव हो सकेगा। कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी ने मंगलवार सुबह मशीन और भवन का शिलान्यास किया। बेटी प्रियंका संग पहुंची सोनिया गांधी ने इस दौरान मरीजों का हालचाल भी लिया।

13 करोड़ की लागत

हॉस्पिटल प्रशासन ने बताया कि फिलहाल लीनियर एक्सीलेटर मशीन फिलहाल टाटा हॉस्पिटल मुंबई में लगी है। नार्दर्न इंडिया में इलाहाबाद पहला सेंटर होगा जहां यह सुविधा उपलब्ध होगी, जिसकी लागत 13 करोड़ रुपए बताई जा रही है। इस मशीन की खासियत है कि मरीज को रेडिएशन देने में दो मिनट से भी कम समय लगता है, जिससे मरीज को तकलीफ कम होती है। इलाहाबाद में लंबे समय से लीनियर एक्सीलेटर रेडियोथेरेपी सेंकाई मशीन की मांग चल रही थी।

ट्रामा वार्ड का किया उद्घाटन

इस दौरान न्यूरो-आर्थो ट्रामा के 21 बेड के वार्ड का उदघाटन भी सोनिया ने किया। इस वार्ड को शहर के जाने-माने न्यूरो सर्जन डॉ। कार्तिकेय शर्मा अपनी टीम के साथ संचालित कर रहे हैं। बड़े और सीवियर एक्सीडेंटल मामलों में मरीजों को लखनऊ, कानपुर या दिल्ली ले जाने की जगह कमला नेहरू मेमोरियल हॉस्पिटल में इलाज उपलब्ध हो सकेगा। इसके अलावा उन्होंने 23 बेड वाले रेनोवेट किए गए एनआईसीयू वार्ड का उदघाटन भी किया। इसमें न्यूली बॉर्न चाइल्ड के लिए लाइफ सेविंग वेंटीलेटर के साथ वार्मर और फोटोथेरेपी यूनिट भी लगाई गई हैं। जिससे बच्चों के इलाज में काफी सहायता मिलेगी।

बॉक्स

विनर्स को किया सम्मानित

इस दौरान सोनिया और प्रियंका ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के जन्म शताब्दी वर्ष पर आधारित निबंध प्रतियोगिता के विजेताओं को सम्मानित भी किया। समारोह में हिस्सा लेते हुए उन्होंने नर्सेज और डॉक्टर्स को मरीजों की सेवा करने की सीख दी। प्रियंका वाड्रा ने कहा कि कमला नेहरू को इलाज के मानक पर अपग्रेड किया जा रहा है जिससे दूर-दूर से आए मरीजों को यहां इलाज की सुविधा उपलब्ध कराई जाए। स्टाफ को मरीजों के प्रति संवेदनशीलता बरतनी चाहिए। महिला सशक्तिकरण इंदिरा निबंध प्रतियोगिता में कमला नेहरू के जीएनएम नर्सिग कॉलेज की साक्षी अग्रवाल को प्रथम, वीएलएम कॉलेज के विवेक कुमार को द्वितीय और वात्सल्य नर्सिग स्कूल की स्नेहा को तृतीय स्थान मिला। इसके अलावा साक्षी, चंद्र प्रभा और अर्चना को जीएनएम में बेहतर अंक लाने पर सम्मानित किया गया। सोनिया और प्रियंका ने केएनएमएच की नर्सिग स्कूल की लाइट लैंपिंग सेरेमनी में हिस्सा भी लिया। सेरेमनी में डॉ। कृष्णा मुखर्जी, डॉ। एन परिहार, डॉ। एन बनर्जी, डॉ। पाल थेलियथ, डॉ। राधारानी, डॉ। कार्तिकेय शर्मा, डॉ। पुष्पक निगम डॉ। सपन श्रीवास्तव, हरिओम सिंह आदि उपस्थित रहे।

inextlive from Allahabad News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.