प्रयागराज कुंभ 2019 रेत पर जमकर करिए वाटर स्पो‌र्ट्स एक्टिविटी

2019-02-07T09:28:49+05:30

देशविदेश के पर्यटकों को लुभाने के लिए मेला प्रशासन ने बनाई योजना पर्यटन विभाग उपलब्ध कराएगी सुविधा

dhruva.shankar@inext.co.in
PRAYAGRAJ: संगम की रेती पर लगने वाले कुंभ मेला का आकर्षण पूरी दुनिया को दिखाने के लिए इस बार इसे दिव्य कुंभ, भव्य कुंभ नाम दिया गया है. इस स्लोगन में चार चांद लगाने का काम वाटर स्पो‌र्ट्स एक्टिविटी करने जा रहा है. मेला प्रशासन द्वारा कुंभ में देश-विदेश से आने वाले पर्यटकों को लुभाने के लिए यमुना नदी में एक्टिविटी की सुविधा मुहैया कराई जाएगी. इसकी जिम्मेदारी मिलने के बाद पर्यटन विभाग ने इसमें इस्तेमाल होने वाले उपकरणों का टेंडर निकाला है.

दो सेक्टरों में एक्टिविटी की सुविधा
मेला प्रशासन ने वाटर स्पो‌र्ट्स एक्टिविटी की जिम्मेदारी नवंबर के अंतिम सप्ताह में पर्यटन विभाग को सौंपी थी. इसके बाद विभाग ने प्लान तैयार कर एक्टिविटी के लिए जगहों का चयन किया. इनमें से एक नए यमुना पुल के नीचे और दूसरी जगह सेक्टर बीस में तय की गई है.

पहली बार एक्टिविटी का आयोजन
यूनेस्को से कुंभ मेला को सांस्कृतिक विरासत की सूची में शामिल किए जाने के बाद से ही मेला को दिव्य बनाने के लिए योजनाएं बनाई जा रही हैं. इसी के तहत वाटर स्पो‌र्ट्स एक्टिविटी कराने का निर्णय भी लिया गया है. इसमें विभाग की ओर से वाटर स्कूटर, मोटर बोट, वाटर स्कीइंग, पैरासेलिंग, कैयाकिंग-कैनोइंग जैसे खेलों की सुविधा प्रदान की जाएगी.

वेंडर करेंगे रेट का निर्धारण
यमुना नदी में एक्टिविटी कराने के लिए जितने खेलों को शामिल किया गया है उसमें इस्तेमाल किए जाने वाले उपकरणों के लिए टेंडर निकाला जा चुका है. एक सप्ताह में वेंडर का चयन कर लिया जाएगा. उसे पर्यटकों को एक्टिविटी के लिए उपकरण उपलब्ध कराना होगा. उप निदेशक पर्यटन दिनेश कुमार की मानें तो एक-एक एक्टिविटी के लिए कितना शुल्क लिया जाएगा इसका निर्धारण चयनित वेंडर द्वारा ही किया जाएगा.

कुंभ मेला के दौरान देश-विदेश से लाखों की संख्या में पर्यटक प्रयागराज आएंगे. पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए वाटर स्पो‌र्ट्स एक्टिविटी कराने की सुविधा प्रदान की जाएगी. किस खेल में कितना शुल्क लगेगा इसका निर्धारण वेंडर द्वारा किया जाएगा.
अनुपम श्रीवास्तव, क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी

महत्वपूर्ण तथ्य

-कुंभ मेला में पहली बार वाटर स्पो‌र्ट्स एक्टिविटी की योजना बन रही है.

-एक्टिविटी के लिए नया यमुना ब्रिज और अरैल स्थित टेंट सिटी के पास का एरिया चयनित किया गया है.

-एक्टिविटी पंद्रह जनवरी को पहले शाही स्नान से शुरू होकर चार मार्च को अंतिम स्नान पर्व महाशिवरात्रि तक कराई जाएगी.

 

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.