प्रयागराज में बैठी यूपी गवर्नमेंट ने लिया बड़ा फैसला गंगा एक्सप्रेसवे को ग्रीन सिग्नल

2019-01-30T09:09:41+05:30

मेरठ से प्रयागराज के बीच बनेगा दुनिया का सबसे बड़ा एक्सप्रेसवे

बुंदेलखंड और पूवरंचल एक्सप्रेस वे को भी कैबिनेट ने किया ओके

prayagraj@inext.co.in
PRAYAGRAJ :
प्रयागराज के कुंभ आयोजन में मंगलवार को नया अध्याय जुड़ गया. आजादी के बाद संगम की पवित्र धरती पर पहली बार कैबिनेट की बैठक का आयोजन हुआ. जिसमें योगी सरकार ने कई महत्वपूर्ण फैसलों पर मुहर लगाई. बैठक का केंद्र बिंदु प्रयागराज रहा. सबसे बडा फैसला पश्चिमी यूपी को कुंभ नगरी से जोड़ने वाला गंगा एक्सप्रेस वे के निर्माण को मंजूरी रहा. पूवरंचल और बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे पर भी मुहर लगायी गयी. इसके अलावा भारद्वाज, श्रंगवेरपुर सहित महर्षि वाल्मीकी के आंश्रम के सुंदरीकरण के प्रस्तावों पर मुहर लगाई गयी.

सुंदर और आकर्षक होगा भारद्वाज आश्रम
कैबिनेट मिटिंग के बाद कुंभ मेला क्षेत्र में बने मीडिया सेंटर में पत्रकारों से मुखातिब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रयागराज को पहला विवि देने वाले और विमानन शास्त्र के विशेषज्ञ महर्षि भारद्वाज के आश्रम के सुदंरीकरण का फैसला बैठक में लिया गया है. अभी तक प्रयागराज के भारद्वाज पार्क में उनकी भव्य प्रतिमा लगाने के साथ पार्क को नया रूप दिया गया है. अब उनके आश्रम को सजाया और संवारा जायेगा.

नए रूप में होगा श्रंगवेरपुर धाम
इसी तरह ऐतिहासिक और धार्मिक स्थल श्रंगवेरपुर धाम को नए कलेवर में देखा जा सकेगा. योगी कैबिनेट ने इस धार्मिक स्थल को विकसित करने का निर्णय लिया. यहां श्रृंगी ऋषि और माता शांता के आश्रम के निर्माण के साथ भगवान श्रीराम और निषादराज के मिलन को दर्शाने वाली विशाल मूर्ति स्थापित की जाएगी. साथ ही निषादराज भव्य पार्क का निर्माण भी कराने का निर्णय लिया गया है.

बनेगा रामायण शोध संस्थान
सीएम योगी आदित्यनाथ ने बताया कि देश और दुनिया को मर्यादा पुरुषोत्तम राम के बारे में रामायण के माध्यम से परिचित कराने वाले महर्षि वाल्मीकी के आश्रम का भी सौंदर्यीकरण किया जाएगा. कैबिनेट ने तय किया कि प्रयागराज और चित्रकूट के बीच पहाड़ी नामक स्थान पर बने महर्षि के आश्रम में रामायण शोध संस्थान का निर्माण किया जाएगा. यहां वाल्मीकी की भव्य प्रतिमा भी निर्मित की जाएगी. इसके अलावा विंध्याचल के पर्यटन विकास के लिए विभिन्न कार्य होंगे. विंध्याचल के समस्त घाटों का प्रकाशीकरण, घाटों पर चेंजिंग रूम, मेला परिक्षेत्र में टूरिस्ट फैसिलिटेशन सेंटर आदि बनाया जाएगा.

दो अन्य एक्सप्रेस वे पर सहमति
बैठक में गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस या पूवरंचल एक्सप्रेस वे को भी सहमति प्रदान की गई. आजमगढ और अंबेडकर नगर को छूकर जाने वाले इस एक्सप्रेस वे की लागत 5555 करोड और लंबाई 91 किमी है. एक्सप्रेस वे के निर्माण में 987 हेक्टेयर भूमि का एक्वायर किया जाना है. इसी तरह बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे की सौगात भी कैबिनेट बैठक में दी गई. सीएम ने कहा कि स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुंदेलखंड के विकास केा लेकर सजग हैं. इस एक्सप्रेंस व के निर्माण में 14716 करोड की लागत आएगी. इसकी लंबाई 296 किमी तय की गई है.

मिटिंग में लिये गये फैसले

प्रदेश के 3793 कुष्ठ रोगियों को मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत आवास का बंदोबस्त किया जाएगा.

एसजीपीजीआई लखनऊ को एम्स की तर्ज पर तमाम सुविधाएं प्रदान की जाएंगी

सर्जिकल स्ट्राइक पर बनी मूवी उड़ी को प्रदेंश सरकार ने स्टेट जीएसटी से मुक्त करने का फैसला किया है. जिससे अधिक से अधिक दर्शन देशभक्ति पर बनी इस मूवी को एंज्वॉय कर सकें.

कैबिनेट ने उप्र कृषि उत्पादन मंडी अधिनियम में संशोधन करते हुए मंडी समितियों के सदस्यों के चयन व सभापति व उपसभापति चुनाव में व्यवस्था लागू किए जाने का निर्णया लिया है. इसमें मंडी समिति के उत्पादक सदस्यों को हो इन पदों पर चुना जाएगा.

मंत्रिपरिषद ने शाहजहांपुर महिला दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ लिमिटेड का संचालन पांच साल के लिए राष्ट्रीय डेरी विकास बोर्ड को हस्तांरित करने का निर्णय लिया है.

पीएम मोदी का जताया आभार
पत्रकारों से वार्ता के दौरान सीएम ने कुंभ के शानदार आयोजन के लिए पीएम नरेंद्र मोदी का आभार जताया. उन्होंने कहा कि पीएम के प्रयास से यूनेस्को ने कुंभ को वैश्रि्वक मान्यता दी है. दुनिया के 70 देशों के राजदूतों ने संगम की रेती पर पधारकर अपने राष्ट्र का ध्वज फहराया है. उन्होंने कहा कि पहली बार पीएम ने गंगापूजन कर कुंभ का शुभांरभ किया. उनकी वजह से श्रद्धालुओं को अक्षयवट और सरस्वती कूप के दर्शन का लाभ मिल रहा है. सीएम योगी ने कहा कि नमामि गंगे परियोजना का फल है कि मारीशस के पीएम ने इस कुंभ में गंगा स्नान करने के साथ जल का आचमन भी किया. पिछले कुंभ में उन्होंने ऐसा नही किया था.

मिटिंग में सीएम योगी, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा, डॉ. रीता बहुगुणा जोशी, सिद्धार्थ नाथ सिंह, सतीश महाना, नंदगोपाल गुप्ता नंदी, सूर्य प्रताप शाही, ब्रजेश पाठक समेत तमाम कैबिनेट मंत्री उपस्थित रहे.

जार्ज फर्नाडीज को दी श्रद्धांजलि

देश के पूर्व रेल व रक्षामंत्री रहे जार्ज फनरंडीज को कैबिनेट बैठक के दौरान श्रद्धांजलि अर्पित की गयी.

एक्सप्रेस वे की खासियत

मेरठ से प्रयागराज के बीच इस एक्सप्रेस वे का निर्माण किया जायेगा

एक्सेस कंटोल्ड ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस वे 4 लेन एक्सपेंडेबल टू 6 लेन होगा

इसकी लंबाई 600 किमी होगी

यह मेरठ, अमरोहा, बुलंदशहर, बदायूं, शाहजहांपुर, फर्रुखाबाद, हरदाई, कनौज, उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़

एक्सप्रेस वे की निर्माण लागत 36 हजार करोड़ होने का अनुमान है

इसके लिए 6556 हेक्टेयर लैंड एक्वायर की जाएगी

 

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.