कुंभ के ये तीन काम 28 फरवरी को गिनीज बुक में करेंगे नाम

2019-02-25T09:00:20+05:30

कुंभ मेला इस बार कई मायने में आकर्षण का केन्द्र रहा पांच करोड़ की भीड़ को सफलतापूर्वक हैंडल करने वाले प्रशासन ने अब गिनीज बुक में रिकार्ड दर्ज कराने की प्लानिंग की है

गीनिज बुक ऑफ व‌र्ल्ड रेका‌र्ड्स की टीम 28 फरवरी को पहुंचेगी प्रयागराज

ट्रांसपोर्ट, पेंटिंग व सफाई व्यवस्था में रिकार्ड की मेला प्रशासन ने की तैयारी

prayagraj@inext.co.in
PRAYAGRAJ: प्रयागराजराज की धरती पर लगा कुंभ मेला इस बार कई मायने में आकर्षण का केन्द्र रहा। पांच करोड़ की भीड़ को सफलतापूर्वक हैंडल करने वाले प्रशासन ने अब गिनीज बुक में रिकार्ड दर्ज कराने की प्लानिंग की है। इसके लिए ट्रांस्पोर्ट व्यवस्था, पेंट माई सिटी और सफाई व्यवस्था को लेकर मेला प्रशासन की ओर से गिनीज बुक आफ व‌र्ल्ड रेका‌र्ड्स की टीम पत्र लिखा है। अब उसकी टीम 28 फरवरी को यहां आ रही है। अब उसकी निगरानी में मेला प्रशासन ये तीनो रिकार्ड बनाएगा।

पब्लिक ट्रांस्पोर्ट सर्विस से शुरुआत
डीएम कुंभ मेला विजय किरन आनंद ने बताया कि 28 फरवरी को किसी भी धार्मिक सांस्कृतिक आयोजन के दौरान यूज किए गए फ्री सर्विस ट्रांसपोर्ट के अन्तर्गत शटल बस सर्विस को शामिल किया गया है। इस मौके पर नवाबगंज टोल प्लाजा से 500 शटल बस एक साथ शहर की ओर से रवाना होंगी। एक मार्च को पेंट माई सिटी में काम करने वाले 6000 आर्टिस्ट एक साथ कैनवस पर पेंटिंग बनाकर रिकार्ड बनाएंगे। इसका आयोजन कुंभ मेला क्षेत्र में स्थित गंगा पंडाल में किया जाएगा। इसके बाद सफाई को लेकर रिकार्ड बनाने की तैयारी है। इसमें 10 हजार सफाई कर्मचारी एक साथ कुंभ मेला क्षेत्र में सफाई करेंगे। सफाई कर्मचारी अरैल संकटमोचन, झूंसी की तरफ संगम लोवर, बक्सी बांध के नागवासुकी और परेड मैदान स्थित लाल सड़क पर सफाई करेंगे। इस दौरान पूरे समय गीनिज बुक ऑफ व‌र्ल्ड रिकार्ड की टीम निरीक्षण करेगी।

तीन व‌र्ल्ड रिकार्ड बनाने के लिए कुंभ मेला प्रशासन प्रयास में जुटा है। इसमें पब्लिक ट्रांसपोर्ट, पेंट माई सिटी और सफाई व्यवस्था को शामिल किया गया है।

विजय किरन आनंद
डीएम, कुंभ मेला


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.