पूर्व मंत्री के घर से खिड़कीचौखट जब्त

2018-11-18T06:01:25+05:30

- इस्तिहार चस्पाते ही पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के आवास पर कुर्की जब्ती

श्चड्डह्लठ्ठड्ड@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

क्चश्वद्दस्न्क्त्रन्ढ्ढ/क्कन्ञ्जहृन्: बिहार में एक कहाबत है खिड़की- चौखट छुड़ा लेंगे। आखिरकार सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद बिहार पुलिस नींद से जागी और पूर्व मंत्री के घर इसी तरह की कार्रवाई की। दरअसल, आ‌र्म्स एक्ट में फरार बिहार सरकार के पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के चेरिया बरियारपुर थाना क्षेत्र के अर्जुनटोल स्थित आवास पर एसपी अवकाश कुमार के नेतृत्व में शनिवार को कुर्की जब्ती की गई। भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच की गई कुर्की में पूर्व मंत्री के आवास के ग्रील, चौखट और दरवाजा को उखाड़ दिया गया। करीब पांच घंटे तक चली पुलिस की कार्रवाई में पुलिस ने एक- एक समान जब्त कर साथ ले गई। कुर्की से पहले पुलिस ने सुबह में ढोल बजाकर पूर्व मंत्री के आवास पर इश्तेहार चस्पाया।

पूर्व मंत्री ने नहीं की सरेंडर

ज्ञात हो कि फरार चल रही पूर्व मंत्री की गिरफ्तारी में पुलिस को मिल रही असफलता के बीच सुप्रीम कोर्ट के सख्त आदेश ने बिहार सरकार को कटघरे में ला दी। सरकार के साथ डीजी के सख्त निर्देश के बीच पुलिस ने गिरफ्तारी के लिए दबाव बनाने को लेकर बीते गुरुवार को मंझौल न्यायालय में इश्तेहार के साथ कुर्की के लिए निवेदन किया। किन्तु न्यायालय ने शुक्रवार की देर शाम न्यायालय ने पुलिस को पूर्व मंत्री के ऊपर दबाव बनाने को मौका मिला लेकिन पूर्व मंत्री ने सरेंडर नहीं किया। पुलिस फिर पूर्व मंत्री के आवास पर पहुंच ढोल बजा इश्तेहार चिपकाते हुए दो घंटे की मोहलत दी लेकिन पुलिस को सफलता नहीं मिली।

जब भड़क उठे पूर्व मंत्री के देवर

कुर्की जब्ती के दौरान मजदूर द्वारा सम्पति को क्षतिग्रस्त करते देख पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के चचेरे देवर हेमंत वर्मा भड़क उठे। उन्होंने पुलिस के सामने तुरंत आपत्ति दर्ज कराई। पुलिस ने भी अविलंब उस मजदूर को कार्य से अलग कर दिया। कुर्की के दौरान एक मजदूर ने जानबूझ कर एक पैन पर हथौड़ा चलाकर क्षतिग्रस्त कर दिया। जिसे देख हेमंत ने आपत्ति दर्ज कराते हुए कहा खोलकर या निकाल कर ले जाएं। सम्पति को नष्ट नहीं करें। जिस पर थानाध्यक्ष ने त्वरित कारवाई करते हुए आरोपित मजदूर को कुर्की जब्ती कार्य से अलग कर दिया.

पुलिस संग दो बार नोंकझोंक

पूर्व मंत्री मंजू वर्मा के दौरान आवास पर पुलिस और पब्लिक के बीच दो बार हल्की झड़प हुई। शांति व्यवस्था के बीच हो रही कार्रवाई को देखने के लिए भीड़ उमड़ पड़ी थी। जिसे प्रशासन के द्वारा रोके जाने पर कुछ लोग विरोध करने लगे। दोनों पक्षों के बीच कहा- सुनी होने पर अधिकारी सहित हेमंत की सूझ- बूझ से मामला पहली बार सुलझा। वहीं दूसरी बार भी हल्की झड़प हुई। जिसमें एसपी को भी बाहर निकलना पड़ा और पुलिस की सख्ती के बाद ही लोग शांत हुए।

दोपहर में शुरू हुई कुर्की ज?ती की कार्रवाई

दोपहर 12:30 बजे एसपी के नेतृत्व में बड़ी संख्या में पुलिस बल पूर्व मंत्री के आवास पर पहुंची और कुर्की जब्ती की कार्रवाई शुरू की। पुलिस ने समानों की सूची बना पूर्व मंत्री के चचेरे देवर हेमंत वर्मा को उपलब्ध करवा कर सभी समान साथ ले गई। एएसपी मनोज कुमार तिवारी, एसडीपीओ मंझौल सूर्यदेव कुमार, एसडीपीओ बखरी वंदना, मजिस्टेट सह सीओ राजीव रंजन चौधरी, पुलिस निरीक्षक कुमोद कुमार, थानाध्यक्ष रंजीत कुमार रजक व महिला थानाध्यक्ष राज रंजनी, गढ़पुरा थानाध्यक्ष रुबीकांत कच्छप आदि मौजूद थे।

inextlive from Patna News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.