कुशीनगर में स्‍कूली वैन ट्रेन से टकराने में 13 बच्‍चों की मौत रेल मंत्री भी देंगे दो लाख की सहायता राश‍ि जारी हुए ये हेल्‍पलाइन नंबर

2018-04-26T13:00:45+05:30

GORAKHPUR कुशीनगर जिले के विशुनपुरा थाना क्षेत्र के दुदही बहपुरवा रेलवे क्रासिंग पर सुबह 650 बजे सिवान से गोरखपुर जाने वाली 55075 अप सवारी गाड़ी की चपेट में स्कूली बच्चों से भरी वैन आ गई घटना में वैन के परखच्चे उड़ गए घटना में 13 स्कूली बच्चों की मौत हो गई और आधा दर्जन से अधिक बच्चे गंभीर रूप से घायल हो गए वहीं हादसे की जानकारी जुटाने के ल‍िए रेलवे ने हेल्‍पलाइन नंबर जारी क‍िए हैं।

मृतक छात्रों के परिजनों को मुआवजा के रूप में  दो-दो लाख रुपये देने का ऐलान
gorakhpur@inext.co.in: प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो बस का चालक कान में ईयर फोन लगा रखा था और उसने ट्रेन आने की आवाज नहीं सुनी। मौजूद लोग भी रुकने के लिए चिल्लाते रहे, बस चालक ने उनकी भी आवाज नहीं सुनी। घटना के बाद कोहराम मच गया। घटना तब हुई जब दुदही बाजार स्थित डिवाइन स्कूल की वैन बच्चों से भरी बस फाटक विहीन रेलवे क्रासिंग को पार कर रही थी और तभी ट्रेन आ गई.  हादसे की सूचना पर रेलवे के महाप्रबंधक और मंडल रेल प्रबंधक सहित समस्त संबंधित अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दु:ख जताया है। उन्होंने मृतक छात्रों के परिजनों को मुआवजा के रूप में  दो-दो लाख रुपये  देने की घोषणा की है.

कुशीनगर में हुए हादसे में स्कूली बच्चों की मृत्यु का दुःखद समाचार मिला, मैंने सीनियर अधिकारियों द्वारा हादसे की इन्क्वायरी के निर्देश दिए हैं, मृतको के परिवार जनों को रेलवे की ओर से दो लाख रुपये की सहायता दी जायेगी जो उप्र सरकार द्वारा दी जा रही दो लाख की राशि के अतिरिक्त होगी।

— Piyush Goyal (@PiyushGoyal) April 26, 2018


रेलवे क्रासिंग को पार करते समय चालक की लापरवाही से हुआ हादसा

पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंडल स्थित थावे-कप्तानगंज सेक्शन में तमकुहïी रोड- दुदही स्टेशन के बीच स्थित अनमैंड क्रॉसिंग संख्या 45 पर सुबह 7 बजे के आसपास दुर्घटना हुई। क्रासिंग पर जागरूकता के लिए गेटमित्र अरविंद भारती तैनात था। उसने पैसेंजर ट्रेन 55075 के पास होते समय छात्रों से भरी टाटा मैजिक को रोकने का प्रयास किया लेकिन मैजिक वाला नहीं रुका। मरने वालों में अकरम पुत्र फरहान, करधन पुत्र हैदर निवासी पडरौना, अतिउल्लाह पुत्र नौशाद अंसारी निवासी कोकिलपट्टी, अनीस नाजिर पुत्र मोहम्मद नाजिर, मोहम्मद अरशद पुत्र मोहम्मद जहीर, मेराज पुत्र मैनुद्दीन निवासी गेरुखा, गोल्डेन पुत्र नौशाद निवासी कोकिलपट्टी, हरिओम पुत्र अंबर सिंह, साजिद व तमन्ना पुत्री हसन निवासी बतरौली का नाम शामिल है.मरने वाले अन्य बच्चों की पहचान की जा रही है। वही प्रत्‍यक्षदर्शि‍यों का कहना है क‍ि इस हादसे में 18 बच्‍चों की मौत हुई है।
हादसे में 13 छात्र मरे है तथा सात गंभीर रूप से घायल हुए हैं। उनका इलाज पडरौना जिला अस्पताल में चल रहा है। रेलमंत्री के निर्देश पर जेए ग्रेड की टीम मामले की जांच करेगी।
- संजय यादव, सीपीआरओ, एनई रेलवे 
हादसे की जानकारी के ल‍िए जारी हुए ये हेल्‍पलानइ नंबर

1-Commercial Control Varanasi - 05422224742 ,
2-Station Supdt./Siwan - 09771443944 ,
3-Station Supdt./ Kaptanganj- 9559715398 ,
4-Station Supdt./Deoria Sadar - 9794843924 ,
5-Station Supdt./Padrauna - 9838784742
कुशीनगर में पैसेंजर ट्रेन से टकराई स्‍कूल वैन 13 बच्‍चों की मौत 8 घायल, दर्दनाक हादसे पर CM ने जताया दुख

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.