सवाल कम अंक ज्यादा

2018-11-12T06:00:01+05:30

40 विषयों के मॉडल पेपर जारी, बदले पैटर्न पर परीक्षा देंगे छात्र

यूपी बोर्ड ने इस बार जारी किए ऑनलाइन मॉडल पेपर

MEERUT । यूपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं इस साल बदले हुए पैटर्न पर होंगी। एनसीईआरटी पैटर्न लागू होने की वजह से इस बार छात्रों को प्रश्नपत्र का स्वरूप बदला हुआ मिलेगा। इस बार सवाल कम और अंक ज्यादा होंगे। छात्रों को प्रश्नपत्र समझने में आसानी हो इसके लिए बोर्ड ने ऑनलाइन मॉडल पेपर भी जारी किए हैं।

नए पैटर्न से तैयारी

इस बार स्टूडेंट्स को परीक्षा में नए पैटर्न का प्रश्न पत्र मिलेगा। माध्यमिक शिक्षा परिषद ने मैथ्स, फिजिक्स, साइंस, केमेस्ट्री समेत कई सब्जेक्ट्स में सेक्शन सिस्टम को खत्म कर दिया है। वहीं प्रश्नों की संख्या को भी कम कर दिया गया है। 12वीं में केमेस्ट्री, बॉयो, मैथ्स समेत अधिकतर विषयों में अभी तक दो पेपर प्रथम प्रश्न पत्र और द्वितीय प्रश्न पत्र होते थे, लेकिन अब संबंधित विषय के बाद केवल प्रश्न पत्र ही लिखा होगा। इसी में पूरे कोर्स से संबंधित प्रश्न होंगे। एनसीईआरटी पैटर्न पर परीक्षा होने के चलते छात्रों को किसी प्रकार की समस्या न आए, इसके लिए बोर्ड ने 40 विषयों के मॉडल पेपर भी जारी किए हैं। बोर्ड ने यह सभी पेपर अपनी वेबसाइट पर अपलोड किए हैं। जिससे छात्रों को तैयारी करने में काफी मदद मिल सके। इन मॉडल पेपर में परीक्षा प्रश्न पत्र का पूरा खाका और स्वरूप दिया गया हैं, जिसकी सहायता से छात्र बदले हुए पैटर्न को आसानी से समझ सकते हैं।

यह हुए हैं मुख्य बदलाव

- बॉयोलॉजी, केमेस्ट्री, फिजिक्स में नौ प्रश्न ही हल करने होंगे। पहले दस- दस प्रश्न होते थे.

- इस बार एक प्रश्न 5 अंक का होगा, जबकि पहले 3 अंक का होता था। इस बार पेपर में प्रश्न की संख्या कम कर पांच- पांच अंक के चार प्रश्न होंगे।

- हिंदी की परीक्षा में इस बार 46 अंक के प्रश्न खंड- क में होंगे, वहीं 54 अंक के प्रश्न खंड- ख में होंगे।

- भूगोल के पेपर में 26 प्रश्न होंगे। इस बार शब्द सीमा भी निर्धारित रहेगी.

- अति लघु उत्तरीय प्रश्न 20 शब्द में, लघु उत्तरीय प्रश्न 100 शब्द में व विस्तृत उत्तरीय प्रश्न के उत्तर अधिकतम 300 शब्दों में लिखने होंगे।

काफी हद तक छात्रों को आसानी रहेगी। शब्द सीमा होने से छात्र टू दी प्वाइंट ही लिखेंगे। इसमें समय बचेगा और तैयारी भी ठीक होगी।

नीरा तोमर, प्रिंसिपल, श्री मल्हू सिहं आर्या इंटर कॉलेज

मॉडल पेपर से छात्रों को तैयारी करने में काफी सुविधा होगी। परीक्षा में समय कम रहेगा इसलिए भी यह पैटर्न को समझने में मददगार सिद्ध होंगे।

देवेंद्र , प्रिंसिपल, कृषक इंटर कॉलेज

बदला हुआ पैटर्न आएगा। छात्रों को उसी हिसाब से तैयारी करा रहे हैं। मॉडल पेपर से राहत मिलेगी। प्रश्न कम होने और अंक ज्यादा होने से छात्रों को प्रश्न पत्र हल करने में सतर्कता बरतनी होगी।

सुखनंदन त्यागी, प्रिंसिपल, राम सहाय इंटर कॉलेज

inextlive from Meerut News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.