लोकसभा चुनाव 2019 उत्तर प्रदेश में जानें कब कहां होगा मतदान

2019-03-11T09:56:31+05:30

केंद्रीय चुनाव आयोग द्वारा रविवार को लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होने के साथ ही प्रदेश में भी चुनाव की आदर्श आचार संहिता लागू हो गयी। जानें यूपी में कब कहां होगा मतदान

- लोकसभा चुनाव का आगाज,यूपी से बनेगी केंद्र की सरकार
- लोकसभा चुनाव के साथ खीरी की निघासन सीट पर होगा उपचुनाव

 यूपी में चुनाव- एक नजर में
- 07 चरणों में होगा यूपी में चुनाव
- 14.40 करोड़ कुल वोटर डालेंगे वोट
- 7.79 करोड़ कुल पुरुष वोटर
- 6.61 करोड़ कुल महिला वोटर  
- 8374 थर्ड जेंडर कुल वोटर
- 16.75 लाख 18 साल के नये वोटर
- 12.36 लाख वोटर्स 18-19 साल के नये जुड़े
- 14 लाख महिला वोटर्स की संख्या बढ़ी  
- 91709 कुल मतदान केंद्रों की संख्या
- 1।63.331 कुल पोलिंग स्टेशन
- 21.57 लाख की कुल वृद्धि वोटर्स लिस्ट में
- 23.48 लाख मतदाताओं का नाम लिस्ट से हटा
- 18 मार्च से प्रदेश में नामांकन की प्रक्रिया होगी शुरू
lucknow@inext.co.in
LUCKNOW: केंद्रीय चुनाव आयोग द्वारा रविवार को लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होने के साथ ही प्रदेश में भी चुनाव की आदर्श आचार संहिता लागू हो गयी। सूबे के मुख्य निर्वाचन अधिकारी वेंकटेश्वर लू ने चुनाव कार्यक्रम जारी होने की सूचना देने के साथ बताया कि लोकसभा चुनाव के साथ खीरी जनपद की निघासन सीट पर विधानसभा का उपचुनाव भी होगा। आयोग द्वारा घोषित कार्यक्रम के अनुसार प्रथम चरण के निर्वाचन की अधिसूचना 18 मार्च को जारी होगी। इसके मुताबिक प्रदेश में भी 18 मार्च को नामांकन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।
वीवीपैट का प्रयोग किया जा रहा
इस बार चुनाव में हर मतदेय स्थल पर वीवीपैट का प्रयोग किया जा रहा है। सारे जिलों में ईवीएम और वीवीपैट पर्याप्त संख्या में पहुंच चुके हैं तथा उनकी एफएलसी भी करा ली गयी है। वहीं पर्याप्त संख्या में सीपीएमएफ की तैनाती की जाएगी ताकि चुनाव शांतिपूर्वक संपन्न कराए जा सकें। आयोग ने इस बार मतदाता पहचान पत्र के विकल्प के रूप में जारी अभिलेखों में से मतदाता पर्ची को हटा दिया है। वोटर्स को मतदाता पर्ची  के साथ आयोग द्वारा जारी 11 अभिलेखों में से कोई एक अभिलेख साथ लाना होगा।
उम्मीदवारों पर ज्यादा सख्ती
उन्होंने बताया कि केंद्रीय चुनाव आयोग ने फॉर्म 26 में शपथपत्र के प्रारूप में बदलाव किया है। अब प्रत्याशी को पति। पत्नी। बच्चों एवं आश्रितों की पांच साल की आय का ब्योरा देना होगा। इसमें देश के साथ विदेश की संपत्ति का ब्योरा भी शामिल है। पैन के साथ यह जानकारी देनी होगी। बाद में इनकम टैक्स विभाग इसकी जांच करेगा और विसंगति मिलने पर आयोग की वेबसाइट पर अपलोड किया जाएगा। इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट द्वारा आपराधिक प्रवृत्ति के चुनाव लडऩे वाले उम्मीदवारों को फॉर्म 26 में मुकदमों के बारे में तमाम जानकारियां देने का आदेश भी दिया गया है। इसमें उम्मीदवार को अपना नाम। अपने राजनैतिक दल या निर्दलीय होने का उल्लेख। निर्वाचन क्षेत्र का नाम और मुकदमों के बारे में घोषणा करनी होगी।

सूचना वेबसाइट पर अपलोड करनी होगी

लंबित आपराधिक मामलों में उसे न्यायालय का नाम। मामले की संख्या और उसकी स्थिति। संबंधित अधिनियमों की धाराएं एवं अपराध का संक्षिप्त विवरण देना होगा। वहीं जिन मामलों में दोष साबित हो गया है उसमें न्यायालय का नाम एवं आदेश की तारीख के अलावा अपराध और सजा का विवरण देना होगा। साथ ही अभ्यर्थी को अपने खिलाफ मामलों की सूचना अपने दल को भी देनी होगी। वहीं राजनैतिक दल को ऐसे नेताओं के बारे में सूचना अपनी वेबसाइट पर अपलोड करनी होगी। इसके अलावा अखबारों और इलेक्ट्रानिक मीडिया में भी कम से कम तीन बार इसका मतदान से दो दिन पहले व्यापक प्रचार-प्रसार करना होगा।
आसान नहीं होगा केस छिपाना
- राजनैतिक दल अपनी वेबसाइट के अलावा टीवी चैनलों व अखबारों में आपराधिक छवि वाले उम्मीदवारों के बारे में जानकारी देंगे
- उम्मीदवारों को रिटर्निंग ऑफिसर के सामने यह घोषित करना होगा कि उन्होंने अपनी पार्टी को अपने आपराधिक मामलों के बारे में सूचित कर दिया है
- रिटर्निंग ऑफिसर ऐसे उम्मीदवारों को अखबार व चैनलों में व्यापक प्रचार-प्रसार के लिए रिमाइंडर भेजेंगे
- ऐसे उम्मीदवार जिला निर्वाचन अधिकारी को चुनाव में हुए खर्च के साथ उन समाचार पत्रों की प्रतियां भी जमा करेंगे जिसमें उक्त घोषणा प्रकाशित की गयी थी
पहला चरण
नामांकन प्रारंभ- 18 मार्च 2019
नामांकन अंतिम तिथि-25 मार्च 2019
नामांकन वापसी-28 मार्च 2019
वोटिंग-11 अप्रैल 2019
सीटें- सहारनपुर, कैराना,  मुजफ्फरनगर, बिजनौर, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर
दूसरा चरण
नामांकन प्रारंभ- 19 मार्च 2019
नामांकन अंतिम तिथि-27 मार्च 2019
नामांकन वापसी-29 मार्च 2019
वोटिंग- 18 अप्रैल 2019
सीटें- नगीना (सु.), अमरोहा, बुलंदशहर (सु.), अलीगढ़, हाथरस (सु.), मथुरा, आगरा (सु.), फतेहपुर सीकरी
तीसरा चरण
नामांकन प्रारंभ- 28 मार्च 2019
नामांकन अंतिम तिथि-4 अप्रैल 2019
नामांकन वापसी-8 अप्रैल 2019
वोटिंग- 23 अप्रैल 2019
सीटें- मुरादाबाद, रामपुर, संभल, फिरोजाबाद, मैनपुरी, एटा, बदायूं, आंवला, बरेली, पीलीभीत

चौथा चरण

नामांकन प्रारंभ- 2 अप्रैल 2019
नामांकन अंतिम तिथि- 9 अप्रैल 2019
नामांकन वापसी- 12 अप्रैल 2019
वोटिंग- 29 अप्रैल 2019
सीटें- शाहजहांपुर (सु.), खीरी, हरदोई (सु.), मिश्रिख (सु.), उन्नाव, फर्रुबाद, इटावा (सु.), कन्नौज, कानपुर (सु.), अकबरपुर, जालौन, झांसी, हमीरपुर
पांचवा चरण
नामांकन प्रारंभ- 10 अप्रैल 2019
नामांकन अंतिम तिथि- 18 अप्रैल 2019
नामांकन वापसी- 22 अप्रैल 2019
वोटिंग- 6 मई 2019
सीटें- धौरहरा, सीतापुर, मोहनलालगंज (सु.), लखनऊ, रायबरेली, अमेठी, बांदा, फतेहपुर, कौशांबी (सु.), बाराबंकी (सु.), फैजाबाद, बहराइच, कैसरगंज, गोंडा
छठा चरण
नामांकन प्रारंभ- 16 अप्रैल 2019
नामांकन अंतिम तिथि- 23 अप्रैल 2019
नामांकन वापसी- 26 अप्रैल 2019
वोटिंग- 12 मई 2019
सीटें- सुलतानपुर, प्रतापगढ़, फूलपुर, इलाहाबाद, अंबेडकरनगर, श्रावस्ती, डुमरियागंज, बस्ती, संतकबीरनगर, लालगंज, आजमगढ़, जौनपुर, मछलीशहर (सु.), भदोही
सातवां चरण
नामांकन प्रारंभ- 22 अप्रैल 2019
नामांकन अंतिम तिथि- 29 अप्रैल 2019
नामांकन वापसी- 2 मई 2019
वोटिंग- 19 मई 2019
सीटें- महराजगंज, गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, बांसगांव (सु.), घोसी, सलेमपुर, बलिया, गाजीपुर, चंदौली, वाराणसी, मीरजापुर, रॉबट्र्सगंज (सु.)

11 अप्रैल से शुरू होंगे लोकसभा चुनाव, 7 चरणों में जानें कब-कहां होगा मतदान


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.