चुनाव प्रचार में आनेवाले वीआईपी की सुरक्षा होगी कड़ी

2019-04-19T06:01:04+05:30

RANCHI:लोकसभा चुनाव के दौरान प्रचार के लिए राज्य में आने वाले वीआईपी को माओवादी अपना निशाना बना सकते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत अन्य कई बड़े नेता माओवादियों के निशाने पर हैं। राज्य सरकार के गृह विभाग के अपर सचिव रविशंकर वर्मा ने प्रधानमंत्री समेत अन्य बड़े नेताओं की सुरक्षा को लेकर विशेष सतर्कता बरतने का निर्देश झारखंड के डीजीपी डीके पांडेय समेत अन्य आला अधिकारियों को दिया है।

केन्द्रीय एजेंसी व राज्य पुलिस में तालमेल

लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित दूसरे जेड प्लस और जेड श्रेणी पाने वाले नेताओं के चुनावी दौरे को लेकर झारखंड पुलिस केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों के साथ मिलकर काम करेगी। लोकसभा चुनाव के दौरान प्रचार के लिए आने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित बड़े नेताओं पर नक्सल हमले की आशंका जताई गई है।

नक्सलियों ने जारी किया था पत्र

नक्सलियों द्वारा मुख्य सचिव को संबोधित करते हुए पत्र भेजा गया है जिसमें प्रधानमंत्री समेत अन्य नेताओं को लेकर गंभीर धमकी दी गई है। गृह विभाग ने मुख्य सचिव को भेजे गए पत्र के आधार पर पुलिस अधिकारियों से विस्तृत जांच रिपोर्ट की मांग की। गृह विभाग ने पत्र भेजने वाले माओवादियों को चिन्हित कर गिरफ्तारी का आदेश भी दिया है। पत्र में लिखा है कि लोकसभा चुनाव के कारण प्रधानमंत्री समेत अन्य नेताओं का दौरा झारखंड के अनेक हिस्सों में संभावित है। ऐसे में इन सभी की सुरक्षा के लिए विशेष सतर्कता बरतने की जरूरत है।

24 अप्रैल को प्रधानमंत्री का दौरा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 24 अप्रैल को लोहरदगा आने वाले हैं। प्रधानमंत्री लोहरदगा के बीएस मैदान में सभा को संबोधित करेंगे। उनकी सुरक्षा में एसपीजी की तैनाती रहेगी। हाल ही में एसपीजी ने राज्य पुलिस के आला अफसरों के साथ एक बैठक की थी, जिसमें एसपीजी सुरक्षा धारी नेताओं के दौरे के दौरान सुरक्षा व्यवस्था को लेकर भी चर्चा की गई थी।

पुिलस मुख्यालय ने जारी किया अलर्ट

गृह विभाग ने डीजीपी समेत एडीजी विशेष शाखा, एडीजी अभियान और एडीजी सीआईडी को पत्र भेजा था। इसके बाद झारखंड पुलिस अलर्ट पर है। सभी जिलों के एसपी को सतर्क करते हुए सुरक्षा के व्यापक प्रबंध करने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

वर्जन

लोकसभा चुनाव में आने वाले वीआईपी की सुरक्षा को लेकर जरूरी तैयारियां कर ली गई हैं। जेड प्लस और जेड श्रेणी की सुरक्षा पाने वाले वीआईपी को उनके प्रोटोकॉल के अनुसार सुरक्षा दी जाएगी। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में बीते दिनों नक्सलियों ने भाजपा विधायक भीम मांडवी समेत पांच पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी गई थी। घटना के बाद झारखंड पुलिस भी विशेष एहतियात बरत रही है। नक्सल प्रभावित इलाकों में चुनावी दौरा करने वाले नेताओं की सुरक्षा को लेकर पुलिस ने आवश्यक तैयारी की है। जरूरत पड़ने पर नेताओं को अतिरिक्त सुरक्षा भी दी जाएगी।

मुरारी लाल मीणा, एडीजी अभियान

inextlive from Ranchi News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.