लोकसभा चुनाव 2019 बिहार में तीसरे चरण की 5 सीट के लिए 82 कैंडिडेट्स मैदान में

2019-04-09T10:44:42+05:30

- पर्चा वापसी की आखिरी तिथि समाप्त, 23 अप्रैल को मतदान, 88 लाख मतदाता तय करेंगे प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला

PATNA : लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में सोमवार को नाम वापसी की अंतिम तिथि समाप्त हो गई। अब 82 प्रत्याशी किस्मत आजमाएंगे। संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने बताया कि नाम वापसी के बाद झंझारपुर में 17, सुपौल में 20, खगडि़या में 20, अररिया में 12 और मधेपुरा में 13 प्रत्याशी रह गए हैं। झंझारपुर और खगडि़या में अंतिम दिन किसी उम्मीदवार ने पर्चा वापस नहीं लिया, जबकि अररिया में दो, सुपौल में एक और मधेपुरा में एक अभ्यर्थी ने नाम वापस लिया है। नाम वापसी के बाद तीसरे चरण में मधेपुरा में त्रिकोणीय मुकाबला की स्थिति बन रही है। इस सीट पर राजद के शरद यादव, जदयू के दिनेश चंद्र यादव और मौजूदा सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव के बीच मुकाबला में हैं।

यहां 23 अप्रैल को होना है मतदान

बाकी चार सीटों पर आमने-सामने की लड़ाई की स्थिति बन रही है। झंझारपुर में जदयू के रामप्रीत मंडल और राजद के गुलाब यादव के बीच टक्कर होगी। हालांकि निर्दलीय देवेंद्र प्रसाद यादव भी मुकाबले में तीसरा कोण बनाने की कोशिश में हैं। सुपौल में जदयू के दिलेश्वर कामत और कांग्रेस की रंजीत रंजन आमने सामने होंगी। अररिया में भाजपा के प्रदीप सिंह और राजद के सरफराज आलम के बीच मुकाबला होने की संभावना है। खगडि़या में लोजपा के महबूब अली कैसर और वीआइपी पार्टी के मुकेश सहनी के बीच लड़ाई की स्थिति बन रही है। 23 अप्रैल को मतदान होना है। पांच संसदीय क्षेत्रों में कुल मतदाताओं की संख्या 88 लाख 31 हजार 956 है। इनमें पुरुष मतदाताओं की संख्या 46 लाख 22 हजार 718 है जबकि महिला मतदाताओं की संख्या 42 लाख 8 हजार 986 है।

inextlive from Patna News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.