MillennialsSpeak आतंकवाद पर करारा जवाब देने वाले को मिलेगा वोट

2019-03-18T03:37:45+05:30

दैनिक जागरण आईनेक्स्ट ने मिलेनियल्स स्पीक नाम के एक कैंपेन की शुरुआत की है। इसके तहत आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर चार राज्यों के 12 शहरों में #RaajniTEA पर मिलेनियल्स की राय जानी जा रही है।

कानपुर। चुनाव के समय ही नेताओं को जनता की फ्रिक होती है। जनता के बीच कई वायदे किए जाते हैं। पक्ष-विपक्ष एक दूसरे पर कटाक्ष करते हुए जनता को उनकी तकलीफ गिनाने लगते हैं। और एक बार जब सरकार बन जाती है तो जनता को किनारे कर दिया जाता है। दैनिक जागरण आई-नेक्स्ट के मिलेनियल्स स्पीक में युवाओं ने नेताओं पर निशाना साधते हुए उन्हें चेताया कि इस बार वह उसी नेता को अपने देश की कमान सौंपेंगे, जो नेता जनता के बीच रहकर विकास कार्य करेगा। जनता की जरूरतों को देखकर योजनाएं बनाएगा। साथ ही जनता की हर जरूरत को पूरा करेगा। दैनिक जागरण के राजनी'टी' में सभी युवाओ ने लोकसभा 2019 के चुनाव में अपना कीमती मतदान देने का संकल्प लिया। युवाओं ने एक सुर में कहा कि सुरक्षा और रोजगार के आधार पर ही इस बार वोट दिया जाएगा। सभी ने वोट देने का संकल्प भी लिया।

भ्रष्टाचार कम करने वाली चाहिए सरकार

मिलेनियल्स के उबलते हुए चुनावी मुद्दों को जानने के लिए हम गोरखपुर में सोमवार को मोहद्दीपुर में कात्यानी क्लासेज में पहुंचे। यहां युवाओं ने एजुकेशन सिस्टम को दुरुस्त करने और रोजगार बढ़ाने पर बात की। इसके अलावा यहां कुछ लोगों ने यह भी कहा कि सरकार को देश में भ्रष्टाचार कम करने और विकास कार्यों पर काम करने की जरुरत है।

 


महिला सुरक्षा और रोजगार पर हुई चर्चा

दैनिक जागरण आई नेक्स्ट की ओर से 'मिलेनियल्स स्पीक' में सोमवर को युवाओं ने अपनी समस्या पर लखनऊ में हबीबुल्ला स्टेट में चर्चा की। यहां भी लोगों ने पहले एजुकेशन सिस्टम का ही मुद्दा उठाया। यहां रवि सिंह ने कहा कि जब तक भारत का एजुकेशन इम्प्रूव नहीं होगा तब तक हम दुनिया में पीछे ही रहेंगे। इसलिए सरकार को इसपर पूरी तरह से ध्यान देना चाहिए। इसके अलावा यहां अन्य लोगों ने रोजगार और महिला सुरक्षा जैसे मुद्दे पर भी खुलकर बात की।

 


सैनिकों की रक्षा बेहद जरुरी

दैनिक जागरण आई नेक्स्ट की ओर से 'मिलेनियल्स स्पीक' में सोमवर की चर्चा देहरादून में राजपुर रोड के पास आयोजित की गई। यहां लोगों ने कहा कि सीमा पर सैनिकों की रक्षा बहुत जरूरी है और हम वोट उसी देंगे, जो आतंकियों को करारा जवाब देगा। 

 

 

 

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.