लोकसभा चुनाव 2019 सपा ने पूजा पाल को बनाया उन्नाव से प्रत्याशी आजम के खिलाफ आयोग में शिकायत

2019-03-29T12:28:53+05:30

सपा ने पूजा पाल को उन्नाव से अपना प्रत्याशी घोषित किया है। वे प्रयागराज से बसपा के टिकट पर दो बार विधायक रही हैं। इसके अलावा आजम खां के खिलाफ आयोग में शिकायत दर्ज की गई है।

lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : लोकसभा चुनाव में टिकट बंटवारे के दौरान उन्नाव से सपा-बसपा गठबंधन की ओर से पूजा पाल को प्रत्याशी बनाए जाने की घोषणा ने सबको हैरत में डाल दिया है। प्रयागराज से बाहुबली विधायक रहे राजू पाल की हत्या के बाद उनकी पत्नी पूजा पाल ने अपने पति के हत्यारोपी माफिया अतीक अहमद और उनके भाई को दो बार बसपा के टिकट पर धूल चटाई थी। पूजा पाल को पिछले साल बसपा सुप्रीमो मायावती ने पार्टी से निष्कासित कर दिया था। इसके बावजूद, सपा ने अपने कोटे की उन्नाव सीट से उनको प्रत्याशी बनाया है। ध्यान रहे कि उन्नाव में भाजपा से वर्तमान सांसद साक्षी महाराज जबकि कांग्रेस से पूर्व सांसद अन्नू टंडन प्रत्याशी हैं। वहीं सपा के कोटे की प्रयागराज सीट से अभी प्रत्याशी घोषित नहीं किया गया है।

मुरादाबाद में पूर्व बसपाई को टिकट

सपा ने इसके अलावा चार अन्य सीटों पर भी अपने प्रत्याशी घोषित किए है। मुरादाबाद सीट से मीट कारोबारी एवं पूर्व बसपाई नासिर कुरैशी को टिकट दिया गया है। निकाय चुनाव से पहले नासिर बसपा छोड़कर सपा में शामिल हुए थे। इससे पहले वह दो बार बसपा के टिकट पर विधानसभा का चुनाव लड़ चुके हैं। दोनों बार उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। 2012 में मुरादाबाद देहात विधानसभा क्षेत्र से जबकि 2017 में कांठ विधानसभा क्षेत्र से लड़े थे। वहीं बरेली से भगवत शरण गंगवार को प्रत्याशी बनाया गया है। यहां भाजपा की ओर से केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार चुनाव मैदान में हैं। सपा सरकार में मंत्री रह चुके भगवत शरण ने पिछले विधानसभा चुनाव में बरेली की नवाबगंज सीट से चुनाव लड़ा था। वे दो बार बीजेपी से जबकि तीन बार सपा से विधायक रह चुके हैं। वर्ष 2002 में उन्होंने भाजपा छोड़कर सपा की सदस्यता ग्रहण की थी। इसके अलावा सपा ने झांसी से श्याम सुंदर सिंह यादव और कुशीनगर से नथुनी प्रसाद कुशवाहा को टिकट दिया है।

पहले भी दो बार आजम के खिलाफ हो चुकी है चुनाव आयोग से शिकायत
आवाम-ए-अहले सुन्नत रामपुर के सदर तंजीम मौलाना मोहिब्बे अली नईमी रामपुरी ने प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री और सपा नेता आजम खां पर आरोप लगाया है कि वह लोकसभा चुनाव में वोट के लिए जनता को धमका रहे हैं। इसे लेकर उन्होंने गुरुवार को मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय में लिखित शिकायत भी दर्ज कराई है। शिकायत पत्र में उन्होंने लिखा है कि रामपुर में आजम खां का आतंक व्याप्त है। आरोप लगाया गया है कि 2017 के विधानसभा चुनाव में उन्होंने जनता को धमका कर अपनी पार्टी के पक्ष में वोट डलवाया था और यही तरीका इस बार के लोकसभा चुनाव में भी अपनाना चाहते हैैं। सिर्फ इतना ही नहीं वह इसे लेकर वर्तमान जिलाधिकारी को भी प्रभावित करने का प्रयास कर रहे हैं। सदर तंजीम ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी से इसे लेकर निष्पक्ष जांच कराने की मांग की है। शिकायत करने वालों में अब्दुल जाहिद और मोहम्मद हुसैन साबरी भी शामिल रहे। ध्यान रहे कि इससे पहले रामपुर में कांग्रेस नेता फैजल लाला, पूर्व मंत्री निसार हुसैन के पुत्र मुस्तफा हुसैन और भाजपा नेता भारत भूषण गुप्ता भी चुनाव आयोग से आजम खां के खिलाफ शिकायत कर चुके है।

चौकीदार को इस्तीफा देकर भाजपा सांसद पहुंचे सपा दफ्तर, टिकट कटने से थे नाराज

मुलायम और शिवपाल 1 अप्रैल को भरेंगे नामांकन पत्र, जानें कहां से लड़ रहे हैं चुनाव


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.