सर्दीगर्मी का कॉम्बिनेशन बना रहा बीमार

2018-11-20T06:00:26+05:30

सुबह शाम की ठंड और दोपहर की गर्मी से लोगों को शिकार बना रही बीमारियां

डॉक्टर्स बोले, बढ़ाएं इम्यूनिटी, बरते सावधानी, न करें लापरवाही

MEERUT। मौसम में चल रहे बदलाव से पैदा होने वाली बीमारियां लोगों को अपना शिकार बना रही हैं। सुबह और शाम को जहां लोग गर्म कपड़े पहनकर जाड़े से बच रहे हैं वहीं दिन की गर्मी में पंखे और एसी चला रहे हैं। सर्दी और गर्मी के इस कॉम्बिनेशन का असर सीधे लोगों की सेहत पर पड़ रहा है। जिसकी वजह से दिनों दिन हॉस्पिटल पहुंचने वाले मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है।

वीक इम्यूनिटी बनी मुसीबत

सुबह सर्दी और दोपहर में गर्मी होने की वजह से मौसम का ऐसा माहौल तैयार हो रहा है, जिससे लोगों की इम्यूनिटी वीक होने लगी है। जिला अस्पताल के एसआईसी डॉ। पीके बसंल के मुताबिक इस मौसम में इम्यूनिटी कमजोर होने लगती हैं और इसकी वजह से एलर्जिक और वायरल बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। कमजोर इम्यूनिटी वाले लोग तुरंत ही वायरल बुखार, सर्दी व खांसी का शिकार हो जाते हैं। साथ ही ऐसे मौसम में सांस के रोगी, डायबिटीज व टीबी के मरीजों की भी दिक्कत बढ़ गई है। जिला अस्पताल में इन दिनों करीब 500 से 700 मरीज इसी तरह की समस्या लेकर आ रहे हैं जबकि मेडिकल कॉलेज में करीब 2000 मरीज इन बीमारियों के पहुंच रहे हैं।

हो सकता है निमोनिया

मौसम की तब्दीली के चलते फिलहाल अस्पतालों में खांसी, जुकाम और वायरल बुखार के अधिक मरीज देखने को मिल रहे हैं। फिजिशयन डॉ। पीके जैन बताते हैं कि यह मौसम सबसे ज्यादा खतरनाक हैं और सावधानी नहीं बरते जाने पर लोग वायरल के अलावा निमोनिया या लंग इंफेक्शन के शिकार भी हो सकते हैं। इसलिए बेहद जरूरी है कि इस मौसम में सावधानी बरती जाए। थोड़ी सी लापरवाही से स्वास्थ्य खराब हो सकता है।

हो सकता है डिप्रेशन

सुबह-शाम की सर्दी और दोपहर की गर्मी का असर लोगों की मानसिक सेहत पर भी पड़ रहा है। लोगों में डिप्रेशन और स्ट्रेस भी बढ़ना लगा हैं। मानसिक रोग विशेषज्ञ डॉ। विभा नागर बताती हैं कि इस मौसम में ब्लड सर्कुलेशन कम होता जाता है, जिसकी वजह से रक्त धमनियां सिकुड़ने लगती हैं। जिसका असर दिमाग और दिल पर पड़ता है और लोगों में स्ट्रेस बढ़ने लगता है।

ये बरतें सावधानी

ज्यादा चीनी, ट्रांसफैट, सोडियम व ज्यादा कैलोरी वाला खाना न खाएं।

दिल के रोगों और हाइपरटेंशन से पीडि़त खास ख्याल रखें और सुबह शाम की ठंड से बचें।

शरीर के वजन को नियंत्रित रखें। शाकाहारी खाना, हरी सब्जियां, सलाद को भोजन में शामिल करें।

बदलते मौसम के साथ ही बुखार और खांसी की दिक्कत होने लगी हैं। सुबह सर्दी लगती है जबकि दोपहर में मौसम गर्म हो जाता है।

अफसाना

हार्ट की प्राब्लम हैं। सुबह सांस लेने में थोड़ी परेशानी होती हैं। गर्म कपड़ों से खुद का बचाव का कर रहे हैं।

राजा वर्मा

हाई बीपी की समस्या एक दम से बढ़ गई है। कुछ दिनों से ज्यादा दिक्कत हो रही है।

बहादुर सिंह

inextlive from Meerut News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.