भ्रष्टाचार के एक और मामले में मलेशिया के पूर्व पीएम नजीब रजाक की फिर हो सकती है गिरफ्तारी

2018-08-07T05:47:27+05:30

मलेशिया के पूर्व पीएम नजीब रजाक पर मनी लॉन्ड्रिंग का चार्ज लगने वाला है। कहा जा रहा है कि गिरफ्तारी भी हो सकती है।

कुआलालंपुर (रॉयटर्स)। मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री नजीब रजाक पर बुधवार को मनी-लॉन्ड्रिंग एक्ट का चार्ज लगाया जाएगा। इस बात की जानकरी मलेशिया की भ्रष्टाचार विरोधी एजेंसी ने दी। बता दें कि 65 वर्षीय नजीब और उनका परिवार मई से ही 1 मलेशिया विकास बेरहाद (1 एमडीबी) नाम के स्टेट फंड में हुए अरबों डॉलर के घोटाले को लेकर जांच की प्रक्रिया से गुजर रहा है।
अदालत में नहीं साबित हुआ दोष
बता दें कि पिछले महीने, नजीब को 1 एमडीबी की एक पूर्व इकाई एसआरसी इंटरनेशनल से अपने व्यक्तिगत बैंक खाते में 42 मिलियन रिंगगिट ट्रांसफर करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया था। हालांकि अदालत में उनका दोष साबित नहीं हुआ, जिसके बाद उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया। मंगलवार को भी उन्हें मलेशियाई भ्रष्टाचार आयोग (एमएसीसी) के कार्यालय में केस से संबंधित पूछताछ के लिए बुलाया गया था। उनसे लगभग 45 मिनट तक बातचीत की गई। इसके बाद जैसे ही नजीब कार्यालय से बाहर निकले, उसके तुरंत बाद एक बयान में भ्रष्टाचार एजेंसी ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री पर मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट का चार्ज लगाया जाएगा।
छह देश में की जा रही जांच
इसके अलावा भ्रष्टाचार विरोधी एजेंसी ने अपने आधिकारिक बयान में यह भी कहा कि आरोप एसआरसी अंतर्राष्ट्रीय मामले से संबंधित हैं। हालांकि नजीब के प्रवक्ता ने अभी इस मामले को लेकर कोई टिप्पणी नहीं की है। बता दें कि 1 एमडीबी में हुए घोटाले की जांच कम से कम छह देशों में की जा रही है। उन देशों में अमेरिका, स्वीटजरलैंड और सिंगापुर जैसे बड़े देश भी शामिल हैं। बता दें कि भ्रष्टाचार मामले में अब तक मलेशिया में कई जगहों पर छापेमारी की जा चुकी है। रेड के दौरान पुलिस ने अलग अलग जगहों से पैसों, आभूषण और लक्जरी हैंडबैग समेत कई महंगे सामान के रूप में करीब अरबों की संपत्ति बरामद किये हैं।
नई सरकार ने दिया जांच का आदेश
पूर्व प्रधानमंत्री नजीब रजाक पर लगे भ्रष्टाचार के आरोप के चलते ही उन्हें आम चुनाव में हार का सामना करना पड़ा था। इसके बाद 92 वर्षीय महातिर मुहम्मद देश के प्रधानमंत्री बने। नई सरकार ने घोटालों की जांच के आदेश दिए। महातिर सरकार ने नजीब के देश से बाहर जाने पर भी रोक लगा दी है।

मलेशियाई पूर्व पीएम नजीब से करोड़ो के घोटाले में हुई पूछताछ

मलेशिया भ्रष्टाचार मामला : स्टेट फंड में हुए घोटाले का मास्टरमाइंड मकाउ फरार


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.