मलेशियाई पुलिस ने स्टेट फंड घोटाले में जब्त किये 189 करोड़ कस सकता है पूर्व प्रधानमंत्री पर शिकंजा

2018-05-25T06:29:06+05:30

मलेशियाई पुलिस ने शुक्रवार को राज्य निधि में हुए घोटाले की जांच पड़ताल के दौरान लगभग 189 करोड़ रुपये कैश और 400 से अधिक लक्जरी हैंडबैग जब्त किए हैं। जब्ती कई अलग अलग अपार्टमेंटों से हुई है।

कई अपार्टमेंटों में छापेमारी
कुआलालंपुर (रॉयटर्स)।
मलेशिया की पुलिस ने शुक्रवार को पूर्व प्रधानमंत्री नजीब रजाक द्वारा बनाए गए 1 मलेशिया डेवलपमेंट बर्हाड (एमडीबी) नाम के राज्य निधि में हुए घोटाले की जांच पड़ताल के लिए कई अपार्टमेंटों में छापेमारी की। इस छापेमारी में पुलिस ने लगभग 189 करोड़ रुपये कैश और 400 से अधिक लक्जरी हैंडबैग जब्त किए। वाणिज्यिक अपराध विभाग के प्रमुख अमर सिंह ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि 18 मई को जब नजीब के घर के साथ उनके बेटे और बेटी के अपार्टमेंट में छापेमारी की गई तो दर्जनों अवैध संपत्तियों के कागजात मिले।

अपार्टमेंट में नोटों से भरे 35 बैग भी मिले

पुलिस को एक खाली अपार्टमेंट में नोटों से भरे 35 बैग मिले हैं, जिसमें 26 देशों की करेंसी है और उनकी कीमत 11.4 करोड़ रिंगिट (करीब 195 करोड़ रुपये) है। सिंह ने कहा, 'हम बैंक अधिकारियों के साथ मिलकर जब्त किये गए कुल नगदी का अनुमान लगा रहे हैं।' उन्होंने कहा, 'कुआलालंपुर के बुटक बिंटांग के ठीक बगल में पैविलियन रेजीडेंस नाम का एक खाली अपार्टमेंट है, उसी में यह सभी पैसे बरामद किये गए। हालांकि नजीब के परिवार में से किसी भी सदस्य का इस अपार्टमेंट से संबंध नहीं है। उन्होंने मालिक का नाम बताने से भी इंकार कर दिया।'

नजीब की बेटी के घर से 150 से अधिक हैंडबैग

पुलिस को अपार्टमेंट में हैंडबैग के 284 बॉक्स भी मिले। इसके अलावा नजीब की बेटी नोरीना नजवा के घर से पुलिस ने 150 से अधिक ब्रांडेड हैंडबैग जब्त किए, जिसमें बच्चों के जूते रखे थे। सिंह ने कहा कि ज्यादातर बैग एक हर्मीस ब्रांड के थे। हमने हर्मीस के साथ इस बारे में बातचीत की है और हम जल्द इन बैग्स की फोटोज उन्हें भेजकर इनके वैल्यू पता कर लेंगे।' हालांकि सिंह ने नजीब के बेटे अश्मान के घर में क्या पाया, इसके बारे में कुछ नहीं बताया। बता दें कि नजीब पर आरोप है कि उन्होंने 1 मलेशिया डेवलपमेंट बर्हाड (एमडीबी) सरकारी कंपनी से 70 करोड़ डॉलर (करीब 4,760 करोड़ रुपये) अपने निजी खाते में ट्रांसफर कराए थे। नजीब ने हालांकि इन आरोपों से इन्कार किया है।
हार का सामना करना पड़ा
लेकिन इन्हीं आरोपों की वजह से उनके नेतृत्व वाले गठबंधन को गत नौ मई को हुए आम चुनाव में महातिर मुहम्मद के हाथों करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा। नई सरकार ने नजीब के देश से बाहर जाने पर रोक लगा दी है।

मलेशिया में कट जाएगा कैबिनेट मंत्रियों के वेतन का 10 प्रतिशत

10 मिलियन डॉलर के घोटाले में एंटी करप्शन टीम का सामना करेंगे पूर्व मलेशियाई प्रधानमंत्री नजीब रजाक


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.