हत्या कर डेडबॉडी गंगा में फेंकी

2012-06-26T12:01:03+05:30

Patna बबीता की लाश गंगा में तलाशी जा रही है परिजनों ने संडे को उसके लापता होने की रिपोर्ट दीघा थाने में दर्ज करवायी थी सुसराल पक्ष पर शक जाहिर करते हुए उसके भाई मनोज पटेल ने आरोप लगाया था कि दहेज के लिए उसकी बहन की हत्या कर दी गई

एंट्री होने के बाद से वह फरार
संडे को बबीता का पति चंदन भी थाने आया था। मगर रिपोर्ट की एंट्री होने के बाद से वह फरार है। बबीता के भाई और रिश्तेदारों ने उसके ससुर अवधेश राय को पकड़कर थाने के हवाले किया। देर रात तक पुलिस ने पूछताछ की तो मामला खुला और पता चला कि चंदन के दोस्त विशाल सहित उसके घर वालों ने बबीता की लाश को चादर में लपेटकर पत्थर बांध गंगा में फेंक दिया है।

चार महीने भी जी न सकी
पीएमसीएच से रिटायर्ड महेन्द्र राउत की बेटी बबीता शादी के बाद चार महीने भी जी न सकी। 29 फरवरी 12 को उसकी शादी शक्ति नगर बालू पर निवासी अवधेश राय के बेटे चंदन से हुई। चंदन टूरिज्म डिपार्टमेंट में कांट्रैक्ट बेसिस पर काम करता है। भाई मनोज की मानें तो शादी के बाद से ही वह बबीता को प्रताडि़त करता था। एक महीने बाद ही वह दो लाख रुपये और सोने की चेन मांग रहा था। 15 दिनों पहले भी इस बात को लेकर झगड़ा हुआ था।
संडे को घर वालों के दी खबर
चंदन ने बबीता के घर वालों को संडे को खबर दी, जबकि बबीता की लाश को ठिकाने इन लोगों ने 20-21 जून की रात ही लगा दिया था। विशाल ने पुलिस को बताया कि वह इंडिका कार से लाश को बालू पर के सामने गंगा में ले गया था। मंडे को दिन भर लाश को गोताखोरों से निकालवाने की कोशिश में पुलिस लगी रही।

भारती के प्रेम में पागल था चंदन
चंदन ने शादी तो कर ली मगर उसके दिल में कोई और लड़की बसी थी। वह जिस लड़की से प्यार करता था उसके बीच में जाति की दीवार खड़ी हो गयी। बाद में बबीता से शादी हो गयी। बबीता सुन्दर थी बावजूद इसके चंदन के दिल में भारती (बदला नाम) ही बसी रही। देर रात वह घर लौटता। धीरे धीरे बबीता भी सारी बात जान गयी थी। कुर्जी के चश्मा गली में रहने वाली भारती और चंदन की प्रेम कहानी सभी जानते हैं। बबीता के भाई मनोज ने बताया कि हमलोगों को यह बात बाद में पता चली। इज्जत के लिए चुप रहे। सोचा सबकुछ ठीक हो जायेगा, लेकिन आज बहन को ही खो बैठे।

कौन है भारती
बबीता के घर वालों ने भारती के बारे में कई जानकारी ली है जिसे पुलिस को भी बताया। पुलिस संडे की रात भारती के घर भी गयी। उसके पिता से पूछताछ की। पिता ने बताया कि वह दिल्ली में सीए कर रही है। वैसे इस बात के पुख्ता प्रमाण पुलिस के पास हैं कि भारती 21 तारीख के बाद ही दिल्ली गयी है। बबीता के परिजनों ने बताया कि भारती से चंदन का रिश्ता काफी पुराना है और इन लोगों ने पहले मंदिर में शादी रचाई थी। इन सारी चीजों की पड़ताल पुलिस कर रही है। बबीता की मौत के लिए भारती कितना जिम्मेदार है पुलिस इस दिशा में भी जांच कर रही है। वह पोस्ट ग्रेजुएशन कर चुकी है। वैसे इस बात की भी चर्चा है कि भारती से सात साल छोटे उसके भाई का दोस्त चंदन से प्यार हो गया।
सिर्फ लाश को ठिकाने लगाया
पुलिस ने चंदन के पिता अवधेश से पूछताछ की तो उसने पुलिस को बताया कि चंदन 20 तारीख की रात को छत पर फोन से बात करने चला गया। भारती से बात कर रहा था इसके बाद बबीता से झगड़ा हो गया। इसके बाद उसने फांसी लगा ली। उसने बबीता की लाश को ठिकाने लगाने के लिए अपने कुछ खास परिचितों को बुलाया। एक तो गाड़ी लेकर आया लेकिन लाश देखकर भाग निकला। इसके बाद विशाल ने साथ देते हुए लाश को गंगा में फेंकने में मदद की। लेकिन पुलिस को उसके बयान पर विश्वास नहीं। वैसे इन लोगों के मोबाइल का सीडीआर निकाला जा रहा है जिससे काफी कुछ साफ हो जाएगा।



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.