यह बाज 10 साल से कर रहा विम्बलडन कोर्ट की निगरानी 5 से 9 बजे करता है ड्यूटी

2018-07-15T08:32:30+05:30

विम्बलडन 2018 की शुरुआत हो चुकी है। दुनिया के इस सबसे पुराने टेनिस टूर्नामेंट के लिए सिर्फ इंसानो की नहीं बल्कि बाज पक्षी की भी मदद ली जाती है।

विम्बलडन कोर्ट का सिक्योरिटी गार्ड है ये
कानपुर। दुनिया के सबसे पुराने और प्रतिष्ठित टेनिस टूर्नामेट विम्बलडन की शुरुआत हो चुकी है। आमतौर पर इस प्रतियोगिता में कौन जीता या कौन हारा, इसकी चर्चा होती है। मगर इसका आयोजन करवाना कितना मुश्किल काम है यह शायद आपको नहीं पता। वैसे कोर्ट की सुरक्षा के लिए पुलिस या गार्ड्स तैनात किए जाते हैं लेकिन ऊपर आसमान में उड़ने वाले परिदों से भी टेनिस कोर्ट को बचाना होता है। इसके लिए ऑल इंग्लैंड लॉन क्लब ने एक बाज पक्षी को तैनात किया है। टेलिग्राफ की एक रिपोर्ट की मानें तो, विम्बलडन कोर्ट के ऊपर आसमान में रुफस नाम का बाज लगातार उड़ता रहता है। यह कबूतरों व अन्य पक्षियों को परिसर के आसपास भी भटकने नहीं देता।
10 साल से कर रहा ड्यूटी
रुफस जब 16 हफ्तों का था तबसे यह काम कर रहा। उसे विम्बलडन कोर्ट की सुरक्षा करते हुए 10 साल हो गए हैं। बाज की देखरेख कर रहीं इमोजेन डेविस बताती हैं कि, 'रुफस अपने काम में माहिर है। वह कोर्ट के आसपास भी किसी पक्षी को भटकने नहीं देता। हालांकि बीते वर्षों की तुलना में इस साल रुफस का काम बढ़ गया है। इसकी वजह है विम्बलडन कोर्ट का नया कंस्ट्रक्शन। नई छत के चलते कबूतरों के पास अब घर बसाने या घोसला बनाने की पर्याप्त जगह हो गई है।
इस साल बढ़ गया काम
आपको बता दें कि ऑल इंग्लैंड लॉन क्लब ने टेनिस कोर्ट पर एक छत बनवाई है, जिसके चलते अब खिलाड़ी बरसात या बारिश में भी बिना किसी बाधा के खेल सकेंगे। एक ओर जहां खिलाड़ियों को आराम मिल गई वहीं रुफस का काम दोगुना बढ़ गया। मिस डेविस कहती हैं, 'रुफस अपने इलाके को अच्छे से समझता है। वह यह काम पिछले कई सालों से लगातार करता आ रहा। हालांकि इस बार जब काम बढ़ गया तो उसका साथी पोलक्स इसमें मदद करेगा।'

टि्वटर पर भी है चर्चित

रुफस एक अमरीकी हैरिस प्रजाति का बाज है। यह सिर्फ विम्बलडन ही नहीं नॉर्थम्पटन रग्बी ग्राउंड और फुलहाम फुटबॉल क्लब की भी देखरेख करता है। इस साल गर्मी ज्यादा होने के चलते रुफस के डेली रुटीन में बदलाव आया है। अब वह रोजाना 5 से 9 बजे तक पेट्रोलिंग के बीच नहाता जरूर है ताकि गर्मी से बच सके। बताते चलें, रुफस सालों से लोगों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। साल 2012 में उसका एक टि्वटर अकाउंट भी खोला गया जिसमें 10 हजार से ज्यादा फॉलोअर्स हैं।
आपके चहेते स्टार खिलाड़ी और उनके अनोखे टोटके
4 महीने की प्रेग्नेंसी में विंबलडन खेलने उतरी ये खिलाड़ी


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.