कोई बैंकर तो कोई जीत चुकी है एशियन गेम्‍स में मैडल मिलिए दुनिया की 10 रईस मुस्‍लिम महिलाओं से

2017-03-20T11:11:00+05:30

आप दुनिया के सबसे अमीर पुरुषों और सबसे अमीर महिलाओं से बखूबी वाकिफ हैं। आपने कभी ये अलग करके नहीं देखा होगा कि इनमे से कौन किस संप्रदाय से है। वहीं जब बात मुस्‍लिम महिलाओं की हो तो आमतौर पर उन्‍हें व्‍यवसाय या खेलों से जोड़ कर नहीं देखा जाता है। आज आपको हैरान करते हुए हम आपको 10 सबसे अमीर मुस्‍लिम महिलाओं से मिलवा रहे हैं जो खिलाड़ी से लेकर बैंकर और व्‍यवसायी भी हैं।

प्रिंसेस अमीरा अल तवील: सऊदी अरब के प्रिंस अल वालिद बिन तलाल की पत्नी हैं अमीरा अल तवील फोर्ब्‍स के अनुसार विश्‍व के सबसे सबसे अमीर लोगों में प्रिंस तलाल का स्‍थान 26वां है और इसीलिए उनकी पत्‍नी अमीरा भी सबसे अमीर मुस्‍लिम महिलाओं में शामिल हैं।

प्रिंसेस हाजा हफीजा सुरूरूल बोलकिया: ब्रुनेई के सुल्तान की चौथी बेटी हाजा हफीजा सुरूरूल बोलकिया भी दूनिया की अमीर मुस्‍लिम महिलाओं में शामिल हैं। किसी दौर में सबसे अमीर व्‍यक्‍ति माने जाने वाले हाजा हफीजा के पिता के रॉल्‍स रॉयल सहित करीब 7,000 कारें हैं और विश्‍व के सबसे विशाल निवास में वो रहते रहे हैं। उनके महल में 1,700 कमरे हैं। हफीजा की शादी में सुल्‍तान ने 20 मिलियन डॉलर खर्च किए थे।

महारानी रानिया: जार्डन के प्रिंस अब्‍दुल्‍ला द्वितीय की पत्‍नी हैं महारानी रानिया। अब्दुल्ला द्वितीय इब्न अल-हुसैन जॉर्डन के हाशमी राज्‍य के किंग हैं। हालाकि किंग अब्‍दुल्‍ला ने कभी अपनी संपत्‍ति का खुलासा नहीं किया पर जाहिर है कि वे बेहद संपन्‍न हैं और इसीलिए उनकी पत्‍नी का शुमार भी अमीर महिलाओं में होता है।
रंगो से सजे चेहरे में कौन एक्‍ट्रेस लगती है सबसे खूबसूरत, आप खुद ही देख लो

शेख हनादी बिंत नसीर खालेद अल थानी: कतर की शेख हनादी एक रियल स्‍टेट कारोबारी, इन्‍वेस्‍टर और बैंकर और कतर की अर्थव्‍यवस्‍था में सबसे सफल महिला हैं। शेख हनादी वाब शहर रियल एस्टेट विकास परियोजना की सीईओ और स्‍टैंडर्ड चार्टेट बैंक की विशेष सलाहकार हैं।  करीब 15 बिलियन डॉलर की संपत्‍ति की मालिक शेख हनादी इन सारे कामों के साथ साथ नसीर बिन खालेद अल थानी एंड संस ग्रुप की डिप्‍यूटी सीईओ की जिम्‍मेदारी भी संभालती हैं।  

प्रिंसेस लाला सलमा: मोरक्को के राजा मोहम्मद छठे की पत्नी प्रिंसेस लाला सलमा एक स्‍कूल टीचर की बेटी हैं। वे पहली आम जनता द्वारा स्‍वीकृत संसद से चुनी गयी महारानी हैं। दो बच्‍चों की मां लाला लो प्रोफाइल प्राइवेट लाइफ बिताना पसंद करती हैं।

शेख माइथा बिंत मोहम्मद बिन राशीद अल मकुटुम: करीब 40 अरब पारिवारिक संपत्‍ति की हिस्‍सेदार शेख माइथा दुबई की निवासी हैं। वे 2006 के एशियन गेम में यूएई की ओर से शामिल हुईं और ताइकांडो में सिल्‍वर मैडल जीती थीं।
दुनिया के सबसे अमीर एक प्रतिशत लोग यहां रहते हैं

प्रिंसेस फातिमा कोलसुम ज़ोहर देवबारी: कभी एक राजकुमारी रहीं फातिमा कोलसुम ज़ोहर देवबारी अब सउदी अरब की आधिकारिक महारानी हैं। शेख अवदी अल मोहम्मद की पत्‍नी फातिमा कोलसुम विश्‍व के सबसे समृद्धिशाली राज परिवारों में से एक पाने वाली फेमिली की सदस्‍य हैं। हालाकि वे अपना चेहरा सामान्‍य तौर पर कवर करके रखती हैं पर उनकी कुछ तस्‍वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई और पता चला कि वे बेहद खूबसूरत भी हैं।   

प्रिंसेस मजीदा नूरुल बोलकिया: ब्रूनेई के सुल्तान की ही दूसरी बेटी और चौथी संतान हैं प्रिंसेस मजीदा नूरुल। इनकी शादी ब्रुनेई के प्रधानमंत्री के कार्यालय में एक्‍जीक्‍यूटिव ऑफीसर खैरुल खलील से हुई है जिनका राजपरिवार से भी रिश्‍ता है। 1997 में मजीदा के पिता को विश्‍व सबसे अमीर व्‍यक्‍ति घोषित किया गया था।

सुल्ताना नूर ज़हहाराह: मलेशिया में तारानगंजु के किंग अल-वाथिक बिल्हु तनुकु मिज़ान ज़ैनाल अबिदीन की पत्‍नी हैं सुल्ताना नूर ज़हहाराह। नूर ज़हहाराह स्‍थानीय संसद द्वारा नियुक्‍त की गयी 13 वीं रानी थीं। हालाकि सुल्‍ताना की संपत्‍ति की जानकारी कभी जाहिर नहीं की गयी पर एक अनुमान के अनुसार वे तकरीबन 15 बिलियन डॉलर की संपत्‍ति में भागीदार हैं।
85 अमीर आधी दुनिया से भी rich

शेख मोज़ा बिन नस्सर अल मिस्नेड: कतर के राज्य द्वारा स्‍वीकृत अमीर शेख हमद बिन खलीफा अल थानी की तीन पत्‍नियों में से दूसरे नंबर पर हैं शेख मोज़ा बिन नस्सर अल मिस्नेड। नेचुरल गैस रिर्जव के व्‍यवसाय से जुड़े अमीर हमद की संपत्‍ति करीब 7 बिलियन ब्रिटिश पाउंड आंकी गयी है। जाहिर है उनकी पत्‍नी होने के नाते शेख मोजा भी काफी संपन्‍न हैं।

Interesting News inextlive from Interesting News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.