Mission daaka Fail

2012-01-21T22:45:34+05:30

PATNA शाम करीब सवा छह बजे अपराधी डाका डाल रहे थे हालांकि ऐन मौके पर डॉ राधिका रमण अपने घर आ गए और क्रिमिनल्स की प्लानिंग फेल हो गई उनके हाथ आया दो मोबाइल और चाबियों का एक गुच्छा

लगभग आधा दर्जन क्रिमिनल्स ने डॉक्टर के पिता रिटायर्ड एडीएम श्रीराम सकल सिंह पर पिस्टल की बट से हमला कर दिया। वह बुरी तरह जख्मी हो गए। अपराधी जब यह तांडव मचा रहे थे, उस समय उनकी नौकरानी सफीना किचेन में थी। उसने आवाज भी सुनी थी। उनके बेडरूम और बाथरूम में दिख रहे खून के छींटे वहां की हालात बयां कर रहे थे। घर में सिर्फ नौकरानी व डॉक्टर के पिता ही थे। डॉ राधिका रमण की पत्नी ममता सिंह भी पीएमसीएच में हैं।

जैसे ही शटर खोला
डॉक्टर राधिका रमण ने जैसे ही घर आकर गेट व गैरेज का शटर उठाया, तभी एक अपराधी आ गया। उसे देखते ही डॉक्टर चौंक पड़े। जब उन्होंने पूरा शटर उठाया, तो तीन अपराधी दरवाजे पर और दो अंदर दिखे। गेट बंद कर जैसे ही उन्होंने कुछ पूछा, अपराधी ने पिस्टल निकाल उनसे गेट खोलने को कहा। डर के मारे डॉ रमण ने गेट खोल दिया। घर के अंदर आए, तो पिता खून से लथपथ थे। जल्दी से उन्होंने बहन और पत्नी को फोन कर बुलाया। उन्होंने एडीजी हेडक्वार्टर रवीन्द्र कुमार को भी घटना की जानकारी दी।

खुला था पीछे का गेट
डॉक्टर रमण का कहना था कि उनके पीछे का गेट खुला था। अपराधी उधर से ही आये होंगे। उन्हें भी आश्चर्य है कि आखिर गेट खुला है, यह अपराधियों को कैसे पता चला?  डीएसपी लॉ एण्ड आर्डर एलएम शर्मा ने पहुंचकर मामले की छानबीन की। बुद्धा कॉलोनी थाने की पुलिस देर रात तक मामले की छानबीन करती रही। गौरतलब है कि अपराधियों ने जहां इस घटना को अंजाम दिया है, उसकी अगली गली में ही एक्स डीजीपी व मानवाधिकार आयोग के मेम्बर नीलमणि का आवास भी है।



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.