मैच के बाद धोनी बोले गेंद ले लो नहीं तो लोग कहेंगे कि रिटायरमेंट ले रहा

2019-01-19T11:51:17+05:30

आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में आखिरी वनडे जीतकर टीम इंडिया ने इतिहास रच दिया। मैच खत्म होने के बाद माही जब वापस लौटे तो उन्होंने अपने हाथ में पकड़ी गेंद बैटिंग कोच को पकड़ा दी ताकि पिछली बार की तरह कोर्इ ये न समझे कि वह रिटायरमेंट ले रहे।

कानपुर। भारत बनाम आॅस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज विराट सेना ने 2-1 से अपने नाम की। भारत की आॅस्ट्रेलियार्इ जमीं पर पहली बार द्विपक्षीय वनडे सीरीज जीत की असल वजह एमएस धोनी रहे। जिन्होंने पहले एडीलेड, फिर मेलबर्न में नाबाद अर्धशतक लगाकर भारत को जीत दिलार्इ। शुक्रवार को मेलबर्न में धोनी जब जीत दिलाकर वापस पवेलियन लौट रहे थे तो उन्होंने बैटिंग कोच संजय बांगड़ के साथ मजाक किया जिसका वीडियो अब वायरल हो रहा। दरअसल माही लौटते वक्त अपने हाथ में गेंद लिए हुए थे। जब वह बांगड़ के पास पहुंचे तो गेंद उनके हाथ में थमाते हुए बोले, 'गेंद ले लो नहीं तो लोग कहेंगे कि रिटायरमेंट ले रहा।' इसके बाद दोनों हंसने लगे।

See #Dhoni when gave ball to the coach and said " Ball lelo nahi to bolega retirement lerahe ho" 😂
even even #Dhoni wants to play more. #AUSvIND #INDvAUS #Chahal #Jadhav #WhistlePodu@ChennaiIPL pic.twitter.com/B5dMVQEzhR

— Lakshay Rohilla 🧢🇮🇳 (@lakshayrohilla3) 18 January 2019

धोनी को यह क्यों कहना पड़ा
बताते चलें धोनी ने ये बात इसलिए कही, क्योंकि पिछले साल इंग्लैंड में वनडे सीरीज खत्म होने के बाद धोनी ने अंपायर से गेंद मांग ली थी। जिसके बाद अफवाह उड़ने लगी कि माही क्रिकेट से संन्यास ले रहे हैं। तब कोच रवि शास्त्री ने इन बातों को सिरे से नकार दिया था। शास्त्री का कहना था, 'यह बिल्कुल बकवास है, एमएस कहीं नहीं जा रहा। धोनी ने अंपायर से बॉल इसलिए ली थी ताकि वह बॉलिंग कोच भरत अरुण को दिखा सकें। भारत को अब इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की लंबी टेस्ट सीरीज खेलनी है। ऐसे में माही गेंद का निरिक्षण कर यहां की कंडीशन से वाकिफ होना चाहते थे।' वैसे माही 2014 में ही टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह चुके हैं। धोनी ने भारत की तरफ से 90 टेस्ट खेले जिसमें उनके नाम 38.09 की औसत से 4876 रन दर्ज हैं। टेस्ट में धोनी ने 6 शतक और 33 अर्धशतक भी लगाए हैं उनका हाईएस्ट टेस्ट स्कोर 264 रन है।
वनडे में अभी भी बोल रहा बल्ला
टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने साल 2019 की काफी धमाकेदार शुरुआत की है। आॅस्ट्रेलिया में भारत की पहली वनडे सीरीज जीत के वह बड़े नायक रहे। आपको जानकर हैरानी होगी कि धोनी ने इस सीरीज में विराट कोहली से ज्यादा रन बनाए हैं। उनके बल्ले से तीन अर्धशतक सहित कुल 193 रन निकले। जबकि कोहली एक शतक सहित सिर्फ 153 रन बना पाए। यही नहीं इस सीरीज में माही भारत की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी बने। धोनी ने भारत को पहले एडीलेड आैर फिर मेलबर्न में जीत दिलार्इ।
इन 5 खिलाड़ियों के दम पर भारत ने आॅस्ट्रेलिया में पहली बार जीती वनडे सीरीज

आॅस्ट्रेलिया में पहली वनडे सीरीज जीतने में भारत के इतने कप्तान बदल गए, 39 साल से था इंतजार

 


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.