धोनी के बलिदान बैज के समर्थन में बोर्ड और सरकार ICC ने लगाई है रोक

2019-06-07T18:26:10+05:30

आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 में एमएस धोनी के बलिदान बैज वाले ग्लव्स पहनने पर पूरा देेश उनके साथ खड़ा है। आईसीसी की मानें तो धोनी ने नियम तोड़ा है। मगर भारत सरकार से लेकर बीसीसीआई और तमाम सेलेब्रिटीज धोनी के बलिदान बैज का सपोर्ट कर रहेे है।

कानपुर। आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज एमएस धोनी बलिदान बैज वाला ग्लव्स पहनकर मैदान में उतरे थे। धोनी जब विकेटकीपिंग कर रहे थे तो उनके ग्लव्स में भारतीय पैरामिलिट्री सेना से जुड़ा बलिदान बैज का चिन्ह बना हुआ था। अब आईसीसी ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को धोनी से ये ग्लव्स हटाने को कहा है मगर बीसीसीआई फिलहाल माही के साथ खड़ा है।

बोर्ड ने आईसीसी को लिखी चिठ्ठी
सीओए चीफ विनोद राय ने कहा, 'बोर्ड ने आईसीसी को बलिदान बैज से रोक हटाने के लिए मेल की है। आईसीसी के नियमों के मुताबिक खिलाड़ी खेल के दौरान किसी तरह की काॅमर्शियल, धार्मिक और मिलिट्री लोगो का इस्तेमाल नहीं कर सकता। मगर धोनी के मामले में ऐसा कुछ भी नहीं है।'

खेल मंत्री भी समर्थन में

भारत सरकार के खेल मंत्री किरन रिजिजु भी माही के समर्थन में उतर आए। रिजिजु ने पीटीआई से कहा, 'भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को धोनी के साथ खड़े रहना चाहिए। मुझे उम्मीद है कि बोर्ड जल्द से जल्द इस मसले को सुलझा लेगा। धोनी की पहचान देश की पहचान है इसमें कोई राजनीति नहीं है। देश के सम्मान से कोई समझौता नहीं किया जाएगा।'

सुरेश रैना का भी मिला साथ

टीम इंडिया के बाएं हाथ के बल्लेबाज सुरेश रैना ने भी माही को सपोर्ट किया। रैना टि्वटर पर लिखते हैं, 'जब हम मैदान पर होते हैं तो देश का प्रतिनिधित्व करते हैं। ऐसे मेंं हम देश के सम्मान के लिए हर संभव कोशिश करते हैं। हम सभी को अपने देश से प्यार है और धोनी ने भी यही किया। हमें अपने वीर जवानों को सैल्यूट करना चाहिए। यह देशभक्ति है न कि नेशनलिज्म।'
योगेश्वर दत्त्त ने किया सपोर्ट
2010 और 2014 काॅमनवेल्थ गेम्स में भारत के लिए गोल्ड मेडल जीतने वाले पहलवान योगेश्वर दत्त ने भी माही का समर्थन किया। दत्त ने टि्वटर पर लिखा, 'बलिदान बैज को हटाने की मांग करना भारतीय सेना का अपमान करना है। हम सभी धोनी के साथ हैं।'
ICC World Cup 2019 : धोनी को मैच खेलना है तो उतारने होंगे ये ग्लव्स, ICC ने लगाई रोक
वर्ल्ड कप खेलना चाहते हैं डिविलियर्स, टीम मैनेजमेंट ने कर दिया मना
आरपी सिंह ने कहा ऐसा
भारत के तेज गेंदबाज रहे आरपी सिंह लिखते हैं, 'मैं समझ नहीं पा रहा हूं कि धोनी के बलिदान बैज से आईसीसी को क्या आपत्ति है। माही के फैंस इससे प्रेरणा लेते हैं। यही नहीं धोनी खुद लेफ्टिनेंट कर्नल हैं।'



This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.