इंस्पेक्टर के बहन की हत्या लूटपाट

2018-09-12T12:02:37+05:30

- तिवारीपुर के सूर्य विहार कॉलोनी में फैली रही सनसनी

- मार्निग वॉक से लौटे पति की सूचना पर पहुंची पुलिस

GORAKHPUR: सूर्य विहार कॉलोनी में ब्यूटी पार्लर चलाने वाली रेनू सिंह की मंगलवार तड़के सिर कूंचकर हत्या कर दी गई। खून से सनी उनकी डेड बॉडी बेड पर मिली। मॉर्निग वॉक से लौटे पति सुनील सिंह के शोर मचाने पर लोगों को घटना की जानकारी हुई। एसएसपी शलभ माथुर, एसपी सिटी विनय कुमार सिंह सहित अन्य पुलिस अधिकारियों ने मौका मुआयना किया। फॉरेंसिक टीम ने घटना स्थल से सबूत जुटाए। डॉग स्कवायड की मदद से बदमाशों का सुराग लगाने की कोशिश हुई। पति के घर से बाहर जाने के एक घंटे के भीतर हुई वारदात से पूरे मोहल्ले में सनसनी फैली रही। महिला के भाई अजीत सिंह गोरखपुर जीआरपी पोस्ट के थाना प्रभारी हैं। घटना की सूचना पर उनके नात- रिश्तेदारों के संग पुलिस कर्मचारियों का तांता लगा रहा। सुनील सिंह की तहरीर पर अज्ञात बदमाशों के खिलाफ केस दर्ज करके पुलिस जांच में जुटी है.

लौटे पति तो हो चुकी थी पत्‍‌नी की हत्या

संतकबीर नगर जिले के धनघटा, मटौली निवासी सुनील सिंह का ननिहाल गोला एरिया में है। नवासे में उनको काफी प्रॉपर्टी मिली है। लेकिन वह पत्‍‌नी और बच्चों संग गोरखपुर रहने आ गए थे। सात साल से सूर्य विहार कॉलोनी में दो मंजिला मकान बनवाकर रह रहे थे। बेरोजगार होने से वह दो टेंपो खरीदकर चलवा रहे थे। लेकिन नुकसान होने पर उन्होंने टेंपो बेच दिया। घर के ग्राउंड फ्लोर पर उनकी पत्‍‌नी रेनू सिंह ने ब्यूटी पार्लर खोल लिया था। ब्यूटी पार्लर के बगल के कमरे को किराए पर उठा दिया। पत्‍‌नी की तबियत खराब होने से वह कई दिनों से टहलने नहीं जा रहे थे। काफी दिनों के बाद मंगलवार सुबह साढ़े तीन बजे सुनील सिंह मार्निग वॉक पर चले गए। कमरे में बेड पर रेनू सो रही थीं। करीब चार बजे लौटे तो बेड पर खून से सनी पत्‍‌नी की डेड बॉडी देखकर शोर मचाने लगे। बदमाशों ने महिला के सिर पर हथौड़े जैसी वस्तु से वार करके जान ले ली थी। महिला की हत्या की सूचना पाकर पुलिस अधिकारी पहुंचे।

लूटपाट की नीयत, क्लू तलाश रही पुलिस

जांच में सामने आया कि रेनू के कान का एक झुमका फर्श पर गिरा हुआ था। कमरे में आलमारी, मेज और अन्य जगहों पर रखा सामान बिखरा पड़ा था। आशंका जताई जा रही है कि लूट की नीयत से घर में घुसे बदमाशों ने महिला को मार डाला। गहने सहित कई अन्य सामान समेटकर फरार हो गए। हालांकि कितने के गहने और रुपए चोरी हुए हैं इसकी सटीक जानकारी पुलिस को नहीं मिल पा रही। पुलिस अधिकारियों ने पति के अलावा नीचे के कमरे में परिवार संग रहने वाले किराएदार रीतेश वर्मा से बातचीत की। कंप्यूटर ऑपरेटर पद पर काम करने वाला रीतेश वर्मा दुर्गाबाड़ी, रुदलपुर की भूमि बेचकर पिछले साल नवंबर माह से सुनील सिंह के मकान में रहता था। घर की नौकरानी मंशा भी कोई जानकारी नहीं दे सकी। लोगों ने पुलिस को बताया कि सोमवार शाम एक लड़का भोजन पकाने के लिए आया था। घटना के पर्दाफाश के लिए पुलिस कई बिंदुओं पर जांच कर रही है।

बगल में परिवार संग रहते हैं रेनू के भाई

महिला के भाई अजीत सिंह जीआरपी गोरखपुर पोस्ट के प्रभारी हैं। उनका मकान बहन के मकान से थोड़ी दूरी पर है। इंस्पेक्टर के बहन की हत्या की सूचना से महकमे के लोग भी जमा हो गए। लोगों ने पुलिस को बताया कि रेनू का बेटा शिवम उर्फ गोलू ने इसी साल इंटर पास किया है। इसलिए वह दिल्ली में रहकर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहा है। मेडिकल में अनफिट होने से सुनील को कोई सरकारी जॉब नहीं मिल सकी थी। इसलिए पत्‍‌नी ने फेमस इंस्टीट्यूट से ब्यूटीशियन का कोर्स सीखकर घर पर पार्लर चलाने का फैसला लिया था।

एक घंटे में खत्म हो गया सारा खेल

रेनू के पति ने पुलिस को बताया कि करीब एक घंटे में वह घर लौटे। तब तक सारा खेल खत्म हो चुका था। रेनू को अपेनडिक्स की शिकायत थी। दो माह पूर्व ही डॉक्टर ने उनका ऑपरेशन किया था जिसके बाद वह बेड रेस्ट पर थीं। महिला की हत्या करने वाले बदमाश ने भारी वस्तु से सिर के पीछे तीन बार वार किया था। दीवारों पर भी खून के छींटे पसरे हुए थे। जांच के दौरान फॉरेंसिक टीम को कोई ऐसा क्लू नहीं मिला जिससे लूटपाट की पुष्टि हो सके। डॉग स्कवायड कमरे से निकलकर मेन रोड तक गया। फिर वहां से लौटते हुए तकिया कवलदह पानी की टंकी के पास तक जाकर कमरे में लौट आया। सुनील सिंह ने बताया कि जब वह टहलने जा रहे थे। तब तीन अपरिचित लोगों को कॉलोनी के मोड़ पर देखा था। सवाल खड़ा होता है कि आखिर वह कौन लोग थे जिनको महिला के घर में अकेले मौजूद होने की जानकारी थी। कातिल को यह पता था कि घर में महिला अकेली सोई है। महिला के बदन पर चोट के निशान बता रहे थे कि जान बचाने के लिए उसने संघर्ष भी किया था। पोस्टमार्टम में बदन पर कई जगह काला निशान मिला। बताया जाता है कि ऐसे निशान डंडे की चोट से हो सकते हैं।

वर्जन

महिला के मर्डर की छानबीन चल रही है। कातिलों का सुराग लगाने के लिए कई बिंदुओं पर जांच की जा रही है। जल्द ही घटना का पर्दाफाश कर लिया जाएगा।

- शलभ माथुर, एसएसपी

inextlive from Gorakhpur News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.