ऑनलाइन हाउस टैक्स पहले दिन जीरो पेमेंट

2019-04-23T06:00:51+05:30

-मंडे को पेमेंट नहीं, लेकिन क्वेरीज का दिनभर आई

-निगम का दावा, अगले एक-दो दिनों में नजर आने लगेगा असर

देहरादून, नगर निगम क्षेत्र में करीब 80 हजार हाउस टैक्सपेयर के लिए मंडे से नगर निगम प्रशासन ने ऑनलाइन पेमेंट की शुरुआत कर दी है। हालांकि पहले दिन देर शाम तक निगम के पास कोई ऑनलाइन पेमेंट दर्ज नहीं की गई है। अधिकारी बताते रहे हैं कि ऑनलाइन हाउस टैक्स का सही आकलन अगले दो-तीन दिनों स्पष्ट हो पाएगा। बताया गया है कि शुरुआत के पहले दिन टैक्सपेयर्स की ओर से जमकर क्वेरीज निगम के टैक्स डिविजन में हासिल हुई हैं।

फिलहाल ऑफलाइन सुविधा भी

ऑनलाइन हाउस टैक्स को लेकर नगर निगम पिछले चार-पांच वर्षो से लगातार प्रयासरत था। लेकिन, योजना परवान नहीं चढ़ पा रही थी। काफी जद्दोजहद के बाद अब निगम को ऑनलाइन हाउस टैक्स की व्यवस्था शुरू करने में सफलता मिली है। मंडे को इसकी शुरुआत की गई। पहले दिन देर शाम तक निगम को हाउस टैक्स का ऑनलाइन कोई भी पेमेंट नहीं हो पाया। टैक्स निरीक्षक विनय प्रताप ने बताया कि शुरुआत हो चुकी है, लेकिन क्वेरीज की संख्या में खासा इजाफा देखने को मिला है। फिलहाल निगम ने अपने सभी टैक्सपेयर को लिंक शेयर किया है। देहरादून हाउस टैक्स डॉट इन से घर बैठे कंज्यूमर्स अपना टैक्स पेमेंट कर सकते हैं। बताया गया है कि ऑनलाइन टैक्स में अगले दिनों में तेजी आने की उम्मीद है। निगम का कहना है कि ऑनलाइन टैक्स के लिए ऑफलाइन पूरी तरह से बंद नहीं किया गया है। ऑनलाइन ट्रेक पर आने के बाद ऑफलाइन व्यवस्था बंद करने पर विचार किया जा सकेगा।

अप्रैल में 5 परसेंट एक्स्ट्रा रिलीफ

निगम प्रशासन ने टैक्स के बकाएदारों के बिल के प्रिंट आउट भी बकायदा टैक्स ऑफिस में निकाले हैं। टैक्सपेयर्स अपने बिल को पूछताछ के बजाय सीधे प्रिंट आउट में देखने के बाद पेमेंट कर सकते हैं। वहीं निगम ने वर्ष 2018-19 का बकाया हाउस टैक्स भी जोड़कर हाउस टैक्स पे करने की उम्मीद जताई है। कंज्यूमर्स के भुगतान के लिए निकाले गए प्रिंट हाउस में यह भी स्पष्ट किया गया है कि एक माह के भीतर टैक्स पे नहीं किया गया तो पहले नोटिस और उसके बाद कुर्की के वारंट भी जारी किए जा सकते हैं। बिल प्राप्ति के एक माह के भीतर भुगतान करने पर वर्तमान मांग पर 20 परसेंट की छूट दी जाएगी। लेकिन, यह भी कहा गया है कि निर्धारित अवधि में टैक्स पे नहीं किया गया तो 12 परसेंट एनुवल की दर से सेपरेट इंट्रेस्ट भी वसूला जाएगा। यह भी कहा गया है कि हाउस टैक्स अप्रैल माह तक भुगतान कर लिया जाता है तो 5 परसेंट अतिरिक्त छूट देय होगी।

इस बार 30 करोड़ का टारगेट

इस फाइनेंशियल ईयर में नगर निगम प्रशासन ने हाउट टैक्स का टारगेट 30 करोड़ रुपए सुनिश्चित किया है। जबकि बीते फाइनेंशियल ईयर में यह टारगेट 25 करोड़ था। दावा है कि यह हासिल कर लिया गया है। जिसमें बड़े टैक्स पेयर के तौर पर एफआरआई रहा। जिसने दो करोड़ का टैक्स पे किया।

अब मलिन बस्तियां भी निशाने पर

अधिकारियों की मानें तो अबकी बार मलिन बस्तियों के 40 हजार फैमिलीज से भी हाउस टैक्स वसूलने की तैयारियां हैं। सूत्र बताते हैं कि लोकसभा चुनाव के लिए प्रभावी आदर्श आचार संहिता के बाद मलिन बस्तियां से हाउस टैक्स वसूली की शुरुआत हो सकती है। बताया गया कि मलिन बस्तियों से गत तीन-चार वर्षो का हाउस टैक्स है, जो करीब चार करोड़ तक पहुंचने की उम्मीद है।

inextlive from Dehradun News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.