कुंभ में चलेगा राष्ट्रीय गंगा सत्याग्रह अभियान

2018-11-06T06:00:15+05:30

प्रयागराज पहुंची राष्ट्रीय गंगा सद्भावना यात्रा का जगह- जगह स्वागत

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: गोमुख से गंगा सागर तक के लिए निकली राष्ट्रीय गंगा सद्भावना यात्रा सोमवार को प्रयागराज पहुंची। तेलियरगंज में यात्रा का स्वागत आर्यशेखर एवं सुशील यादव की टीम ने किया। बैंक रोड के बाद आनंद भवन पर इविवि के छात्र नेता जनमिजय एवं कृष्ण कुमार तिवारी ने स्वागत किया। देर शाम सभी लोग पैदल मार्च करते हुए संगम तट पहुंचे। वहां त्रिवेणी आरती परिवार के प्रदीप पांडेय की अगुवाई में गंगा आरती का आयोजन किया गया।

जारी रहेगा आन्दोलन

यात्रा के प्रमुख जलपुरूष राजेन्द्र सिंह ने कहा कि चार सूत्री मांगों को लेकर यात्रा निकाली जा रही है। मांग है कि राष्ट्रीय गंगा कानून पर्यावरणविदों द्वारा बनाया जाए, गंगा भक्त परिषद का गठन हो, गोमुख से हरकी पैड़ी तक प्रस्तावित बांध पर रोक लगाई जाए, नए बांधों का निर्माण ना हो तथा गंगा किनारे को अति संवेदनशील जोन घोषित किया जाए। उन्होंने कहा कि कुंभ में भी राष्ट्रीय गंगा सत्याग्रह अभियान चलाया जाएगा। यात्रा में सुरेश रैकवार, रामधीरज, मनीष, पंकज, सागवान, रविकांत पांडेय, प्रेम, सत्येंद्र, दुबे, अभिनव अवस्थी, श्रीकांत पांडे, सुनील यादव, अनिरुद्ध सिंह, कमल कुमार, अनुभव सिंह छोटू, निखिल श्रीवास्तव, विशाल सिंह, ज्ञान प्रकाश पटेल, परीक्षित शर्मा, रवि राजभर, हरदेव सिंह, सूरज तिवारी, वेद प्रकाश सिंह, ओपी शुक्ल, अनूप सिंह आदि मौजूद थे.

स्वामी सानंद का अनिश्चितकालीन आमरण अनशन गंगा दशहरा पर 22 जून से लगातार जारी था। अनशन के 111वें दिन उनका देहांत एम्स ऋषिकेश में हो गया। इसके बाद यात्रा निकाली जा रही है.

हरदेव सिंह, एडवोकेट हाईकोर्ट

स्वामी सानंद की मृत्यु के बाद भी गंगा को लेकर चलाया जा रहा अभियान रुका नहीं है। उनकी प्रेरणा से अभियान को और व्यापकता मिली है.

रामबाबू तिवारी, राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी, राष्ट्रीय गंगा सत्याग्रह

चार प्रमुख मांगों को लेकर गोमुख से गंगासागर तक गंगा सद्भावना यात्रा निकाली जा रही है। इसे बड़ी संख्या में लोगों का समर्थन मिल रहा है।

सुनील पटेल

यात्रा की अगुवाई जल पुरुष राजेंद्र सिंह कर रहे हैं। यह यात्रा सोमवार को प्रयागराज पहुंची। यात्रा का स्वागत शहर में कई जगहों पर किया गया। इसमें शहरवासी शामिल हुए.

अभिषेक

यात्रा को सफल बनाने के लिए इलाहाबाद विश्वविद्यालय केन्द्रीय पुस्तकालय के लान में गंगा चौपाल लगाकर गंगा सद्भावना यात्रा के उद्देश्यों पर चर्चा हुई। इसमें इविवि के छात्र शामिल हुए।

अंजनी

यात्रा स्वामी सानंद को सच्ची श्रद्धांजलि है। जब तक उनकी मांगों को सरकार मान नहीं लेती। तब तक राष्ट्रीय गंगा सत्याग्रह सम्पूर्ण भारत में जारी रहेगा.

कृष्ण कुमार

inextlive from Allahabad News Desk


This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy  and  Cookie Policy.